News Nation Logo
Banner

जब भी वायरल फीवर सताए, बचने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

आज कल वायरल फीवर बहुत ज्यादा बढ़ गया है. हर दूसरे इंसान में वायरल फीवर के सिंप्टम्स नजर आ रहें हैं. सर दर्द, सर्दी-जुकाम, लाल आंखें, बॉडी पेन, ये सभी वायरल फीवर के मेन सिंप्टम्स है.

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 13 Sep 2021, 03:50:42 PM
Viral Fever

Viral Fever (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

आज कल वायरल फीवर बहुत ज्यादा बढ़ गया है. हर दूसरे इंसान में वायरल फीवर के सिंप्टम्स नजर आ रहें हैं. सर दर्द, सर्दी-जुकाम, लाल आंखें, बॉडी पेन, ये सभी वायरल फीवर के मेन सिंप्टम्स है. इन्हीं के चलते बॉडी में वीकनेस आ जाती है और एक लंबे टाइम तक वेट लॉस, चिड़चिड़ापन, भूख ना लगने जैसी प्रॉब्लम्स आपका पीछा नहीं छोड़ती. ऐसे में आप हड़बड़ाहट में डॉक्टर के पास भागने लगते हैं. तो जरा रुकिए जनाब अगर डॉक्टर के पास जाने की जरूरत ही ना पड़े तो, जी हां सही सुना आपने. वायरल फीवर के बढ़ते हुए खतरे को देखते हुए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे लेकर आए है जिनसे आप घर पर रहकर ही अपने फीवर से मुक्ति पा सकते हैं. 

यह भी पढ़े : अगर रोग खाएंगे ये बीज, झट से कंट्रोल हो जाएगी डायबिटीज

वायरल फीवर (viral fever) को घर में ठीक करने के लिए गिलोय (giloy) सबसे फेमस घरेलू ट्रीटमेंट (treatment) है. जिसका इस्तेमाल कई हेल्दी फायदों के लिए किया जाता है. बुखार से फ्लू (influenza) हो सकता है और इंफेक्शन (infection) से लड़ना भी बेहद मुश्किल हो जाता है. अगर किसी इंसान की इम्यूनिटी कमजोर हो, तो ये खतरा और बढ़ जाता है. इसलिए गिलोय बुखार को रोकने के साथ-साथ घर पर आसानी से उसका इलाज करने में भी आपकी दोस्त बन सकता है.

वहीं वायरल फीवर (Viral Fever) से निजात पाने के लिए तुलसी (Basil) की पत्तियों का भी इस्तेमाल किया जाता है. तुलसी (Basil) की पत्तियों को चबाने से बॉडी में फैल रहे वायरस से छुटकारा मिल सकता है. तो अब आपको बता देते हैं इसे बनाने का सिंपल-सा तरीका. इसे बनाने के लिए 10 से 15 तुलसी (Basil) के पत्तों को एक चम्मच लौंग के चूरे के साथ, एक लीटर पानी में डालकर उबाल लें. और बस तब तक उबालें जब तक वो पानी आधा ना रह जाए. पानी के ठंडा होते ही उसे छाने और हर एक घंटे में उसे पीते रहे. इससे कुछ घंटों में ही काफी आराम लगने लगेगा. 

यह भी पढ़े : अजवाइन के पानी के फायदे सुन, आपको भी लग जाएगी इसे पीने की धुन

सर्दी-जुकाम हो या हो बुखार ऐसे में गर्मा-गर्म अदरक की चाय का नाम जुबान पर ना आए. ये तो हो ही नहीं सकता. अदरक एक अमेजिंग इम्युनिटी बूस्टर (immunity booster) है. ये बुखार से निपटने में मदद करता है. साथ ही ये रेस्पिरेट्री सिस्टम (respiratory system) को खांसी और सर्दी जैसी रुकावट से मुक्त करा सकती है. अदरक एक इम्यूनिटी बूस्टर है, जो बुखार को मैनेज कर सकती है. ये एक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जो सिंपल सर्दी और फ्लू के कई दूसरे सिंप्टम्स के इलाज में भी मदद करती है.

वहीं धनिए की चाय भी एक अच्छा ऑप्शन है. धनिए की चाय वायरल फीवर से छुटकारा दिलाने में काफी मददगार साबित होती आई है. इसमें कई मेडिसिनल प्रोपरटीज (medicinal properties) पाई जाती हैं. जो हमारी हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद है. इसलिए जब भी वायरल फीवर (Viral Fever) लगे तो धनिये (Coriander Tea) की चाय जरूर पिएं.

यह भी पढ़े : आंखों की रोशनी रखनी है बरकरार, तो बस ये फ्रूट जूस पिएं जनाब

बुखार में अदरक की चाय तो आप पीते ही है. लेकिन, इसके साथ ही अगर आप हल्दी और सौंठ का पाउडर ले लें तो इससे और जल्दी आराम मिलेगा. सौंठ का मतलब अदरक का पाउडर और अदरक में होते है फीवर को ठीक करने वाली भरपूर क्वालिटीज. इसलिए बस एक चम्मच काली मिर्च के साथ एक छोटी चम्मच हल्दी, थोड़ा-सा सौंठ का चूरा और थोड़ी-सी चीनी मिला लें. अब इसे एक कप पानी में डालकर गर्म करें, फिर ठंडा करके झट-पट पी जाएं. इससे वायरल फीवर खत्म होने में काफी मदद मिलेगी.

First Published : 13 Sep 2021, 11:18:31 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.