News Nation Logo

न फौज न ISI अब अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद के इशारे बनते हैं 'पाकिस्तान में प्रधानमंत्री'!

मियांदाद ही ऐसा व्यक्ति है जो जब चाहे तब दाऊद के घर जा सकता है उससे कभी भी मिल सकता है अगर वो एक इशारा भी कर दे तो पाकिस्तान के बड़े से बड़े सेलिब्रिटी को भी जहन्नुम पहुंचा सकता है.

Written By : मनोज अतलस | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 13 Aug 2020, 03:36:25 PM
Dawood Ibrahim

दाऊद इब्राहीम (Photo Credit: file)

highlights

  • कभी 'वो' लाशें गिराता था
  • अब 'वो' सरकार गिराता है!
  • कभी 'वो' गैंगस्टर बनाता था
  • अब पाक में PM बनाता है!
  • बाजवा और इमरान खान..
  • उसके इशारे पर नाचते हैं!

:

पाकिस्तान क्रिकेट टीम को पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद (Javed Miandad) आए दिन अपनी नई-नई बयानबाजियों के लिए जाने जाते हैं हाला में ही उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pak PM Imran Khan) को लेकर इस बात का दावा कर दिया है कि पाकिस्तान का प्रधानमंत्री उन्हें जावेद मियांदाद ने बनाया है. इतना ही मियांदाद ने तो यहां तक चैलेंज किया है कि अगर पाकिस्तानी पीएम इमरान खान में दम हो तो इस बात से इंकार करके दिखाएं. पाकिस्तान में प्रधान मंत्री कौन बनेगा इस बात को लेकर ये सनसनीखेज खुलासा किया है जावेद मियांदाद ने. जावेद मियांदाद भारत के मोस्ट वांटेड अपराधी और बंबई बम कांड के भगोड़े दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) का समधी है. दाऊद अपने रिश्तेदार की बात को कभी नहीं टालता है. मियांदाद ही ऐसा व्यक्ति है जो जब चाहे तब दाऊद के घर जा सकता है उससे कभी भी मिल सकता है अगर वो एक इशारा भी कर दे तो पाकिस्तान के बड़े से बड़े सेलिब्रिटी को भी जहन्नुम पहुंचा सकता है.

जावेद मियांदाद ने तो इस बात का दावा करते हुए पाक पीएम से कहा है कि, तुम्हें ब्रुनेई में ही याद आ गया था, मेरे घर पर आकर तुम प्रधानमंत्री भी बनकर गये थे. आज मैं बता रहा हूं. इसे इनकार करके बताओ. क्या बोला था तुम्हें, आज वो लोग भी ताने देते हैं मुझे. मुझे ना आने की जरूरत है. ना मिलने की जरूरत है और ना कुछ करने की जरूरत है.  मियांदाद के इस बयान के बाद इमरान को पीएम बनाने के दावे के साथ साथ ये चैलेंज भी दे दिया. कि इमरान में हिम्मत हो तो वो इस दावे को खारिज करके दिखाएं. हैरत ये कि इतना सुनने के बाद भी पाकिस्तानी पीएम इमरान का अब तक कोई बयान नहीं आया है. क्योंकि खुद जावेद मियांदाद ने ये बता दिया है कि 'वो' यानी दाऊद इमरान खान से नाराज़ है.

दाऊद और जावेद मियांदाद हैं रिश्तेदार
आपको बता दें कि पाकिस्तान में ये चर्चा आम है कि मियांदाद का इशारा दाऊद की तरफ है. दरअसल दाऊद इब्राहिम और जावेद मियांदाद आपस में रिश्तेदार हैं. साल 2006 में दाऊद इब्राहिम की बेटी माहरुख का निकाह जावेद मियांदाद के बेटे जुनैद से हुआ था. इस लिहाजा से दोनों आपस में समधी हुए. मियांदाद ने पाक पीएम पर हमला जारी रखते हुए कहा कि, रोजगार तुम दे नहीं सकते. सबको बेरोजगार किया हुआ है. अब आई समझ मेरी उस दिन की बात की. मैं तुम्हारा कप्तान था तुम मेरे कप्तान नहीं थे. अब मैं पॉलिटिक्स में भी आऊंगा और बताऊंगा तुम बात कर सको तो बताना मुझे तुम्हें चलाने वाला ही मैं था. अब पता नहीं क्या बनकर बैठे हो अल्लाह माफ करे. खुदा बनकर बैठ गये हो. आपको बता दें कि इमरान की इस तरह हुई बेइज्जती अब पाक मीडिया में सुर्खियां बन चुकी हैं और इस बेइज्जती पर इमरान खामोश हैं. इमरान ने तो इस खुलासे पर अबतक जबान ही नहीं खोली है.

यह भी पढ़ें-दाऊद का सहयोगी पैरोल पर रिहा अपराधी अवैध हथियार के साथ गिरफ्तार

मियांदाद ने इमरान को लाइव शो में कहा था भिखारी
मियांदाद के खुलासे के बाद से पाकिस्तान में सियासी हलचल तेज है और हर चाक चौराहे पर इसी बात की चर्चा है कि क्या पाकिस्तान में दाऊद ही पीएम बनाता और हटाता है और इस चर्चा को इमरान की खामोशी हवा दे रही है क्योंकि करीब 8 महीने पहले जब इमरान को मियांदाद ने लाइव शो में भिखारी कहा था तब भी इमरान चुप्पी साध गये थे. मियांदाद के खुलासे से जाहिर है कि पाकिस्तान में दाऊद अब सबसे ऊपर हो गया है इमरान-बाजवा सब उसके इशारे पर नाचते हैं. दाऊद जब चाहेगा इमरान की कुर्सी खा जाएगा. यानी पाकिस्तान में तख्तापलट बाजवा के हाथ में नहीं. बल्कि दाऊद के इशारे पर होगा. अगर दाऊद नाराज़ हैं तो इमरान की कुर्सी जाना तय है। आगे बताएंगे कि इमरान खान के बाद अब दाऊद किसे बनाने वाले हैं पाकिस्तान का नया पीएम.

यह भी पढ़ें-दिल्ली क्राइम ब्रांच ने दाऊद इब्राहिम का गुर्गे को किया गिरफ्तार, 22 लाख की पिस्टल जब्त की

दाऊद मियांदाद के साथ मिलकर करेगा पाक पर हुकूमत
इमरान खान के पीएम बनने के महज दो साल बाद ही सही लेकिन मियांदाद ने जो खुलासा किया है उसने इमरान के होश उड़ा दिए हैं. दरअसल दाऊद के समधी जावेद मियांदाद ने ऐलान कर दिया है कि इमरान का टाइम खत्म, अब अपना टाइम आएगा. इधर पाकिस्तानी अवाम की नाराजगी और उधर मियांदाद का राजनीति की पिच पर उतरने का ऐलान के साथ में मियांदाद की दाऊद से रिश्तेदारी लिहाज़ा पाकिस्तान में शोर है कि अगला पीएम अब दाऊद अपने समधी को ही बनाएगा और दाऊद के दाएं फौज तो बाएं ISI है.

यह भी पढ़ें-सुशांत की मौत में दाऊद का हाथ, एक महीने में बदली 50 सिम! पूर्व रॉ अधिकारी का चौंकाने वाला खुलासा

मियांदाद के अहसान तले दबे हैं पाक पीएम इमरान
तो क्या अब दाऊद के साथ मिलकर मियांदाद पूरे पाकिस्तान पर हुकूमत करेगा. क्योंकि इमरान तो मियांदाद के अहसान तले दबे हुए हैं और ऐसा लंबे वक्त से चला आ रहा है. पाकिस्तानी पीएम इमरान खान पहले भी इस बात को बोल चुके हैं कि, मैं टीम को कहता था कि मुझे अस्पताल को मशहूर करना है तो सबसे ज्यादा मैं जावेद मियांदाद से सिफारिश लगवाता था कि तुम समझाओ टीम को कि मुझे अस्पताल की ज़रूरत है. शायद इसी दोस्ती में कभी जावेद मियांदाद ने इमरान को पीएम बनवाने के लिए दाऊद से सिफारिश की थी.

यह भी पढ़ें-ड्रग्स के धंधे में दाऊद इब्राहिम भी कहीं नहीं ठहरता सहनन के सामने, नारकोटिक्स की दुनिया का बेताज बादशाह

विरोधियों को जेल भेजने वाले इमरान मियांदाद के सामने हो जाते हैं चुप
22 साल सियासत की सड़क पर भटकने के बाद तब कहीं जाकर इमरान पर पाक फौज मेहरबान हुई थी और उसे पीएम की कुर्सी का दीदार हुआ था. लेकिन इमरान का वही दोस्त अब दुश्मन बन चुका है. जावेद मियांदाद ने इमरान को लेकर ये भी कहा था कि तुम्हारे अलावा तो किसी को पता नहीं, कोई ऑक्सफोर्ड नहीं गया, कोई कैम्ब्रिज नहीं गया, किसी ने कोई यूनिवर्सिटी नहीं की, सोचो अपने आसपास को लेकर सोचो जिन लोगों को लेकर आए हुए हो. सोचो ये तो बाद में पता चलेगा कि कौन खाता था कौन नहीं खाता था. ये पाकिस्तान है बाद में बोलते हैं पहले नहीं बोलते. देश का तुम्हें ख्याल ही नहीं है.क्या हो रहा है क्या नहीं हो रहा है. आपको बता दें कि बीते कुछ दिनों से इमरान अपने विरोधियों को एक एक कर जेल भेज रहे हैं, लेकिन मियांदाद के सामने उनकी ज़बान तक नहीं खुलती.

यह भी पढ़ें-कोरोना से मारा गया डी-कंपनी का सर्वेसर्वा दाऊद इब्राहिम, सोशल मीडिया पर अटकलें तेज

शाहिद आफरीदी को भारत की तारीफ करने पर मियांदाद ने लगाई थी लताड़
पाकिस्तान में हुई एक और घटना का जिक्र किया जाए तो बता दें कि साल 2016 में जब पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद आफरीदी ने भारत की तारीफ की थी तब मियांदाद ने आफरीदी को बुरी तरह से लताड़ा था और जब आफरीदी ने इसका विरोध किया तो क्या हुआ आइए आपको बताते हैं. आफरीदी ने कहा था, हमने हमेशा भारत में खेलने का लुत्फ उठाया है और भारतीय दर्शकों ने हमें पाकिस्तानी दर्शकों से कहीं ज्यादा प्यार दिया है.' इसके बाद जावेद मियांदाद ने नाराजगी जताते हुए कहा कि, ‘इन क्रिकेटरों को इस तरह की चीज कहने से पहले खुद पर शर्म करनी चाहिए, शर्म करो'

यह भी पढ़ें-दाऊद इब्राहिम को बड़ा झटका, एशिया की सबसे बड़ी ड्रग जब्ती में डी-कंपनी का कनेक्शन

शाहिद आफरीदी पर दिखाई दिया था दाऊद का खौफ
शाहिद आफरीदी के जावेद मियांदाद द्वारा विरोध करने पर मियांदाद के समधी डॉन दाऊद इब्राहीम का एक फोन कॉल जाता है जिसके बाद क्या कुछ हुआ वो पूरे पाकिस्तान ने लाइव देखा था. शाहिद आफरीदी पाकिस्तानी मीडिया के साथ जावेद मियांदाद के घर पहुंचते हैं उनकी झुकी हुई नज़रें चेहरे पर खौफ़ और बंधे हुए हाथ ही ये बता देने के लिए काफी थे कि उनकी क्या हालत हो गई है. आपको बता दें कि पाकिस्तान के इस मशहूर क्रिकेटर को इतने खौफ़ में किसी ने इससे पहले नहीं देखा था. अक्टूबर 2016 का में सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस वीडियो को देखकर दाऊद के खौफ का अंदाजा लगाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें-दाऊद के सहयोगी टाइगर हनीफ के प्रत्यर्पण का अनुरोध ब्रिटेन ने खारिज किया

दाऊद के एक कॉल पर घुटनो के बल आ गए थे आफरीदी!
पाकिस्तान में मियांदाद का जलवा दिखाने के लिए 4 साल पुराना वीडियो ही काफी. आइए बताएं कि आफरीदी के साथ क्या हुआ. दाऊद ने हुक्म दिया कि लाइव टीवी पर आफरीदी मियांदाद के पांव पकड़ कर माफी मांगेंगे जिसके बाद घबराते सकुचाते अफरीदी ने ये किया भी शाहिद अफरीदी, मियांदाद के घर जा पहुंचा और पाकिस्तान का पूरा मीडिया उनके साथ था इन तस्वीरों को तमाम टीवी चैनल्स पर लाइव दिखाया जा रहा था और अफरीदी का हालत देखकर साफ पता चल रहा था कि वो बुरी तरह डरा हुआ है और इस डर की वजह थी दाऊद इब्राहिम जिसके एक फोन कॉल ने अफरीदी को घुटनों पर ला दिया था.

यह भी पढ़ें-दाऊद के राइट हैंड छोटा शकील की बहन फहमीदा का निधन, कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट का इंतजार

मिठाई खिलाकर मियांदाद ने आफरीदी को किया था माफ!
कहते हैं कि दाऊद के खौफ़ से ही शाहिद अफरीदी मियांदाद से माफी मांगने पहुंचा था..और दाऊद इन तस्वीरों को लाइव देख रहा था..दाऊद की शर्त थी कि जब जावेद मियांदाद उसे अपने हाथ से मिठाई खिलाएगा..तभी वो मानेगा कि मियांदाद ने उसे माफ कर दिया है. जब मियांदाद ने अफरीदी को मिठाई खिलाई..तब कहीं जाकर अफरीदी की जान में जान आई..लेकिन खौफ़ तब भी चेहरे से झलक रहा था..लेकिन इस एक घटना ने पाकिस्तान के 22 करोड़ लोगों को बता दिया कि मुल्क में मियांदाद की हैसियत क्या है..और यही है मियांदाद के खुलासे पर इमरान खान की खामोशी का राज़.

यह भी पढ़ें-जबरन वसूली के आरोप में दाऊद का पूर्व सहयोगी तारिक परवीन गिरफ्तार

भारत को दी न्यूक्लियर पावर की धमकी
अभी पिछले कुछ ही दिनो पहले जावेद मियांदाद ने भारत को भी न्यूक्लियर पावर की धमकी देते हुए ये बयान दिया था कि, 'मैंने पहले भी कहा था कि ये कायर लोग है, ये ड़रपोक लोग है और अभी तक इन लोगों ने किया क्या है. ये तो न्यूक्लियर पावर की बात करते है तो ये न्यूक्लियर पावर हमनें देखने के लिए नहीं बल्कि चलाने के लिए रखी हुई है. हमें तो बस मौका चाहिए और हम साफ कर देंगे.' पाकिस्तान के हुक्मरानों की तरह अब मियांदाद ने भी एटमी राग अलापना शुरू कर दिया है. हालांकि इसमें कोई नई बात नहीं है क्योंकि पाकिस्तान में राजनीति चमकाने के लिए भारत के खिलाफ जहर उगलना ही पड़ता है.

यह भी पढ़ें-इमरान खान को मियांदाद ने लताड़ा, कहा - मैं आपका कप्तान था और अब...

क्रिकेट के मैदान में मियांदाद का बल्ला चला रन बनाये लेकिन अब राजनीति में उतरने के लिए उनकी जुबान ज़हरीली हो गई है. भारत विरोध के साथ साथ मियांदाद अपने ही मुल्क के युवाओं को उकसाने में लगे हैं. मियांदाद इनदिनों पाक अवाम की आवाज बनने की कवायद में जुटे हैं. इसी वजह से करीब एक साल पहले जब भारत ने कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाया तो तिमलिये मियांदाद सड़क पर उतर आए थे और अब इसके मायने समझ आने लगे हैं. मियांदाद को अब पाकिस्तान का वजीर ए आजम जो बनना है और दाऊद को पाकिस्तान पर हुकूमत करनी है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 13 Aug 2020, 03:36:25 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.