News Nation Logo
Banner

योगी सरकार ने प्रियंका गांधी का प्रस्ताव स्वीकार किया, बसों के परिचालन को इजाजत

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रवासियों के लिए कांग्रेस की बसों के परिचालन को इजाजत दे दी है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 18 May 2020, 04:35:44 PM
Priyanka Gandhi

सरकार ने प्रियंका का प्रस्ताव स्वीकार किया, बसों के परिचालन को इजाजत (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रवासियों के लिए कांग्रेस की बसों के परिचालन को इजाजत दे दी है. राज्य सरकार ने कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का प्रस्ताव स्वीकार किया. सरकार ने कांग्रेस से एक हजार बसों के चालक, परिचालक और बसों की डिटेल्स मांगी है. कांग्रेस ने भी 1000 बसों की लिस्ट राज्य सरकार को सौंप दी है. बता दें कि शनिवार को प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने औरैया में हुई दुर्घटना के बाद प्रवासियों के लिए 1000 बसों को अनुमति देने के लिए मुख्यमंत्री को लिखा था.

यह भी पढ़ें: योगी सरकार ने प्रियंका गांधी का प्रस्ताव स्वीकार किया, बसों के परिचालन को इजाजत

प्रियंका गांधी ने रविवार को भी योगी सरकार से उन बसों को राज्य में प्रवेश करने की अनुमति देने का आग्रह किया था. जिसके बाद कांग्रेस की ओर से लगभग 980 बसों में प्रवासी मजदूरों को राजस्थान से यूपी भेजा गया था. मगर उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें राज्य में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी. सभी बसों को राजस्थान और यूपी बॉर्डर पर ही रोक दिया गया था. यूपी की सीमा में बसें को प्रवेश की अनुमति न मिलने के बाद सभी बसों को वापस ले जाया गया था. जिसके उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा कि उन्हें कांग्रेस से बसों की सूची नहीं मिली.

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र में संवैधानिक संकट टला, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने MLC पद की ली शपथ

इसके बाद आज कांग्रेस नेताओं ने 1000 बसों की सूची राज्य सरकार को सौंपी. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और विधायक दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करके योगी आदित्यनाथ सरकार को गरीब मजदूर विरोधी करार दिया है. कांग्रेस ने कहा कि पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने 1000 बसें चलाने की अनुमति मांगीं थीं. मुख्यमंत्री कार्यालय को पत्र ले जाकर दिया गया, कोई जबाब नहीं आया. हम आज योगी सरकार को 1000 बसों की सूची दे रहे हैं.

यह भी पढ़ें: Lockdown 4.0: कर्नाटक में सभी यातायात को इजाजत, इन राज्यों को भी मिलेंगी ये सुविधाएं

उन्होंने कहा कि हम लगातार सरकार को सकारात्मक सुझाव दे रहे हैं, लेकिन बीजेपी सरकार इस विपत्ति में भी बेसहारा लोगों की, जरूरतमंदों की समस्याओं को सुनने और उसके निराकरण करने में कोताही कर रही है. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि इस वैश्विक महामारी में हम लगातार जनता की सेवा कर रहे हैं. पूरे प्रदेश में हमने 60 लाख से अधिक लोगों की राशन-खाना देकर मदद किये. 7 लाख से अधिक प्रदेश से बाहर फंसे बहन-भाइयों की मदद किया गया. प्रदेश के 22 जिलों में हम रसोईघर चला रहे हैं. बिना खाये-पीयें आ रहे देश निर्माता मजदूर भाई-बहनों के लिए हाइवे पर 40 स्टॉल्स लगाकर के हम खाना, पानी, गुड़, चना और नाश्ता बांट रहे हैं.

यह भी पढ़ें: नहीं थम रहा वायरस का प्रकोप, जुलाई तक हो सकता है 1 करोड़ लोगों का कोरोना टेस्ट

कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि हम लगातार सरकार को सकारात्मक सुझाव दे रहे हैं. मदद करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन योगी सरकार इतनी असंवेदनशील है कि हमारे देश निर्माता मजदूर बहनों-भाइयों की आवाज़ को सुनना भी नहीं चाहती है. हमारी पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने मजदूरों के लिए रेलवे भाड़ा अदा करने की बात की बीजेपी सरकार ने वहां भी अपना गरीब विरोधी चेहरा दिखाया. प्रियंका गांधी ने ज्यादा टेस्टिंग करने का सुझाव दिया तब थोड़ा सा टेस्टिंग बढ़ाई गई. जब महासचिव ने सबको राशन की गारंटी की बात उठाया तब जाकर सरकार जागी.

यह भी पढ़ें: आज शाम तक विकराल रूप ले लेगा ‘अम्फान’ Cyclone, पीएम मोदी करेंगे अहम बैठक

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि योगी आदित्यनाथ को प्रियंका गांधी ने 1000 बस चलाने की अनुमति मांगी थी. हम बाकायदा महासचिव का पत्र लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय गए लेकिन मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से कोई भी जवाब नहीं आया. प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी आज इस आपदा में हर जरूरतमंद के साथ खड़ी है. मुख्यमंत्री ने हमसे लिस्ट मांगी है, हम आज मुख्यमंत्री को 1000 बसों की लिस्ट बकायदा दे रहे हैं. अब मुख्यमंत्री से गुजारिश है कि कृपया हमें अनुमति देने मजदूरों का दर्द अब हम और नहीं देख सकते हमारे मजदूर भाई बिना खाए पिए पैदल चल रहे हैं जगह-जगह दुर्घटनाओं में मारे जा रहे हैं अब मजदूरों के साथ इंसाफ करिए थोड़ा सा अपना दिल बड़ा करिए यह वक्त राजनीति का नहीं है.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 18 May 2020, 04:13:18 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.