News Nation Logo

आईपीएल के बाद सुरेश रैना जम्‍मू कश्‍मीर के लिए करेंगे ये खास काम

इंटरनेशनल क्रिकेट से 15 अगस्‍त को संन्‍यास का ऐलान करने वाले भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना इस वक्‍त अपनी टीम चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के लिए आईपीएल खेलने यूएई गए हुए हैं. फिलहाल सुरेश रैना और उनकी पूरी टीम क्‍वारंटीन का वक्‍त पूरा कर रहे हैं.

Sports Desk | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 26 Aug 2020, 04:23:04 PM
raina

सुरेश रैना (Photo Credit: फाइल फोटो )

New Delhi:

इंटरनेशनल क्रिकेट से 15 अगस्‍त को संन्‍यास का ऐलान करने वाले भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना (Suresh Raina) इस वक्‍त अपनी टीम चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स (Chennai Super Kings) के लिए आईपीएल (IPL 2020) खेलने यूएई गए हुए हैं. फिलहाल सुरेश रैना और उनकी पूरी टीम क्‍वारंटीन का वक्‍त पूरा कर रहे हैं, इसके बाद टीम के टेस्‍ट होंगे और उसके बाद प्रैक्‍टिस शुरू होगी. आईपीएल का पहला मैच 19 सितंबर को खेला जाएगा, इसके बाद 10 नवंबर को फाइनल मैच होगा. लेकिन इसके बाद क्‍या. अब सुरेश रैना ने साफ कर दिया है कि वे क्‍या करना चाहते हैं.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : सबसे पहले मैदान पर उतरेंगी किंग्‍स इलेवन पंजाब और राजस्‍थान रॉयल्‍स की टीमें

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना जम्मू एवं कश्मीर में वंचित बच्चों को सीखने का मौका देकर वहां क्रिकेट को बढ़ावा देना चाहते हैं. सुरेश रैना ने जम्मू एवं कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि वह खेल को कुछ वापस देना चाहते हैं. सुरेश रैना ने पत्र में लिखा है कि मैंने 15 साल अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहचान बनाई है और इसलिए मैं अपने अनुभव और योग्यता अगली पीढ़ी को देना चाहता हूं.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 Schedule : अबु धाबी में कोरोना, इसलिए नहीं आ रहा आईपीएल का पूरा शेड्यूल

हाल ही में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले सुरेश रैना ने कहा कि वह ग्रामीण इलाकों में स्कूल और कॉलेज में खेल को बढ़ावा देना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य केंद्र शासित राज्य में ग्रामीण इलाकों में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को चुनना है और उनको ट्रेनिंग देना है. उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि मेरी मंशा इस हिस्से के अलग-अलग स्कूलों, कॉलेजों से प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ियों को तलाशने की है. क्रिकेट सिर्फ एक खेल नहीं है बल्कि यह एक प्रक्रिया है जो लोगों के समूह को पेशेवर रवैये, अनुशासन, फिट रहने और शारीरिक तथा मानसिक तौर पर स्वास्थ रख एक आकार दे सकती हैं और उन्हें सुधार सकती है. पिछले शनिवार को जम्मू एंड कश्मीर पुलिस ने सुरेश रैना को क्रिकेट के गुर सिखाने के लिए आमंत्रित किया था.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : आईपीएल की विजेता टीम को मिलते हैं इतने करोड़, इस बार होगा नुकसान!

आपको बता दें कि भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ-साथ मध्यमक्रम के अनुभवी भारतीय बल्लेबाज सुरश रैना ने भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था. उत्तर प्रदेश के इस क्रिकेटर ने इंटरनेशनल क्रिकेट में जमकर नाम कमाया है. सुरेश रैना ने साल 2005 में एकदिवसीय क्रिकेट मैचों में अपना डेब्यू किया था. सुरेश रैना बाएं हाथ से बल्लेबाजी के अलावा दाएं हाथ से ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी किया करते थे. रैना जब मैदान में क्षेत्ररक्षण पर होते थे तो बल्लेबाजों की सांसे थमी रहती थीं विरोधी बल्लेबाजों में ये खौफ रैना की तेज तर्रार फील्डिंग के वजह से था.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : केएल राहुल और अनिल कुंबले मिलकर KXIP के लिए रचेंगे इतिहास!

सुरेश रैना ने भारत के लिए 18 टेस्ट, 226 वनडे और 78 टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले खेले हैं. इस बीच उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 7000 से ज्यादा रन बनाए हैं. सुरेश रैना ने टेस्ट क्रिकेट में एक शतक और 7 अर्धशतक सहित 768 रन बनाए हैं. वहीं अगर बात एकदिवसीय मैचों की करें तो रैना के नाम 5615 रन दर्ज हैं, जिसमें 5 शतक और 36 अर्धशतक शामिल हैं. एकदिवसीय मैचों में रैना का उच्चतम स्कोर नाबाद 116 रन रहा. वहीं टी-20 की बात करें तो रैना ने अब तक कुल 78 टी-20 मैच खेले हैं जिसमें रैना ने एक शतक और पांच अर्धशतक सहित 1605 रन बनाए हैं.

(इनपुट आईएएनएस)

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 Aug 2020, 04:17:16 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.