News Nation Logo
Banner

अयोध्या के बाद अब काशी और मथुरा के लिए बजरंग दल चलाएगा आंदोलन

राज्यसभा सदस्य रहे विनय कटियार ने शनिवार को कहा, 'अभी अयोध्या में एक काम पूरा हुआ है और दो काम होने बाकी हैं.'

IANS | Updated on: 02 Aug 2020, 07:28:27 AM
Vinay Katiyar

अभी काशी और मथुरा बाकी हैं. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

राम मंदिर (Ayodhya Ram Mandir) आंदोलन के चर्चित चेहरे और भाजपा के फायरब्रांड नेता विनय कटियार (Vinay Katiyar) ने कहा है कि अयोध्या में काम पूरा होने के बाद अब काशी (Kashi) और मथुरा (Mathura) के लिए भी आंदोलन चलेगा. एक तरफ अयोध्या में मंदिर बनता रहेगा तो दूसरी तरफ दोनों जगहों के लिए आंदोलन की भी शुरुआत होगी. काशी और मथुरा के लिए होने वाले आंदोलन में सभी हिंदू संगठन शामिल होंगे. 2024 में लोकसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी चाहेगी तो जरूर लड़ेंगे.

यह भी पढ़ेंः राम मंदिर पर फिर अटकी कांग्रेस की सांसें, कुछ चाहते हैं खुलकर हो समर्थन

मथुरा और काशी अभी बाकी है
फैजाबाद( अयोध्या) की सीट से 1991, 1996 और 1999 में लोकसभा सांसद और दो बार के राज्यसभा सदस्य रहे विनय कटियार ने शनिवार को कहा, 'अभी अयोध्या में एक काम पूरा हुआ है और दो काम होने बाकी हैं.' दरअसल, अयोध्या की तरह ही काशी और मथुरा में भी वर्षों से मंदिर- मस्जिद विवाद चला आ रहा है. मंदिर निर्माण का सपना साकार होने को लेकर विनय कटियार ने कहा, 'मुलायम सिंह के राज में गोली चलने से बहुत सारे रामभक्त मारे गए थे. उनके खून से अयोध्या रक्तरंजित हो गई थी, ऐसे में अब भगवान राम का मंदिर बनने से आंदोलन में मारे गए राम भक्तों की आत्मा को शांति मिलेगी.'

यह भी पढ़ेंः क्या रिया चक्रवर्ती गायब हो गई? सुशांत मामले में बिहार के DGP बोले- नहीं लग रहा पता

हिंदुओं का जागरण हुआ राम मंदिर आंदोलन से
राम मंदिर आंदोलन के बारे में बताते हुए विनय कटियार ने कहा, 'शुरुआत में कुछ ही लोग जुड़े थे, लेकिन धीरे-धीरे हमने साधु-संतों को जोड़ा. सभाएं शुरू की. संतों की यात्राएं शुरू कीं. ईंट मंगाना शुरू किया. बहुत सारा काम किया. उससे हिंदुओं का जागरण शुरू हुआ. जिसका सुखद परिणाम आज निकल रहा है.' मंदिर आंदोलन में बजरंग दल की भूमिका को विनय कटियार ने ऐतिहासिक बताया. मंदिर आंदोलन को धार देने के लिए 1984 में गठित हुए बजरंग दल को लेकर उन्होंने कहा, 'हमने मंदिर आंदोलन के दौरान बजरंग दल के साथ दुर्गा वाहिनी की भी स्थापना की. दुर्गा वाहिनी ने हिंदू महिलाओं के बीच जनजागरण किया. हिंदू जागरण मंच को भी स्थापित किया था. मंदिर आंदोलन में बजरंग दल ने ऐतिहासिक काम किया. ये सब विभिन्न प्रकार के संगठन खड़े कर हमने राम जन्मभूमि के लिए काम किया. लेकिन बजरंग दल का बड़ा भारी योगदान था.'

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तानी मंत्री शेख राशिद ने फिर उगला जहर, राम मंदिर को लेकर कह दी ये बात

मंदिर निर्माण का श्रेय पीएम मोदी को
भाजपा की सरकार न होती तो क्या मंदिर बनना संभव था? इस सवाल पर उन्होंने कहा, 'मंदिर बनना संभव था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में वह ताकत है, जो नहीं होता दिखाई देता है, वह उसे भी कर देते हैं. भले ही मंदिर का निर्णय अदालत से हुआ, लेकिन आज मंदिर निर्माण का श्रेय नरेंद्र मोदी को ही जाता है. जब तक राम मंदिर रहेगा, तब तक लोग मोदीजी को याद करेंगे. मंदिर निर्माण ने उन्हें अमरत्व प्रदान कर दिया है.' कभी कई कारणों से सुर्खियों में रहने वाला बजरंग दल अब खामोश रहता है? ऐसा राम मंदिर आंदोलन का उद्देश्य पूरा होने के कारण हो रहा या फिर कोई रणनीति छिपी है? इस सवाल पर संगठन के संस्थापक विनय कटियार ने कहा, 'अभी एक काम पूरा हुआ है, अभी दो काम पूरा होना बाकी है. पहले अयोध्या में हमारा मंदिर बनना शुरू हो जाए. मंदिर बनना शुरू होगा तो फिर मथुरा और काशी भी लोगों का जाना शुरू होगा. अयोध्या में मंदिर का निर्माण चलेगा तो काशी और मथुरा में आंदोलन चलेगा.'

यह भी पढ़ेंः  CISF के जवानों को सरकार की नीतियों की आलोचना करना पड़ सकता है महंगा, जारी किए गए दिशा निर्देश

कोरोना न होता तो अयोध्या में उमड़ता सैलाब
विनय कटियार ने मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट में शामिल सदस्यों के नाम पर संतोष व्यक्त किया. कहा कि मंदिर आंदोलन में भूमिका निभाने वालों के साथ कुछ प्रतिष्ठित लोगों को शामिल करना उचित है. भूमि पूजन के लिए आमंत्रितों की लिस्ट के सवाल पर बोले, 'अभी मैने आमंत्रित व्यक्तियों की सूची नहीं देखी है, इस नाते मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है. लेकिन इतना जरूर है कि अगर कोरोना न होता तो अयोध्या में 67-68 एकड़ जमीन लोगों से भरी होती. कोरोना के कारण सीमित संख्या में ही लोगों का आना उचित है.'

यह भी पढ़ेंः  VIDEO: जब अमर सिंह ने विरोधियों से कहा- टाइगर अभी जिंदा है, मेरी मौत की कामना छोड़ दें

अगला चुनाव पार्टी की इच्छा पर
2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी चाहेगी तो जरूर लड़ूंगा. विनय कटियार ने कहा, 'मैं भाजपा में केवल राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़कर सब पदों पर रह चुका हूं. मैं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय महामंत्री, राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य, प्रदेश का अध्यक्ष भी रहा हूं, और भी कई पदों का दायित्व निभा चुका हूं. पार्टी जो जिम्मेदारी देगी, उसे निभाने के लिए तैयार हूं.' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या दौरे को लेकर उपजे विवाद पर उन्होंने विपक्ष को निशाना लिया. कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाथी की तरह मस्त चाल से चलते रहेंगे, बाकी सब भौंकते रहेंगे. नरेंद्र मोदी जननेता हैं. जनता उनके साथ खड़ी है.

First Published : 02 Aug 2020, 07:28:27 AM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×