News Nation Logo

दिल्‍ली-एनसीआर के लिए बड़ी खबर, सितंबर से शुरू हो सकती है मेट्रो सेवा

कोरोना लॉकडाउन (Corona Lockdown) के चलते 150 दिन से बंद मेट्रो सेवा सितंबर से फिर से शुरू हो सकती है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 21 Aug 2020, 01:04:50 PM
Delhi Metro

150 दिनों के बाद फिर से शुरू हो सकती है दिल्ली मेट्रो. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

डीएमआरसी (DMRC) प्रमुख मंगू सिंह का राजीव चौक मेट्रो (Delhi Metro) स्टेशन के परिचालन प्रणाली के संचालन और रखरखाव की जांच के लिए स्टेशन का मुआयना करना बताता है कि कोरोना लॉकडाउन (Corona Lockdown) के चलते 150 दिन से बंद मेट्रो सेवा सितंबर से फिर से शुरू हो सकती है. यह मुआयना ऐसे समय में किया गया है जब ऐसी उम्मीदें जताई जा रही हैं कि उचित सुरक्षा नियमों के साथ मेट्रो सेवा का परिचालन शुरू किया जा सकता है. सूत्रों की माने तो अनलॉक चार के पहले पखवाड़े में मेट्रो को शुरू करने की मंजूरी दी जा सकती है.

यह भी पढ़ेंः देश समाचार 24 घंटे में कोरोना के 69 हजार के करीब मामले, कुल आंकड़ा 29 लाख के पार

शुरुआत में इमरजेंसी सेवा के लोगों को ही अनुमति
हालांकि यह छूट सशर्त होगी यानि शुरूआत में सिर्फ सरकारी इमरजेंसी सेवा व कुछ अन्य श्रेणी के यात्रियों को ही यात्रा करने की छूट मिलेगी, जिससे मेट्रो स्टेशनों पर भीड़ एकत्रित ना हो. हालांकि, दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के अधिकारियों ने इसे ‘नियमित निरीक्षण’ करार दिया है. डीएमआरसी ने एक ट्वीट में कहा, ‘डीएमआरसी के प्रमुख मंगू सिंह ने राजीव चौक मेट्रो स्टेशन का मुआयना किया. विभिन्न परिचालन प्रणाली और रखरखाव गतिविधियों के प्रभावी कामकाज की जांच करने के लिये यह नियमित निरीक्षण का हिस्सा था.’

यह भी पढ़ेंः दिल्ली और एनसीआर न्यूज़ बच्चों के पेट की खातिर वापस लौट रहे प्रवासी मजदूर

संचालन के मानक तैयार
बताते हैं कि मेट्रो ने अपने परिचालन से जुड़े मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) भी पहले ही तैयार कर लिया है, जिसमें यात्रियों को यात्रा करने से पहले कई शर्तों का पालन करना होगा. इसके तहत यात्री के अंदर कोरोना के किसी भी तरह के लक्षण (सर्दी, जुखाम, बुखार) ना हो, अगर हुआ तो उसे वापस लौटा दिया जाएगा. मोबाइल में आरोग्य सेतू ऐप अनिवार्य होगा. स्मार्ट कार्ड रखने वाले यात्री ही सफर कर पाएंगे यानि टोकन नहीं मिलेगा. टोकन लेने वाले सभी काउंटर व टिकट वेंडिग मशीन बंद रहेंगे.

यह भी पढ़ेंः देश समाचार नेपाल में स्टडी सेंटर के सहारे भारत के खिलाफ माहौल तैयार कर रहा चीन

दिल्ली सरकार ने केंद्र को भेजा प्रस्ताव
सूत्रों की माने तो दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार को मेट्रो चलाने को लेकर जो प्रस्ताव भेजा है उसके मुताबिक मेट्रो परिचालन के शुरूआती एक सप्ताह में सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही यात्रा करने का मौका दिया जाए. उसके बाद एक सप्ताह बाद उसका समीक्षा की जाएं. अगर सब ठीक चल रहा तो उसे बाकी लोगों के लिए ही शुरू किया जाएगा. कोरोना के चलते मेट्रो परिचालन में प्रवेश व निकास से लेकर यात्रा करने तक के सभी नियमों में बदलाव किया गया है. मेट्रो स्टेशन पर भीड़ ना हो, इसके लिए स्टेशन के सीमित प्रवेश व निकास गेट खोले जाएंगे, जिससे सभी की ठीक से जांच की जा सके. इसके अलावा मेट्रो की सीट में दो यात्रियों के बीच एक सीट खाली रहेगी. एक कोच में अधिकतम 50 लोग सफर कर पाएंगे. सभी को मास्क लगाना अनिवार्य होगा.

यह भी पढ़ेंः पीएम मोदी ने लिखी सुरेश रैना को चिट्ठी, रैना ने कहा धन्यवाद

30 सेकेंड अधिक रुकेगी मेट्रो
सोशल डिस्टेंसिंग पालन कराने के लिए मेट्रो ट्रेन पर स्टेशन पहले की तुलना में 30 सेकेंड अधिक समय के लिए रूकेगी, जिससे वहां ट्रेन में चढ़ने-उतरने के लिए पर्याप्त समय मिले. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके. कोच में सीमित संख्या में लोग चढ़े उतरे उसका ख्याल रखा जाएगा. कोविड महमारी के चलते दिल्ली मेट्रो का परिचालन 150 दिन से बंद है. इसके चलते मेट्रो को परिचालन से रोजाना होने वाले 10 करोड़ रूपये का नुकसान हो रहा है. अब तक मेट्रो का अब तक कुल 1500 करोड़ के राजस्व का नुकसान हो चुका है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 Aug 2020, 12:37:41 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो