News Nation Logo

उत्तराखंड में होगा नेतृत्व में बदलाव! बलूनी से मिले रावत, जेपी नड्डा के साथ की बैठक

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से उत्तराखंड में विधायकों का एक बड़ा गुट नाराज चल रहा है. विधायकों की शिकायत है कि राज्य में खुली छूट मिलने से ब्यूरोक्रेसी अनियंत्रित हो चुकी है. विधायकों और मंत्रियों की सुनवाई नहीं हो रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 09 Mar 2021, 12:01:41 AM
Uttarakhand CM Rawat heads to Nadda s residence

उत्तराखंड में होने जा रहा है नेतृत्व में बदलाव? बलूनी से मिले रावत (Photo Credit: IANS)

highlights

  • मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से उत्तराखंड में विधायकों का एक बड़ा गुट नाराज चल रहा है.
  • सीएम रावत का राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी के घर मीटिंग करने के मायने तलाशे जा रहे हैं.
  • मुन्ना सिंह चौहान ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए नजर आए.

नई दिल्ली :

उत्तराखंड में विधायकों की नाराजगी से मचे सियासी घमासान के बीच सोमवार को दिल्ली पहुंचे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य के राज्यसभा सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी से मुलाकात की है. अनिल बलूनी के यहां आवास पर राज्य के सियासी हालात पर देर शाम 8:15 बजे से करीब आधे घंटे तक मीटिंग हुई. बैठक खत्म होने के बाद मुख्यमंत्री रावत मीडिया के सवालों का जवाब दिए बगैर भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर बैठक करने पहुंचे. इससे पहले, उत्तराखंड के बदले सियासी हालात को लेकर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की संसद भवन परिसर में करीब 40 मिनट तक बैठक हुई थी.

यह भी पढ़ें : तमिलनाडुः असदुद्दीन ओवैसी ने टीटीवी धिनाकरन से मिलाया हाथ, AIMIM 3 सीट पर लड़ेगी चुनाव

सूत्रों के अनुसार, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बी.एल. संतोष के बीच हुई इस बैठक में राज्य में विधायकों की नाराजगी को दूर करने और नए नेतृत्व के विकल्प पर भी मंथन हुआ. भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के बीच बैठक खत्म होने के बाद मुख्यमंत्री रावत का राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी के घर मीटिंग करने के मायने तलाशे जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें : CM अमरिंदर सिंह ने BCCI से पूछा कोरोना काल में मुंबई में मैच हो सकता है तो मोहाली में क्यों नहीं?

बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से उत्तराखंड में विधायकों का एक बड़ा गुट नाराज चल रहा है. विधायकों की शिकायत है कि राज्य में खुली छूट मिलने से ब्यूरोक्रेसी अनियंत्रित हो चुकी है. विधायकों और मंत्रियों की सुनवाई नहीं हो रही है. ऐसे में नाराज विधायक मुख्यमंत्री को बदलने की मांग कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें : अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर अस्सी घाट पर महिलाओं ने 'शिव तांडव स्तोत्र' का पाठ पढ़ा

भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व की ओर से बीते शनिवार को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह और राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत कुमार गौतम को बतौर ऑब्जर्वर देहरादून भेजा गया था. दोनों नेताओं ने उत्तराखंड की कोर कमेटी की बैठक कर रिपोर्ट ली. दोनों ऑब्जर्वर यह रिपोर्ट बीजेपी नेतृत्व को सौंप चुके हैं. इस रिपोर्ट के आधार पर पार्टी नेतृत्व आगे की कार्रवाई करने में जुटा है. राज्य में मचे सियासी हालात के बीच चार मंत्री और डेढ़ दर्जन विधायक दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं.

वहीं, उत्तराखंड बीजेपी के प्रवक्ता और विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने कहा कि मंगलवार को देहरादून में बीजेपी विधायकों की कोई औपचारिक बैठक नहीं होने जा रही.
इस वक्त मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत है और विधायक अपने मुख्यमंत्री से नाराज नहीं हैं. चौहान ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए नजर आए. उन्होंने कहा कि राज्यसभा सांसद ने प्रदेश के लिए जो काम किया है वह अतुल्य है. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मंगलवार दोपहर तक देहरादून के लिए रवाना हो जाएंगे.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Mar 2021, 11:57:29 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.