News Nation Logo
Banner

मारे गए गैंगस्टर अमर दुबे का पिता मिला जिंदा, एक दशक से जी रहा था गुमनामी की जिंदगी

एक अजीबोगरीब घटना (पुलिस मुठभेड़) में मारे गए बदमाश अमर दुबे के पिता संजय दुबे गुरुवार को बिकरू गांव में एक पुलिस ऑपरेशन के दौरान जिंदा हो उठे.

IANS | Updated on: 10 Jul 2020, 04:08:04 PM
Amar Dubey

गैंगस्टर अमर दुबे का पिता मिला जिंदा, पुलिस से छिपकर जी रहा था जिंदगी (Photo Credit: फाइल फोटो)

कानपुर :

एक अजीबोगरीब घटना (पुलिस मुठभेड़) में मारे गए बदमाश अमर दुबे (amar dubey) के पिता संजय दुबे गुरुवार को बिकरू गांव में एक पुलिस ऑपरेशन के दौरान जिंदा हो उठे. इसी गांव में विकास दुबे (vikas dubey) ने अमर दुबे व अन्य अपराधियों के संग मिलकर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी. अमर दुबे को विकास दुबे का दायां हाथ माना जाता था. पुलिस ने उसे हमीरपुर जिले के मौदाहा में बुधवार को मार गिराया था.

यह भी पढ़ें: कानपुर एनकाउंटरः गैंगस्टर विकास दुबे का शव लेने से परिजनों ने किया इनकार

गुरुवार को, जब पुलिसकर्मी बिकरू गांव में एनकाउंटर में मारे गए अमर की जानकारी देने पहुंचे, उन्हें पता चला कि उसका पिता अभी भी जिंदा है. खबरी पुलिस को संजीव के ठिकाने ले गया, जहां वह लगभग एक दशक से गुमनामी की जिंदगी जी रहा था.

यह भी पढ़ें: कानपुर कांड: 8 दिन में विकास दुबे समेत 6 का एनकाउंटर, मगर 12 गुर्गे अभी भी फरार

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, 'संजीव जब अपने बेटे की मौत की खबर सुनकर अपने ठिकाने से बाहर आया तो पुलिस ने उसे पकड़ लिया. पूछताछ के दौरान, उसने बताया कि वह एक दुर्घटना में बाल-बाल बच गया था, लेकिन उसने अपना पैर खो दिया.'

यह भी पढ़ें: कल तक मां जिस बेटे की सलामती की दुआ मांग रही थी, आज उसके अंतिम दर्शन में भी नहीं आना चाहती, आखिर क्यों

संजीव के उपर हत्या की कोशिश, उगाही और लूट समेत 12 मामले चौबेपुर पुलिस स्टेशन में दर्ज हैं. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, 'वह सात वर्ष पहले एक सड़क दुर्घटना के बाद अंडरग्राउंड हो गया था और परिवार वालों से यह खबर फैलाने के लिए कहा था कि वह मर गया है, ताकि उसके विरुद्ध चल रहे सारे आपराधिक मामले बंद हो जाएं.'

यह वीडियो देखें: 

First Published : 10 Jul 2020, 04:08:04 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो