News Nation Logo
Banner

गेम का लालच दिखाकर 5 से 16 साल के बच्चों की बनाता था पॉर्न वीडियो, पढ़ें जेई की पूरी करतूत

बच्चों का यौन शोषण करने के दौरान वह मोबाइल से वीडियो क्लिप और फोटो बनाता था. बाद में इसे इंटरनेट के जरिए डार्क वेब पर बेचता था. सीबीआई को आरोपी इंजिनियर के घर से 8 मोबाइल फोन, पेन ड्राइव और दूसरे इलेक्ट्रॉनिक सामान मिले हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 19 Nov 2020, 11:31:05 AM
Junior Engineer Child Sexual Abuse

गेम का लालच दिखाकर 5 से 16 साल के बच्चों की जेई बनाता था पॉर्न वीडियो (Photo Credit: न्यूज नेशन )

बांदा:

बच्चों के यौन शोषण मामले में गिरफ्तार हुए निलंबित जेई रामभवन की बुधवार को सीबाआई ने कोर्ट से पांच दिन की रिमांड मांगी. आरोपी के वकील की दलील पर गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई होगी. अभी आरोपी निलंबित जेई रामभवन मंडल कारागार में बंद है. सीबीआई की जांच में सामने आया है कि आरोपी इंजिनियर आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के 5 से 16 साल की उम्र वाले बच्चों को ही अपना शिकार बनाता था. वह अब तक 50 बच्चों को अपना शिकार बना चुका था.

यह भी पढ़ें : अयोध्या के बाद श्रीकृष्ण जन्मभूमि की राह में कांग्रेस का अड़ंगा, डाली ये याचिका

बच्चों का यौन शोषण करने के दौरान वह मोबाइल से वीडियो क्लिप और फोटो बनाता था. बाद में इसे इंटरनेट के जरिए डार्क वेब पर बेचता था. सीबीआई को आरोपी इंजिनियर के घर से 8 मोबाइल फोन, पेन ड्राइव और दूसरे इलेक्ट्रॉनिक सामान मिले हैं. जिनमें से 66 पॉर्न वीडियो और 600 फोटो बरामद हुई हैं.

यह भी पढ़ें : बीजेपी विधायक से जुडे़ दुष्कर्म मामले की जांच दून से पौड़ी स्थानांतरित

सीबीआई की जांच में यह भी सामने आया है कि जेई रामभवन ने कर्वी नगर के शोभा सिंह का पुरवा (एसडीएम कॉलोनी) में किराये के मकान को अपना अड्डा बना रखा था. जेई के पास से 8 लाख रुपये नकद, 12 मोबाइल फोन और अन्य समान बरामद हुई है. बच्चों ने बताया कि जेई अंकल मोबाइल में वीडियो गेम खिलाने के लिए घर पर बुलाते थे. उनके पास तमाम मोबाइल हैं, जिनमें एक-एक बच्चे को अलग-अलग समय घर पर बुलाकर घंटों मोबाइल पर गेम खिलाते थे.

यह भी पढ़ें : कोरोना मौत का रिकॉर्ड टूटा, एक दिन में कोविड-19 से 131 मरे

सीबीआई दिल्ली की विशेष ऑनलाइन चाइल्ड सेक्सुअल अब्यूस ऐंड एक्स्प्लॉइटेशन (ओसीएसएई) प्रिवेंशन/इंवेस्टिगेशन यूनिट की मॉनिटरिंग में आरोपी जेई रामभवन की करतूत सामने आई. सीबीआई टीम ने डेढ़ महीने की गहन छानबीन के बाद 16 दिन तक गिरफ्तारी का जाल बुना था. रामभवन के तार दिल्ली और सोनभद्र तक जुड़े थे, इसके बाद उस पर शिकंजा कसा गया.

First Published : 19 Nov 2020, 11:30:02 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×