News Nation Logo
Banner

विवादित टिप्पणी मामले में पुलिस ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को लिया हिरासत में

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) के खिलाफ विवादित टिप्पणी करना केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को भारी पड़ गया है. रत्नागिरी की पुलिस ने मंगलवार को नारायण राणे (Narayan Rane) को हिरासत में ले लिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 24 Aug 2021, 04:25:06 PM
Narayan Rane

पुलिस ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को लिया हिरासत में (Photo Credit: ANI)

highlights

  • महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादित टिप्पणी की थी
  • रत्नागिरी कोर्ट ने नारायण राणे की अग्रिम जमानत खारिज की
  • नारायण राणे के साथ उनके बेटे नीलेश और नितेश भी मौजूद हैं

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) के खिलाफ विवादित टिप्पणी करना केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को भारी पड़ गया है. रत्नागिरी की पुलिस ने मंगलवार को नारायण राणे (Narayan Rane) को हिरासत में ले लिया है. इस पर नारायण राणे ने रत्नागिरी कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी, जिसे कोर्ट ने रद्द कर दिया है. वहीं, बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी उनकी जमानत याचिका पर तत्काल सुनवाई से मना कर दिया है. इस पर नाशिक पुलिस के विशेष दस्ते ने रत्नागिरी जाकर उन्हें हिरासत में ले लिया. 

यह भी पढ़ें : अफगानिस्तान संकट पर पीएम मोदी ने जर्मनी की चांसलर से की ये बात, जानें पूरी खबर

रत्नागिरी पुलिस ने नारायण राणे को हिरासत में लिया है. नारायण राणे पर जो केस दर्ज किए गए हैं उसकी जानकारी उन्हें दी जा रही है. अमरावती पुलिस की ओर से नारायण राणे को नाशिक पुलिस को सौंपा जाएगा. रत्नागिरी पुलिस नारायण राणे को नाशिक ले जाएगी. इस दौरान नारायण राणे के साथ उनके बेटे नीलेश और नितेश भी मौजूद हैं. 

यह भी पढ़ें : Closing Bell 24 Aug 2021: 403 प्वाइंट उछलकर बंद हुआ सेंसेक्स, निफ्टी 16,600 के ऊपर

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को ‘थप्पड़ मारने’ की बात कहने वाले केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के खिलाफ महाराष्ट्र में विरोध तेज हो गया है. शिवसेना ने नारायण राणे के घर पर जमकर पथराव किया है. इसके बाद बीजेपी और शिवसेना आमने-सामने आ गई. पुलिस ने शिवसेना और बीजेपी कार्यकर्ताओं के उपद्रव को रोकने के लिए लाठीचार्ज किया. मीडिया हाउस की मानें तो औरंगाबाद में केंद्रीय मंत्री राणे के विरोध में शिवसेना के सदस्यों ने चप्पल मारो आंदोलन किया. 

यह भी पढ़ें : कुणाल करण कपूर: युवाओं की आकांक्षाओं के बारे में है जिद्दी दिल-माने ना

हालांकि, नारायण राणे ने कहा है कि उन्होंने कोई भी अपराध नहीं किया. उन्होंने कहा है कि वो कोई छोटे मोटे आदमी नहीं है, केंद्रीय मंत्री हैं. अगर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की गई तो वो शिकायत दर्ज करेंगे. उन्होंने कहा कि 15 अगस्त के बारे में कोई नहीं जानता तो क्या यह अपराध नहीं है? मैंने कहा था कि मैं थप्पड़ मार देता और यह अपराध नहीं है.

First Published : 24 Aug 2021, 03:08:14 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो