News Nation Logo

मनी लॉन्ड्रिंग केस में महबूबा मुफ्ती श्रीनगर में ED के सामने पेश हुई

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) का विशेष दर्जा हटाए जाने के बाद एक साल से अधिक समय तक नजरबंदी में रहने के पश्चात 61 वर्षीय नेता को पिछले साल रिहा किया गया था.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 25 Mar 2021, 05:43:35 PM
PDP chief Mehbooba Mufti in Srinagar

महबूबा मुफ्ती (Photo Credit: @ANI)

highlights

  • महबूबा मुफ्ती श्रीनगर में ईडी के समक्ष हुई पेश
  • मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी के सामने पेश हुई
  • सोमवार को दिल्ली में एजेंसी के समक्ष पेश नहीं हुई थीं

श्रीनगर:

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) मनी लॉन्ड्रिंग केस में बृहस्पतिवार को यहां प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश हुई. मुफ्ती मनी लॉन्ड्रिंग केस में पूछताछ का सामना करने के लिए सुबह 11 बजे राजबाग में स्थित ईडी कार्यालय पहुंचीं. पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष सोमवार को दिल्ली में एजेंसी के समक्ष पेश नहीं हुई थीं. उन्होंने कहा था कि उनके पहले से ही कुछ कार्यक्रम हैं जिन्हें रद्द नहीं किया जा सकता. उन्होंने ईडी अधिकारियों से दिल्ली के बजाय श्रीनगर में ही पूछताछ करने का अनुरोध किया था जिसे मंजूर कर लिया गया.

यह भी पढ़ें : TMC नेता का विवादित बयान, मुसलमान एक हो जाए तो हम 4 नए पाकिस्तान बना सकते हैं

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) का विशेष दर्जा हटाए जाने के बाद एक साल से अधिक समय तक नजरबंदी में रहने के पश्चात 61 वर्षीय नेता को पिछले साल रिहा किया गया था. दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) ने 19 मार्च को उन्हें दिए सम्मन पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था. उन्होंने अदालत से मामले में दिए सम्मन को रद्द करने की मांग की थी. ईडी ने उस समय उन पर व्यक्तिगत रूप से पेश होने के लिए जोर नहीं दिया था. ईडी ने इससे पहले मुफ्ती को 15 मार्च को पेश होने के लिए कहा था.

यह भी पढ़ें : Jammu and Kashmir : श्रीनगर में CRPF टीम पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद

मुफ्ती ने ईडी को लिखे पत्र में कहा, ‘‘मैं आपको 22 मार्च को आपके दिल्ली कार्यालय में पेश होने के लिए जारी सम्मन के संदर्भ में लिख रही हूं. मैंने पीएमएलए (धन शोधन निवारण कानून) के अनुच्छेद 50 की संवैधानिक शक्तियों को दिल्ली उच्च न्यायालय में चुनौती दी है.’’

यह भी पढ़ें : सीएम योगी ने कहा- भारत में दो प्रधान, दो निशान, दो संविधान नहीं चलेगा

पीडीपी नेता ने कहा था, ‘‘मैं 22 मार्च को पेश होने की स्थिति में नहीं हूं क्योंकि मेरे पहले से कुछ कार्यक्रम हैं जिन्हें इतने कम वक्त में रद्द नहीं किया जा सकता है.’’ उन्होंने अपने पत्र में कहा, ‘‘मैं श्रीनगर में खासतौर से अपने आवास पर या वीडियो कांफ्रेंस के जरिए पूछताछ में शामिल होने के लिए तैयार हूं.’’

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 25 Mar 2021, 05:27:22 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.