News Nation Logo

कोरोना की स्पीड बढ़ने के साथ धीमा हुआ वैक्सीनेशन अभियान, दिल्ली में स्थिति चिंताजनक

राजधानी दिल्ली में टीकाकरण की दर बेहद कम है, जहां स्वास्थ्य कर्मियों को बिहार जैसे पिछड़े राज्य में 90% वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 27 Feb 2021, 02:21:55 PM
कोरोना की स्पीड बढ़ी तो वैक्सीनेशन की घटी, दिल्ली में चिंताजनक स्थिति

कोरोना की स्पीड बढ़ी तो वैक्सीनेशन की घटी, दिल्ली में चिंताजनक स्थिति (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

देशभर में कोरोना वायरस के मामलों में आई तेजी

निर्धारित लक्ष्य के लिहाज से टीकाकरण की गति धीमी

नई दिल्ली:

देशभर में कोरोना वायरस का तांडव लगातार तेजी से बढ़ रहा है. हालांकि, देश में चल रहा कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान अपने निर्धारित लक्ष्य के मुताबिक गति से नहीं चल रहा है. राजधानी दिल्ली में टीकाकरण की दर बेहद कम है, जहां स्वास्थ्य कर्मियों को बिहार जैसे पिछड़े राज्य में 90% वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है. वहीं दिल्ली में यह आंकड़ा तकरीबन 60% है. वहीं अगर वैक्सीन की दूसरी डोज़ की बात करें, तो स्थिति और भी ज्यादा खराब नजर आती है ,जबकि दिल्ली में शिक्षा का स्तर और शहरी सुविधाएं बाकी राज्यों की तुलना में बहुत बेहतर है.

ये भी पढ़ें- बंगाल को बेटी चाहिए, बुआ नहीं! 'नवरत्नों' के सहारे BJP का ममता पर वार

अभी तक दिल्ली में तकरीबन चार लाख वैक्सीन लगाई जा चुकी है. जिसमें से तीन लाख 64 हजार स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर को पहली वैक्सीन की डोज दी गई है. और 34700 यानी 35 हजार से भी कम लाभार्थियों ने वैक्सीन की दूसरी डोज़ लगवाई है, यानी ऐसी लाभार्थियों की संख्या बहुत बड़ी है जो वैक्सीन इनकी पहली डोज़ लगवाने के लिए तो पहुंच जाते हैं ,पर दूसरी डोज़ में नदारद रहते हैं.

ये भी पढ़ें- मुकेश अंबानी विस्फोटक केस में मिला स्कॉर्पियो लाने वाले का सुराग

इस पर स्वस्थ विशेषज्ञों का कहना है कि कई बार शहरी आबादी की अंदर ज्यादा वैक्सीन हैजिटेशन होता है और उन समझाना मुश्किल होता है. कुछ स्वास्थ्य कर्मियों और फंट लाइन वर्कर को यह लगता है कि पहली वैक्सीन के बाद जीत वह सुरक्षित है और दूसरी वैक्सीन लेने की जरुरत नहीं लेकिन ऐसा कब कि वह अपने, अपने परिवार और अपने राज्य के लिए तो खतरा है ही ,लेकिन दिल्ली में अगर कोरोना के आंकड़े बढ़ते हैं तो पूरे भारत के लिए स्थिति खराब हो सकती है.

ये भी पढ़ें- कश्मीरी एक्टिविस्ट की हत्या का था प्लान, पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

बताते चलें कि देशभर में विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चल रहा है. देशभर में टीकाकरण अभियान के पहले चरण में अभी तक कुल 1,35,60,932 लोगों को कोविड-19 की वैक्सीन दी जा चुकी है. वैक्सीनेशन अभियान का दूसरा चरण एक मार्च से शुरू होगा.

First Published : 27 Feb 2021, 02:21:55 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो