News Nation Logo
Banner

तो क्या IPL के अगले सीजन में नहीं दिखेंगे महेंद्र सिंह धोनी, ये रहे कुछ ठोस सबूत

विश्व कप के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने टीम इंडिया की नीली जर्सी से दूरी बना ली और भारत की कुछ सीरीज ने अपना नाम वापस ले लिया. इसी बीच बीसीसीआई ने भी धोनी को सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट से बाहर निकाल दिया था.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 07 Oct 2020, 12:30:39 PM
ms dhoni

महेंद्र सिंह धोनी (Photo Credit: https://twitter.com/ChennaiIPL)

नई दिल्ली:

टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने 15 अगस्त, 2020 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट (International Cricket) से संन्यास ले लिया था. भारत को टी20 विश्व कप 2007 (T20 World Cup), विश्व कप 2011 (World Cup) और चैंपियंस ट्रॉफी 2013 (Champions Trophy) जिताने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पिछले साल विश्व कप सेमीफाइनल में अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था. महेंद्र सिंह धोनी पिछले साल 9 और 10 जुलाई को न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में आखिरी बार नीली जर्सी में दिखाई दिए थे. विश्व कप सेमीफाइनल में भारत को न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा था, जिसके बाद टीम इंडिया टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी. भारत की इस हार के बाद धोनी के आलोचक काफी एक्टिव हो गए थे. धोनी के आलोचक बढ़-चढ़कर आगे आए और उनकी धीमी पारी को टीम इंडिया की हार का जिम्मेदार ठहराया था.

ये भी पढ़ें- MI vs RR: क्यों हारी राजस्थान रॉयल्स, कप्तान स्टीव स्मिथ ने बताई ये बड़ी वजह

विश्व कप के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने टीम इंडिया की नीली जर्सी से दूरी बना ली और भारत की कुछ सीरीज ने अपना नाम वापस ले लिया. इसी बीच बीसीसीआई ने भी धोनी को सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट से बाहर निकाल दिया. जिसके बाद धोनी ने इस साल मार्च में शुरू होने वाले आईपीएल के 13वें सीजन के लिए अभ्यास शुरू कर दिया. हालांकि, कोरोना वायरस की वजह से मार्च में शुरू होने वाले आईपीएल सीजन 13 अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया. भारत में कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन के दौरान महेंद्र सिंह धोनी अपने परिवार के साथ रांची स्थित अपने फार्महाउस में ही महीनों तक रहे. इस दौरान महेंद्र सिंह धोनी की एक ऐसी तस्वीर सामने आई, जिसके बाद उनके बूढ़े होने की बातें जोर पकड़ने लगी थीं. इस तस्वीर में धोनी की दाढ़ी भी पूरी तरह से सफेद दिखाई दे रही थी.

ये भी पढ़ें- MI vs RR: पहले से ही राजस्थान की बखिया उधेड़ने की तैयारी में थे सूर्यकुमार यादव

लंबे इंतजार के बाद यूएई में खेले जा आईपीएल के 13वें सीजन में महेंद्र सिंह धोनी की टीम चेन्नई सुपर किंग्स ने सीजन के पहले ही मैच में 4 बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस को हरा दिया. हालांकि, पहले मैच में जीत के बाद धोनी की चेन्नई को काफी संघर्ष करते हुए देखा गया. ओपनिंग जोड़ी के आउट होने के बाद चेन्नई का मिडल ऑर्डर भी पूरी तरह से धराशायी होता दिखाई दिया और खुद महेंद्र सिंह धोनी भी बल्लेबाजी करते हुए काफी जूझते हुए दिखाई दिए. इतना ही नहीं, आईपीएल के 13वें सीजन में धोनी को शायद पहली बार थका हुआ देखा गया, जिसकी वजह से वे बल्लेबाजी करने में काफी असमर्थ दिखाई दे रहे थे. और तो और इस बार वे अपनी टीम को जीत भी नहीं दिला पा रहे.

ये भी पढ़ें- MI vs RR : MI ने कैसे जीता मैच, RR क्‍यों हारी, जानिए 5 सबसे बड़े कारण

आईपीएल के 13वें सीजन में धोनी को देखकर ऐसा लग रहा है कि उनकी जीत की भूख अब शायद मिट चुकी है. लिहाजा, अब न तो उनकी कप्तानी में वो दम दिख रहा है और न ही उनकी बल्लेबाजी में. चेन्नई सुपर किंग्स के मौजूदा प्रदर्शन को देखते हुए उनका प्लेऑफ्स में जाना काफी मुश्किल दिख रहा है. लेकिन बीते मैच में जिस तरह से शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस ने प्रदर्शन किया, उसे देखकर ऐसा लग रहा है कि महेंद्र सिंह धोनी की टीम बिना बताए कभी भी वापसी कर सकती है और विरोधी टीमों के छक्के छुड़ा सकती है. हालांकि, कुछ क्रिकेट एक्सपर्ट्स का मानना है कि यदि किसी वजह से महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स इस बार प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो जाती है तो महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल को भी अलविदा कह सकते हैं. हालांकि, टीम मैनेजमेंट ने आईपीएल के 13वें सीजन से पहले ही साफ कर दिया था कि धोनी और चेन्नई का साथ 2021 तक तय है. उन्होंने ये भी कहा था कि बाकी सभी फैसले खुद धोनी ही करेंगे.

First Published : 07 Oct 2020, 12:30:39 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो