News Nation Logo
Banner

शिवम मावी और कमलेश नागरकोटी पर खर्च हुए इतने करोड़ रुपये, आईपीएल में मचाया तहलका

राजस्‍थान रॉयल्‍स और कोलकाता नाइटराइडर्स के बीच हुए मैच में मैच कोलकाता नाइटराइडर्स ने जीत लिया, साथ ही इस मैच में ही दो खिलाड़ियों की खूब चर्चा हो रही है. ये है कमलेश नागरकोटी और दूसरे हैं शिवम मावी.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 01 Oct 2020, 05:37:48 PM
shivam kamlesh

शिवम मावी, कमलेश नागरकोटी (Photo Credit: IANS)

नई दिल्‍ली :

IPL 2020 : राजस्‍थान रॉयल्‍स (RR) और कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) के बीच हुए मैच में मैच कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) ने जीत लिया, साथ ही इस मैच में ही दो खिलाड़ियों की खूब चर्चा हो रही है. ये है कमलेश नागरकोटी (Kamlesh Nagarkoti) और दूसरे हैं शिवम मावी (Shivam Mavi). इन दोनों की प्रतिभा निखारने में एनसीए (NCA) और एनसीए के अध्‍यक्ष राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) का बड़ा योगदान रहा. ये दोनों आने वाले समय में टीम इंडिया (Team India) के खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं. हालांकि आईपीएल (IPL 2020) के आगे के मैचों में इनकी अभी और भी परीक्षा होने वाली है. राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) ने युवा खिलाड़ी कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी को चोटों से मुक्त करने में अहम भूमिका अदा की है. दो साल के अंदर उन्हें फिर से बेहतरीन गेंदबाजी के लिए तैयार कर दिया. 

यह भी पढ़ें ः KXIPvsMI : मुंबई बनाम पंजाब मुकाबले पर अनिल कुंबले ने कही बड़ी बात

कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी ने 2018 आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के दौरान बल्लेबाजों को अपनी गेंदों को भयभीत किया हुआ था और ऐसा लग रहा था कि भारत के तेज गेंदबाजों का अगला बैच दुनिया में खलबली मचाने को तैयार है. लेकिन इससे पहले कि वे ऐसा कर पाते, उन्हें चोटों ने परेशान कर दिया. तभी एनसीए ने सही समय पर उनकी चोटों को ठीक करने में अहम भूमिका अदा की. आईपीएल 2020 में कॉन्‍ट्रेक्‍ट हासिल वाले दोनों खिलाड़ियों ने अब प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में फिर से वही शानदार प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है. 20 साल के कमलेश नागरकोटी करीब 30 महीने बाद आईपीएल में पहला प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेल रहे हैं. उन्होंने और 21 साल के शिवम मावी ने कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए शानदार प्रदर्शन करते हुए बुधवार को राजस्थान रॉयल्स पर मिली जीत के दौरान मिलकर चार विकेट हासिल किए.

यह भी पढ़ें ः KXIPvsMI : Sheikh Zayed Stadium की Pitch Report और कैसा रहेगा मौसम

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ सूत्र ने पीटीआई से कहा कि विश्व कप के बाद कमलेश नागरकोटी को पीठ में स्ट्रेस फ्रेक्चर हो गया और उनके टखने पर भी ‘स्ट्रेस’ का असर पड़ा. बीसीसीआई ने ब्रिटेन में उन्हें ले जाकर कई विशेषज्ञों से उनकी चोट पर सलाह ली. वह करीब डेढ़ साल तक एनसीए में रहे. अधिकारी ने कहा कि वहीं दूसरी ओर शिवम आठ महीने तक एनसीए में रहा, पहले उन्हें एसीएल (एंटीरियर क्रूसिएट लिगामेंट) चोट लगी और फिर ‘स्ट्रेस’ का असर हुआ. हालांकि वह कमलेश की तुलना में जल्दी उबर गए, लेकिन वह पिछले घरेलू सीजन के बाद फिर चोटिल हो गए. अगर पिछले दो सत्र के दौरान उनके रिहैबिलिटेशन और चोट से उबरने के लिये हुए मोटा मोटी खर्चे पर भरोसा किया जाए तो बीसीसआई-एनसीए ने कम से कम 1.5 करोड़ रुपये उन पर खर्चे हैं. सूत्र ने बताया कि बिलकुल सही राशि बताना मुश्किल होगा, लेकिन यह एक करोड़ रुपये से ज्यादा ही है और यह करीब 1.5 करोड़ रुपये के करीब हो सकती है. एनसीए में मेडिकल चेक-अप, आउटसोर्स फिजियोथेरेपी सत्र, सभी का ध्यान ऐसे रखा जाता है जैसे बीसीसीआई केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए करता है. दो लोगों को इसका श्रेय जाता है और वो हैं एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ और मुख्य फिजियो आशीष कौशिक.

यह भी पढ़ें ः KKRvsRR : KKR की जीत और RR की हार के 5 बड़े कारण, यहां जानिए

कमलेश नागरकोटी ने मैच के बाद अपने प्रदर्शन के लिए राहुल द्रविड़, अभिषेक नायर और अन्य का शुक्रिया भी अदा किया है. शिवम मावी ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत के दौरान एनसीए की तारीफ करते हुए कहा कि अमित त्यागी (फिजियो) और आशीष कौशिक (मुख्य फिजियो) ने मेरी चोटों का ध्यान रखा और मुझे पूरी तरह से लय में आने में चार महीने लगे.

First Published : 01 Oct 2020, 05:37:48 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो