News Nation Logo
Banner

INDvAUS Pink Ball Test : ऋषभ पंत और रिद्धिमान साहा में से किसे मिलेगा मौका 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच 17 दिसंबर से शुरू होने जा रहा है. पहला टेस्ट मैच दिन रात का होगा और ये मैच पिंक बॉल से खेला जाएगा. इससे पहले भारतीय खिलाड़ियों ने दो बार तीन दिन के अभ्यास मैच भी खेल लिए हैं

By : Pankaj Mishra | Updated on: 14 Dec 2020, 06:10:49 PM
sahaVpant

sahaVpant (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच 17 दिसंबर से शुरू होने जा रहा है. पहला टेस्ट मैच दिन रात का होगा और ये मैच पिंक बॉल से खेला जाएगा. इससे पहले भारतीय खिलाड़ियों ने दो बार तीन दिन के अभ्यास मैच भी खेल लिए हैं और इसमें बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने ठीकठाक प्रदर्शन भी किया है. हालांकि टीम इंडिया की सबसे बड़ी मुश्किल प्लेइंग इलेवन को चुनना है. कौन से खिलाड़ी पहले मैच में खेलेंगे ये अभी तक साफ नहीं हो रहा है. सबसे ज्यादा दिक्कत इसमें आ रही है कि विकेट कीपर के तौर पर ऋषभ पंत खेलेंगे या फिर रिद्धिमान साहा प्लेइंग इलेवन का हिस्सा होंगे. 

यह भी पढ़ें : BBL-10 : एडिलेड स्ट्राइकर्स से जुड़े एलेक्स कैरी, क्रिस लिन, डैन लॉरेंस जांच के घेरे में

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एडीलेड में गुरुवार से शुरू होने वाले पहले दिन रात टेस्ट क्रिकेट मैच में ऋद्धिमान साहा के विकेटकीपिंग में बेहतर प्रदर्शन को ऋषभ पंत की आक्रामक बल्लेबाजी पर प्राथमिकता मिल सकती है. पहले टेस्ट मैच के लिए संभावित भारतीय प्लेइंग इलेवन विषय बनी हुई है.  अभी यह तय नहीं है कि साल के रिद्धिमान  साहा के रूप में बेहतर विकेटकीपर या 23 साल के रिषभ पंत के रूप में बेहतर बल्लेबाज में से किसे टीम में जगह देनी है. भारतीय टीम मैनेजमेंट ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं. हनुमा विहारी से जब इस बारे में पूछा गया था तो उन्होंने भी कहा था कि स्वस्थ प्रतिस्पर्धा टीम के लिए अच्छी है. 

यह भी पढ़ें : वेलिंग्टन टेस्ट : न्यूजीलैंड ने वेस्टइंडीज को हराया, 2-0 से सीरीज पर कब्जा

माना जा रहा है कि रिद्धिमान साहा की बेहतर विकेटकीपिंग और रक्षात्मक बल्लेबाजी को प्राथमिकता दी जा सकती है. कोच रवि शास्त्री, कप्तान विराट कोहली, सहायक कोच विक्रम राठौर, भरत अरुण और चयनकर्ता हरविंदर सिंह मैच की परिस्थितियों के आधार पर इन दोनों के प्रदर्शन का आकलन करेंगे. रिद्धिमान साहा ने पहले अभ्यास मैच में 54 रन की महत्वपूर्ण पारी खेलकर भारत को आस्ट्रेलिया ए के खिलाफ हार से बचाया था. उन्होंने तब जेम्स पैटिनसन, माइकल नेसेर और कैमरन ग्रीन जैसे गेंदबाजों का सामना किया था. वहीं दूसरे विकेटकीपर ऋषभ पंत ने जब दूसरे अभ्यास मैच में शतक जमाया, तब भारतीय टीम बेहतर स्थिति में थे और उन्हें लेग स्पिनर मिशेल स्वेपसन और कामचलाऊ गेंदबाज निक मैडिनसन का सामना करना पड़ा था. 

यह भी पढ़ें : IPL 2021 : अप्रैल में शुरू होगा आईपीएल, फरवरी में खिलाड़ियों का ऑक्शन!

आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर ने आस्ट्रेलिया ए के इस गेंदबाजी प्रदर्शन को शर्मनाक करार दिया था. रिद्धिमान साहा ने 37 टेस्ट मैचों में 1238 रन बनाए हैं जिसमें तीन शतक शामिल हैं. उन्होंने 92 कैच और 11 स्टंप आउट किए हैं. वह अगर पहले टेस्ट मैच में जगह बना लेते हैं तो भी रिषभ पंत की संभावना समाप्त नहीं हो जाती. रिद्धिमान साहा को टीम में बने रहने के लिये विकेट के पीछे ही नहीं विकेट के आगे भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा.

(input Bhasha)

First Published : 14 Dec 2020, 06:10:49 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.