News Nation Logo

हार्दिक पांड्या कब से शुरू करेंगे गेंदबाजी, मैच के बाद खुद किया खुलासा 

भारतीय टीम को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पहले वन डे मैच में 66 रनों से करारी हारका सामना करना पड़ा है.  इस मैच के बाद कप्‍तान विराट कोहली ने इस बात को स्‍वीकार किया है कि टीम में आलराउंडर की कमी है.

Bhasha | Updated on: 27 Nov 2020, 09:04:26 PM
hardik

hardik pandya (Photo Credit: BCCI Twitter)

सिडनी:

भारतीय टीम को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पहले वन डे मैच में 66 रनों से करारी हारका सामना करना पड़ा है.  इस मैच के बाद कप्‍तान विराट कोहली ने इस बात को स्‍वीकार किया है कि टीम में आलराउंडर की कमी है. हालांकि हार्दिक पांड्या टीम में हैं, लेकिन वे अभी गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं. इसलिए वे टीम में बतौर बल्‍लेबाज ही खेल रहे हैं. लेकिन अब सवाल यही है कि हार्दिक पांड्या आखिर कब से गेंदबाजी शुरू करेंगे. इसको लेकर तमाम तरह की अटकलें लग रही थीं, लेकिन अब पहले मैच के बाद खुद हार्दिक पांड्या ने इसका खुलासा कर दिया है. हार्दिक पांड्या ने कहा है कि वह तभी गेंदबाजी करेंगे, जब समय सही होगा और साथ ही उन्होंने टीम से कई प्रतिभाओं वाले बाकी खिलाड़ियों को तराशने का आग्रह किया, क्योंकि यहां शुरुआती वनडे में आस्ट्रेलिया से मिली हार के दौरान उनकी गेंदबाजी की काफी कमी महसूस की गई. हार्दिक पांड्या पीठ की सर्जरी के बाद अभी तक गेंदबाजी का भार संभालने के लिए तैयार नहीं हैं, जिससे टीम का संतुलन प्रभावित हो रहा है. यह बात खुद कप्तान विराट कोहली ने स्वीकार की. 

यह भी पढ़ें : INDvAUS : विराट कोहली ने जिसे टीम से बाहर किया, उसी ने हरा दिया मैच

हार्दिक पांड्या ने शुक्रवार को टीम को मिली 66 रन की हार के दौरान 76 गेंद में 90 रन की पारी खेली. उन्होंने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, मैं अपनी गेंदबाजी पर काम कर रहा हूं. मैं गेंदबाजी करूंगा, जब सही समय होगा. ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 374 रन बनाए थे. हार्दिक पांड्या ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि जब वह मैच की परिस्थितियों में गेंदबाजी करना शुरू करें तो वह बेहतरीन प्रदर्शन के लिए जरूरी रफ्तार हासिल कर पाएं. हार्दिक पांड्या ने नेट पर गेंदबाजी करना शुरू कर दिया है. उन्होंने कहा, मैं अपनी गेंदबाजी में 100 प्रतिशत होना चाहता हूं. मैं उस रफ्तार से गेंदबाजी करना चाहता हूं जो अंतरराष्ट्रीय स्तर के लिए जरूरी हो. 

यह भी पढ़ें : IND vs AUS : टीम इंडिया के पास आलराउंडर की कमी, खिलाड़ियों के हाव भाव अच्छे नहीं 

आईसीसी टी20 विश्व कप के लिए 10 महीने ही बचे हैं और हार्दिक पांड्या ने संकेत दिया कि वह लंबे लक्ष्य और बड़े टूर्नामेंट को ध्यान में रखते हुए गेंदबाजी शुरू करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, हम आगे के बारे में सोच रहे हैं. हम टी20 विश्व कप और अन्य महत्वपूर्ण टूर्नामेंट के बारे में सोच रहे हैं जहां मेरी गेंदबाजी ज्यादा अहम होगी. हार्दिक पांड्या ने कहा, जब आप 375 रन के लक्ष्य का पीछा करते हो तो हर किसी को जज्बे के साथ खेलना चाहिए. इसके अलावा कोई कुछ नहीं कर सकता. आप ज्यादा योजना नहीं बना सकते. उन्होंने कहा कि भारत को हरफनमौला विकल्पों के बारे में विचार करना चाहिए क्योंकि छठा गेंदबाजी विकल्प वनडे टीम के संतुलन के लिए जरूरी है. उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि शायद हमें किसी को ढूंढना होगा जो भारत के लिए खेल चुका हो और उन्हें तराशना चाहिए और उन्हें खिलाने का तरीका ढूंढना होगा. 

यह भी पढ़ें : IND vs AUS : टीम इंडिया की हार के बाद ट्रेंड करने लगे धोनी, जानिए क्‍यों 

हार्दिक पांड्या ने कहा, जब आप पांच गेंदबाजों के साथ उतरते हो तो यह हमेशा मुश्किल होगा क्योंकि अगर किसी का दिन अच्छा नहीं होगा तो उसकी भूमिका को भरने के लिए आपके पास कोई नहीं होगा. उन्होंने कहा, चोट से ज्यादा यह छठे गेंदबाजी की भूमिका के बारे में है. अगर किसी का दिन अच्छा नहीं है तो इससे अन्य गेंदबाजों को मदद मिलेगी. उपलब्ध विकल्पों के बारे में पूछने पर उन्होंने चयनकर्ताओं से अपने बड़े भाई कृणाल को देखने का आग्रह किया जो स्पिन आल राउंडर हैं. उन्होंने कहा, आप अन्य के नाम ले सकते हैं. या फिर हमें पांड्या परिवार में ही देखना चाहिए. 

First Published : 27 Nov 2020, 09:02:17 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.