News Nation Logo
Banner

IND v AUS : केएल राहुल बोले, स्‍टेडियम में दर्शकों के कारण छूट रहे हैं कैच 

ऑस्ट्रेलिया के साथ रविवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेले गए दूसरे वनडे में भी भारतीय टीम की फील्डिंग खराब रही. सबसे बेस्ट फील्डरों में से एक रवींद्र जडेजा ने भी हार्दिक पांड्या की गेंदबाजी पर मार्नश लाबुशैन का कैच छोड़ दिया.

IANS | Updated on: 29 Nov 2020, 09:41:22 PM
Virat Kohli and KL Rahul

Virat Kohli and KL Rahul (Photo Credit: IANS)

दुबई :

ऑस्ट्रेलिया के साथ रविवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेले गए दूसरे वनडे में भी भारतीय टीम की फील्डिंग खराब रही. सबसे बेस्ट फील्डरों में से एक रवींद्र जडेजा ने भी हार्दिक पांड्या की गेंदबाजी पर मार्नश लाबुशैन का कैच छोड़ दिया. ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को एससीजी पर खेले गए दूसरे वनडे मैच में भारत के खिलाफ 50 ओवरों में चार विकेट खोकर 389 रनों का विशाल स्कोर बनाया. इस लक्ष्य को पाना भारतीय टीम के लिए नामुमकिन साबित हुआ. वह 51 रनों से मैच हार गई. मेहमान टीम पूरे ओवर खेलने के बाद नौ विकेट खोकर 338 ही बना सकी.

यह भी पढ़ें : INDvAUS 3rd ODI में डेविड वार्नर खेलेंगे या नहीं, कप्‍तान ने दिया जवाब 

यह पूछे जाने पर कि टीम कैच पकड़ने में संघर्ष कर रही है और इसके पीछे क्या कारण है, तो भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज लोकेश राहुल ने स्टेडियम में दर्शकों की मौजूदगी को इसका कारण बताया. राहुल ने कहा कि कई बार ऐसा होता है और कैच छूट जाते हैं. मैं इसका सही कारण नहीं बता सकता. लेकिन गेंद दर्शकों की तरफ जाती है तो यह थोड़ा मुश्किल हो जाता है. हम लंबे समय बाद दर्शकों के सामने खेल रहे हैं, इसलिए मुझे लगता है कि गेंद को पकड़ना थोड़ा मुश्किल हो सकता है. लिमिटेड ओवरों के उपकप्तान ने साथ ही कहा कि परिस्थितियां थोड़ी हवादार थीं. भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि आज यह थोड़ी हवादार थी. इसलिए ऐसा होता है.

यह भी पढ़ें : विराट कोहली और केएल राहुल ने खुद को बचाया, गेंदबाजों को फंसाया

इसके साथ ही लोकेश राहुल ने कहा है कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए दूसरे वनडे के बाद वह इस बात की समीक्षा करेंगे कि डॉट गेंदों की संख्या को कैसे कम किया जाए. राहुल ने 66 गेंदों पर 76 रन बनाए, लेकिन उन्होंने साथ ही 29 डॉट बॉल भी खेले और वह स्ट्राइक रोटेट करने में भी विफल रहे. राहुल ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, मैं खुद निजी रूप से बैठकर यह देखूंगा कि मैं कैसे कम से डॉट गेंदें खेलूं. एक खिलाड़ी के रूप में आप बेहतर होना चाहते हैं और आप अपनी टीम को जीत दिलाने के मौके देना चाहते हैं. अगर आप स्ट्राइक रोटेट कर सकते हैं और जितनी कम डॉट बॉल खेलेंगे, तो इससे आपकी टीम उतनी ही बेहतर स्थिति में होगी.
राहुल ने आगे कहा कि हार के बावजूद भारतीय टीम का ड्रेसिंग रूम का माहौल अभी भी सकारात्मक है. उन्होंने साथ ही कहा कि आस्ट्रेलियाई टीम इसलिए बेहतर प्रदर्शन कर पाएगी क्योंकि उन्होंने घरेलू परिस्थितियों का अच्छी तरह से फायदा उठाया. राहुल ने कहा, ड्रेसिंग रूम का माहौल अभी भी सकारात्मक है. कभी-कभी टीम के रूप में आप यह स्वीकार करना सीख जाते हैं कि सामने वाली टीम ने बेहतर क्रिकेट खेला है. घरेलू परिस्थितियों के कारण उन्होंने बेहतर क्रिकेट खेला. हमने लंबे समय के बाद 50 ओवर का क्रिकेट खेला है. 

यह भी पढ़ें : स्‍टीव स्‍मिथ बने मैन ऑफ द मैच, आईपीएल के बाद ऐसे बदली बल्‍लेबाजी

भारत ने अपनी पिछली वनडे सीरीज फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था, जिसमें उसे तीनों मैच में हार का सामना करना पड़ा था. भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, हम बहुत सारी चीजें कर रहे हैं, जोकि अच्छी है. हमें इन खूबसूरत विकेटों पर बेहतर गेंदबाजी करना होगा. लेकिन हमने ज्यादा गलत भी नहीं किया है.

 

First Published : 29 Nov 2020, 09:39:33 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.