News Nation Logo

आदित्य वर्मा ने BCCI को लिखी चिट्ठी, BCA मामले में कार्यवाही की मांग

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार (सीएबी) के सचिव आदित्य वर्मा ने बीसीसीआई की शीर्ष परिषद को पत्र लिख बिहार क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) के मामले में दखल देने को कहा है ताकि राज्य में खेल के भविष्य को नुकसान नहीं हो.

IANS | Updated on: 15 Aug 2020, 05:03:44 PM
aditya verma ians

आदित्य वर्मा (Photo Credit: IANS)

:

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार (सीएबी) के सचिव आदित्य वर्मा ने बीसीसीआई की शीर्ष परिषद को पत्र लिख बिहार क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) के मामले में दखल देने को कहा है ताकि राज्य में खेल के भविष्य को नुकसान नहीं हो. वर्मा ने जो पत्र लिखा है उसमें उन्होंने बीसीए में व्याप्त स्थिति का जिक्र किया है. वर्मा ने पत्र में लिखा, "मैं एक बार फिर आपका ध्यान बिहार क्रिकेट संघ में जो झगड़ा चल रहा है उसकी तरफ ले जाना चाहता हूं."

ये भी पढ़ें- टेस्ट मैचों में खराब रोशनी के नियम में होनी चाहिए रियायत: जेम्स एंडरसन

उन्होंने लिखा, "क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार की तरफ से याचिकाकर्ता के नाते, मैं आपको लगातार बीसीए के कामकाज और यह किस तरह राज्य के क्रिकेटरों का भविष्य को नुकसान पहुंचा रहे हैं, के बारे में बताता आ रहा हूं. लेकिन आपने अभी तक इस मामले पर ध्यान नहीं दिया." सीएबी के सचिव ने कहा है कि बीसीए एक गैरमान्यता प्राप्त संस्था है और पांच अगस्त 2018 को बिहार सरकार ने उसके संविधान को नकार दिया था. वर्मा ने लिखा, "बीसीए के अध्यक्ष जगन्नाथ सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में अवमानना का मामला दर्ज कराया है."

ये भी पढ़ें- अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी करने को बेताब वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डैरेन सैमी

उन्होंने लिखा, "सीओए ने बीसीए को एजीएम में शामिल होने और 23 अक्टूबर 2019 को हुए चुनावों में हिस्सा लेने की मंजूरी दे दी थी वो भी इस बात को जानते हुए कि बिहार सरकार ने इसे मान्यता नहीं दी है. सीओए ने तब बीसीए को 11 करोड़ की मदद दी जब उसने तमिलनाडु और हरियाण को फंड देने से मना कर दिया." उन्होंने कहा कि बीसीए गंभीर स्थिति में है और बीसीसीआई को उस पर तत्काल ध्यान देना चाहिए. उन्होंने कहा, "मैं आपसे अपील करता हूं कि आप बीसीए के मामले पर ध्यान दें ताकि राज्य में खेल को नुकसान न हो."

ये भी पढ़ें- टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की बुढ़ापे में हुई एंट्री, वायरल हुई सफेद दाढ़ी वाली तस्वीर

सीएबी के सचिव ने बताया कि उन्होंने पांच अगस्त को बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली को भी पत्र लिखा था और बीसीए के पंजीकृत न होने की बात बताई थी. वहीं बीसीए के सचिव संजय कुमार ने बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली और बीसीसीआई सचिव जय शाह को पत्र लिख बताया है कि बीसीए के अध्यक्ष राकेश कुमार तिवारी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है.

कुमार ने अपने पत्र में लिखा है, "मैं आपको बताना चाहता हूं कि बिहार क्रिकेट संघ के 38 पूर्ण सदस्य में से 23 पूर्ण सदस्यों ने सात अगस्त 2020 को लिखे पत्र के माध्यम से बीसीए की विशेष आम बैठक कराने की अपील की है." पत्र में आगे लिखा है, "इसलिए मेरे पास बीसीए का सचिव होने के नाते नोटिस जारी करने के अलावा कोई और विकल्प नहीं था."

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 15 Aug 2020, 05:03:44 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.