News Nation Logo

यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी पर कार्यवाही का जारी किया डाटा, इन केसों में होगी सजा

प्रदेश सरकार ने डाटा के जरिए बताया कि मुख्तार गैंग के अब तक 96 अभियुक्त गिरफ्तार किए जा चुके. 75 गुर्गों पर गैंगेस्टर की कार्यवाही यूपी पुलिस ने की है. मुख्तार गैंग के 72 सहयोगियों के शस्त्र लाइसेंसों का निरस्तीकरण किया गया.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 05 Apr 2021, 04:24:46 PM
Mukhtar Ansari

यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी पर कार्यवाही का जारी किया डाटा (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • मुख्तार अंसारी पर उत्तर प्रदेश भर में 52 मुकदमे
  • 15 विचाराधीन मुकदमों में मुख्तार को जल्द सजा दी जाए जाने का प्रयास
  • मुख्तार अंसारी के बिहार के सहाबुद्दीन गैंग से भी संपर्क

लखनऊ:

माफिया डॉन मुख्तार अंसारी को लेकर यूपी सरकार ने अब तक की कार्यवाही का डाटा जारी किया है. जारी डाटा के अनुसार मुख्तार अंसारी पर उत्तर प्रदेश में 52 मुकदमे दर्ज हैं. साथ ही 15 विचाराधीन मुकदमों में मुख्तार को जल्द सजा दी जाए जाने का प्रयास है. वहीं, मुख्तार अंसारी के बिहार के सहाबुद्दीन गैंग से भी संपर्क किया है. उत्तर प्रदेश के द्वारा मुख्तार अंसारी पर कार्यवाही के डाटा के अनुसार, मुख्तार अंसारी और उसके गैंग की 192 करोड़ से ज्यादा की संपत्तियों के जब्तीकरण और ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की गई है. डाटा में बताया गया है कि मुख्तार गैंग की अवैध और बेनामी संपत्तियों का चिन्हीकरण लगातार जारी है.

यह भी पढ़ें : राजस्थानः मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जनता से की वैक्सीन लगवाने की अपील

प्रदेश सरकार ने डाटा के जरिए बताया कि मुख्तार गैंग के अब तक 96 अभियुक्त गिरफ्तार किए जा चुके. 75 गुर्गों पर गैंगेस्टर की कार्यवाही यूपी पुलिस ने की है. मुख्तार गैंग के 72 सहयोगियों के शस्त्र लाइसेंसों का निरस्तीकरण किया गया. साथ ही मुख्तार गैंग से जुड़े 7 ठेकेदारों पर भी कार्यवाही की गई. फर्जी एंबुलेंस मामले में मुख्तार अंसारी पर बाराबंकी में भी मुकदमा दर्ज हुआ है.

यह भी पढ़ें : रविशंकर प्रसाद का उद्धव पर हमला, कहा- 'ये महाअघाड़ी नहीं, महावसूली सरकार है'

वहीं, जेल मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने मुख्तार अंसारी के यूपी रवानगी को लेकर हंसते हुए कहा कि आपको ज्यादा खुशी उनके घर वापसी की लगती है और जो एंबुलेंस का मुद्दा लगातार हो रहा है वह जेल विभाग का मुद्दा नहीं है क्योंकि जिन पुलिस अधिकारियों ने उस को कोर्ट में पेश किया वह जिम्मेदारी उनकी बनती है कि आखिर वह एंबुलेंस से जुड़ी हुई बातें क्या है सही है या गलत है यह मेरे विभाग से संबंध नहीं रखता.

यह भी पढ़ें : हमारा सपना दिल्ली में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने का है : कैलाश गहलोत

जेल मंत्री ने कहा कि जब पुलिस पार्टी आएगी तो अंसारी को उनके हाथ सौंप दिया जाएगा बाकी रही बात वह कोई ऐसे शक तो नहीं है जिसको हम वीआईपी ट्रीटमेंट दें और 21 तोपों की सलामी दे जैसे ही बाकी क्रिमिनल जाते हैं उसी तरह से अंसारी भी जाएगा रंधावा ने बताया कि बंदी से पहले पहले अगर पुलिस टीम आ जाती है तो वह पुलिस टीम को सौंप दिया जाएगा अन्यथा अगर 6:00 बजे से पहले पुलिस पार्टी आ जाती है तो सौंप दिया जाएगा अन्यथा यह पूरा प्रोसेस कल पर जाएगा.

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 05 Apr 2021, 03:58:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो