News Nation Logo
कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

टिक गए टिकैत, राकेश के रोने से भड़का आंदोलन, आज महापंचायत का ऐलान

राकेश टिकैत मीडिया के सामने रोते दिखे. टिकैत ने आत्महत्या करने तक की धमकी दी. साथ ही ऐलान किया कि जब तक उनके गांव के लोग उनके लिए पानी लेकर नहीं आएंगे तब तक वह पानी नहीं पीएंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 29 Jan 2021, 12:06:41 AM
Rakesh tikait

राकेश के रोने से भड़का आंदोलन, महापंचायत का ऐलान (Photo Credit: न्यूज नेशन )

नई दिल्ली:

गणतंत्र दिवस के मौके पर किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के बाद पूरे आंदोलन का अंतिम वक्त आ गया है. पुलिस गाजीपुर बॉर्डर पर डटे आंदोलनकारियों पर एक्शन की तैयारी में दिख रही है. वहीं, इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत मीडिया से बात करते हुए भावुक हो गए. टिकैत पुलिस-प्रशासन पर गलत कार्रवाई का आरोप लगाते हुए रो पड़े. जिसके बाद मुजफ्फरनगर में समर्थकों के जुटने पर किसान नेता नरेश टिकैत पंचायत को संबोधित किया.

यह भी पढ़ें : गाजीपुर बॉर्डर पर तनाव, राहुल गांधी बोले- मेरा फैसला साफ है, प्रियंका ने लिखा- 'देशद्रोही'

बता दें कि शाम तक किसान और खुद राकेश टिकैत इस बात पर सहमत दिख रहे थे कि, आंदोलन को गुरुवार रात ही खत्म कर दिया जाएगा. गाजियाबाद का प्रशासन भी इसे लेकर आश्वस्त था. राकेश टिकैत के परिवार की महिलाएं उनसे मिलकर गई थीं, लेकिन पुलिस और प्रशासन के अफसरों से मिलने के बाद राकेश टिकैत का रुख बदल गया. 

यह भी पढ़ें : न्यूज नेशन के सवाल से भागे राकेश टिकैत, समर्थकों ने की रिपोर्टर से बदसलूकी

राकेश टिकैत मीडिया के सामने रोते दिखे. टिकैत ने आत्महत्या करने तक की धमकी दी. साथ ही ऐलान किया कि जब तक उनके गांव के लोग उनके लिए पानी लेकर नहीं आएंगे तब तक वह पानी नहीं पीएंगे. राकेश टिकैत की इस धमकी का असर मुजफ्फरनगर में उनके गांव सिसौली में दिखे गया. भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत जो दोपहर को आंदोलन खत्म होने का ऐलान कर रहे थे, रात को ही पंचायत बुला ली.

यह भी पढ़ें : राकेश टिकैत ने किया अनशन का ऐलान, कहा- पानी नहीं पीऊंगा

दरअसल, बलियान खाप पश्चिम यूपी में जाटों की सबसे बड़ी खाप पंचायत है और उसके अध्यक्ष भी नरेश टिकैत ही हैं. नरेश टिकैत राकेश टिकैत के बड़े भाई हैं. गुरुवार को मुजफ्फरनगर में हुई पंचायत के बाद नरेश टिकैत ने ऐलान किया है कि कल सुबह 11 बजे तक मुज़फ्फरनगर सिटी के राजकीय इंटर कॉलेज में किसान जमा होंगे. इस पंचायत में आगे की रणनीति बनाई जाएगी. कहा जा रहा है कि कल कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है.

First Published : 29 Jan 2021, 12:00:39 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो