News Nation Logo

भाषा विवाद को लेकर कनिमोई पर भाजपा नेता बी एल संतोष का प्रहार: प्रचार अभियान शुरू हो गया

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की एक अधिकारी के कथित बयान से संबंधित घटना को लेकर द्रमुक सांसद कनिमोई पर वस्तुत: प्रहार करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता बी एल संतोष ने रविवार को कहा कि तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए ‘प्रचार अभियान शुरू हो’ गया

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 09 Aug 2020, 10:48:19 PM
New Project  8

बीएल संतोष (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:

 केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की एक अधिकारी के कथित बयान से संबंधित घटना को लेकर द्रमुक सांसद कनिमोई पर वस्तुत: प्रहार करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता बी एल संतोष ने रविवार को कहा कि तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए ‘प्रचार अभियान शुरू हो’ गया है. दरअसल, द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) की सांसद कनिमोई ने आरोप लगाया था कि हिंदी नहीं आने के कारण सीआईएसएफ की एक अधिकारी ने उनसे पूछा कि ‘‘क्या वह भारतीय हैं.’’ तमिलनाडु में अगले साल की पहली छमाही में विधानसभा चुनाव होने हैं.

यह भी पढ़ें- आगामी संसद सत्र में ही लाएं जनसंख्या नियंत्रण बिल, बीजेपी सांसद ने की पीएम मोदी से मांग

भाजपा महासचिव (संगठन) संतोष ने ट्वीट किया, ‘‘ विधानसभा चुनाव के अभी आठ महीने हैं... चुनाव प्रचार शुरू हो गया.’’ उनका यह ट्वीट कनिमोई के ट्वीट के जवाब में आया है. कनिमोई ने ट्वीट किया था, ‘‘ आज हवाई अड्डे पर जब मैंने सीआईएसएफ की एक अधिकारी से कहा कि वह मुझसे तमिल या अंग्रेजी में बात करे क्योंकि मैं हिंदी नहीं जानती, तब उन्होंने मुझसे पूछा कि ‘क्या मैं भारतीय हूं’.’’

द्रमुक की महिला शाखा की सचिव ने ‘हिंदी थोपना’ हैशटैग का इस्तेमाल किया. पार्टी सूत्रों ने बताया कि चेन्नई हवाई अड्डे पर यह घटना उस वक्त हुई, जब दोपहर में कनिमोई दिल्ली की उड़ान में सवार होने के लिये वहां पहुंची थी. तमिलनाडु से ताल्लुक रखने वाले कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने भाजपा नेता पर प्रहार करते हुए ट्वीट किया, ‘‘ संतोष ध्यान रखिए, यह अहंकार आपको महंगा पड़ेगा.

यह भी पढ़ें- कांग्रेस पार्टी को जल्दी ही मिलेगा नया राष्ट्रीय अध्यक्ष, अभिषेक मनु सिंघवी ने बताई ये वजह 

जब सीआईएसएफ मुख्यालय .. एक व्यक्ति की गलती का संज्ञान लेने को तैयार है तो आप इसे भाजपा बनाम द्रमुक क्यों बनाते हैं. जब बेंगलुरु हवाई अड्डे पर कोई आपसे पूछेगा कि क्या आप भारतीय हैं? तो आप क्या करेंगे?’’ संतोष ने जब जवाब दिया, ‘‘ नंदरी वनक्कुम. सीआईएसएफ ने उनसे ब्योरा देने को कहा है. उन्हें ब्योरा देने दीजिए. तब कार्रवाई होगी. तब हम अहंकार पर चर्चा करें.’’

भाजपा के दक्षिण भारत में प्रतिद्वंद्वियों ने उस पर इस क्षेत्र में हिंदी थोपने का काम करने का आरोप लगाया है. भाजपा ने इस आरोप से इनकार किया है और कहा है कि वह सभी भारतीय भाषाओं के पक्ष में है. कनिमोई ने ट्विटर पर यह भी लिखा था, ‘‘मैं जानना चाहूंगी कि कब से भारतीय होना हिंदी जानने के समान हो गया है.’’

यह भी पढ़ें- सोमवार को रिया के साथ उसके भाई, पिता और सिद्धार्थ पीठानी ईडी के सामने होंगे पेश

इसके तत्काल बाद सीआईएसएफ ने उनसे इस घटना का पूरा ब्योरा मांगा. सीआईएसएफ ने ट्वीट किया, ‘‘ सीआईएएफ मुख्यालय से आपको शुभकामनाएं. हम आपके इस अरूचिकर अनुभव का गंभीरता से संज्ञान लेते हैं. कृपया हमें हवाईअड्डे का नाम, स्थान, घटना की तारीख और समय जैसी सूचनाएं भेजें, ताकि इस मामले में उपयुक्त कार्रवाई की जा सके.’’ सीआईएसएफ ने कहा है कि उसने मामले की जांच के आदेश दिये हैं. उसने कहा कि किसी विशेष भाषा पर जोर देना उसकी नीति नहीं है. भाषा राजकुमार दिलीप दिलीप

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 Aug 2020, 10:48:19 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.