News Nation Logo

कांग्रेस पार्टी को जल्दी ही मिलेगा नया राष्ट्रीय अध्यक्षः अभिषेक मनु सिंघवी

मीडिया के साथ ऑनलाइन बातचीत में कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने कहा कि यह सही है कि अंतरिम अध्यक्ष के रूप में पदभार संभालने के एक साल बाद सोनिया गांधी का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 10 Aug 2020, 12:30:49 AM
Abhishek Manu Singhvi

अभिषेक मनु सिंघवी (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्‍ली:

कांग्रेस ने रविवार को कहा कि जब तक पार्टी प्रमुख चुनने के लिए ‘उचित प्रक्रिया’ का पालन नहीं होता है, सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी. मीडिया के साथ ऑनलाइन बातचीत में कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी (Abhishek Manu Singhvi) ने कहा कि यह सही है कि अंतरिम अध्यक्ष के रूप में पदभार संभालने के एक साल बाद सोनिया गांधी का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है, लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि पद उसी दिन स्वत: खाली हो जाएगा. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, सोनिया गांधी अघ्यक्ष हैं और जब तक उचित प्रक्रिया का पालन नहीं होता है, वह पद पर बनी रहेंगी और इसका निकट भविष्य में ही पालन किया जाएगा.

उन्होंने कहा, हां, उनका कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है. लेकिन निश्चिंत रहें कि एक प्रक्रिया है जिसका सीडब्ल्यूसी के माध्यम से पालन किया जाता है. इसका निकट भविष्य में पालन किया जाएगा और उसका परिणाम सामने आएगा. सिंघवी ने कहा कि प्रक्रिया कांग्रेस के संविधान में लिखित है और पार्टी उसका पालन करने के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि इसका पालन किया जा रहा है और इस बारे सूचना जल्दी ही साझा की जाएगी. अंतरिम अध्यक्ष के रूप में सोनिया गांधी का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त होने के बाद की स्थिति को लेकर उत्पन्न भ्रम के बारे में पूछने पर सिंघवी ने कहा कि यह बिल्कुल स्पष्ट है कि न ही प्रकृति और न ही राजनीति, न ही राजनीतिक दल, रिक्तता/खालीपन को बर्दाश्त करते हैं या उसकी अनुमति देते हैं.

यह भी पढ़ें-Rajasthan Crisis: कांग्रेस के बाद अब बीजेपी ने की विधायकों की बाड़ेबंदी

कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर बोले शशि थरूर
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने रविवार को कहा कि पार्टी के लक्ष्यहीन और दिशाहीन होने की लोगों में बढ़ती धारणा को खत्म करने के लिए इसे एक पूर्णकालिक अध्यक्ष ढूंढ़ने की प्रक्रिया अवश्य ही तेज करनी चाहिए. थरूर ने यह भी कहा कि उन्हें निश्चित रूप से से ऐसा लगता है कि पार्टी का एक बार फिर से नेतृत्व करने के लिए राहुल गांधी के पास साहस, क्षमता और योग्यता है, लेकिन यदि वह ऐसा नहीं करना चाहते हैं तो पार्टी को एक नया अध्यक्ष चुनने की दिशा में अवश्य ही आगे बढ़ना चाहिए. उनकी यह टिप्पणी काफी मायने रखती है क्योंकि यह सोनिया गांधी के कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर 10 अगस्त को एक साल पूरा करने से ठीक पहले (पूर्व संध्या पर) आई है. वहीं, अब भी पार्टी द्वारा उनके उत्तराधिकारी को चुना जाना बाकी है. 

यह भी पढ़ें-कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी के खिलाफ FIR, पीएम मोदी की फोटो के साथ छेड़छाड़ का आरोप

राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने के सवाल पर बोले थरूर
पार्टी अध्यक्ष के रूप में राहुल गांधी की वापसी की कांग्रेस में बढ़ती मांग और क्या उनका फिर से कमान संभालना सर्वश्रेष्ठ संभावित परिदृश्य होगा, इस बारे में पूछे जाने पर थरूर ने कहा , बेशक, यदि राहुल गांधी फिर से नेतृत्व करने के लिए तैयार हैं तो उन्हें अपना इस्तीफा वापस लेना होगा. वह दिसंबर 2022 तक सेवा देने के लिए चुने गए थे और उन्हें फिर से बागडोर थामनी होगी. उन्होंने कहा, लेकिन यदि वह (राहुल) ऐसा नहीं करते हैं तो हमें आगे बढ़ना होगा. मेरा यह निजी विचार है, जो आप जानते हैं कि मैं कुछ समय से इसकी हिमायत करता आ रहा हूं, यह कि कांग्रेस कार्य समिति और अध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराए जाने से निश्चित रूप से पार्टी के हित में कई परिणाम आएंगे. केरल के तिरूवनंतपुरम से लोकसभा सदस्य ने कहा एक सहभागी लोकतांत्रिक प्रक्रिया भावी नेतृत्व की विश्वसनीयता और वैधता को मजबूती प्रदान करेगी, जो एक महत्वपूर्ण चीज होगी क्योंकि वह पार्टी में नयी ऊर्जा का संचार करने के साथ सांगठनिक चुनौतियों से उत्साहपूर्ण तरीके से निपटेगी. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 Aug 2020, 10:10:52 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.