News Nation Logo

कृषि कानून को लेकर भिड़े केजरीवाल और अमरिंदर

एक ओर जहां आप प्रमुख ने पंजाब विधानसभा में पारित कानूनों की वैधता पर सवाल उठाया, वहीं सिंह ने विपक्ष को ‘दोहरा मानदंड’ रखने वाला बताया.

By : Nihar Saxena | Updated on: 22 Oct 2020, 07:13:18 AM
Arvind Kejriwal Captian Amrinder Singh

कृषि कानून पर भिड़े अमरिंदर सिंह औऱ अरविंद केजरीवाल. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) केंद्र द्वारा हाल ही में लाए गए कृषि कानूनों को लेकर आपस में भिड़ गए. एक ओर जहां आप प्रमुख ने पंजाब विधानसभा में पारित कानूनों की वैधता पर सवाल उठाया, वहीं सिंह ने विपक्ष को ‘दोहरा मानदंड’ रखने वाला बताया.

यह भी पढ़ेंः 30 लाख कर्मियों को बोनस, J&K में पंचायती राज कानून को मंजूरी

दोनों में आरोप-प्रत्यारोप
सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि मंगलवार को विधानसभा के भीतर केंदर के कृषि कानूनों को निष्प्रभावी बनाने के लिए पारित किए गए विधेयकों का शिअद और आप सहित विपक्ष ने समर्थन किया, लेकिन अब बाहर निकलकर उसका विरोध कर रहे हैं. सिंह ने केजरीवाल को चुनौती देते हुए कहा कि वह भी पंजाब के उदाहरण का पालन करें और किसानों को बचाएं. इसपर पलटवार करते हुए केजरीवाल ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री सिंह ने अपने ‘ड्रामा’ से लोगों को ‘बेवकूफ’ बनाया है और उन्हें ‘धोखा’ दिया है. 

यह भी पढ़ेंः जमुई में गरजे योगी, कहा- बीजेपी के लिए पूरा देश परिवार, कुछ के लिए पार्टी

'अरविंद केजरीवाल अज्ञानी'
इस पर सिंह ने कहा कि आप नेता की टिप्पणी उनकी ‘अज्ञानता’ को दिखाती है और उन्हें आश्चर्य नहीं है क्योंकि दिल्ली पूर्ण राज्य नहीं है. सिंह ने केजरीवाल से पूछा, ‘आप किसानों के साथ है या उनके खिलाफ.’ चंडीगढ़ में सिंह ने कहा, ‘मुझे आश्चर्य हो रहा है कि विधानसभा में उन्होंने (शिअद और आप) विधेयक के पक्ष में बोला और अब कुछ और बोल रहे हैं.’ सिंह ने कहा, ‘यह उनके दोहरे मानदंड को दिखाता है.’ 

यह भी पढ़ेंः  राजनाथ सिंह ने BJP-JDU की तुलना सचिन-सहवाग की जोड़ी से की

'राजा साहिब ने किया ड्रामा'
इस पर केजरीवाल ने ट्वीट किया है, ‘राजा साहिब, आप केंद्र के कानूनों में संशोधन कर रहे हैं. क्या कोई राज्य केंद्र के कानूनों में बदलाव कर सकता है? नहीं. आपने सिर्फ ड्रामा किया. आपने लोगों को बेवकूफ बनाया. कल आपने जो कानून पारित किए हैं, क्या उससे किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य प्राप्त होगा? नहीं. किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य चाहिए, आपके झूठे कानून नहीं.’ गौरतलब है कि पंजाब विधानसभा ने मंगलवार को केंद्र के नये कृषि कानूनों को खारिज करने के लिए एक प्रस्ताव पारित किया और चार विधेयक पारित करते हुए कहा कि यह संसद द्वारा बनाए गए कानूनों की काट साबित होंगे.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 22 Oct 2020, 07:13:18 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.