News Nation Logo

फेसबुक विवाद पर अमित मालवीय ने कहा, 'चोर मचाए शोर'

देश में लगातार फेसबुक विवाद बढ़ता जा रहा है. बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि कांग्रेस का आरोप गलत है. उन्होंने दावा किया कि लोकसभा चुनाव से पहले लगभग 700 कांग्रेस और लेफ्ट विरोधी पेज और ग्रुपों को बंद किया गया था.

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 17 Aug 2020, 10:52:13 PM
Amit malviya

अमित मालवीय। (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश में द वॉल स्ट्रीट जर्नल के रिपोर्ट के बाद से लगातार फेसबुक विवाद बढ़ता जा रहा है. बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि कांग्रेस का आरोप गलत है. उन्होंने दावा किया कि लोकसभा चुनाव से पहले लगभग 700 कांग्रेस और लेफ्ट विरोधी पेज और ग्रुपों को बंद किया गया था.

अमेरिकी अखबार द वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक खबर का हवाला देते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि बीजेपी और आरएसएस भारत में फेसबुक और व्हाट्सएप को कंट्रोल कर रही है. ये सोशल मीडिया के जरिए नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं.

राहुल गांधी की इसी प्रतिक्रिया पर अमित मालवीय ने कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने कैंब्रिज एनालिटिका के साथ मिलकर फेसबुक के डेटा का दुरुपयोग किया था जिसकी जांच चल रही है.

यह भी पढ़ें- नंदोलिया ऑर्गेनिक कैमिकल की फैक्ट्री में धमाका, एक की मौत, 3 घायल

बीजेपी नेता ने कहा कि अगर हेट स्पीट की बात करेंगे तो सोनिया गांधी ने दिल्ली दंगों से पहले भड़काऊ भाषण दिया था. उस वक्त उन्होंने कहा था कि आर-पार की लड़ाई होनी चाहिए. मालवीय ने आगे कहा कि सोनिया के भाषण को कांग्रेस ने अपने फेसबुक पेज से लाइव किया था. क्या ऐसे में दिल्ली दंगों के लिए सोनिया गांधी के भाषण को भड़काऊ या जिम्मेदार मानना चाहिए.

अमित मालवीय ने कहा कि कांग्रेस और लेफ्ट विचारधारा के लोग फेसबुक से लेकर तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पीएम मोदी और बीजेपी के खिलाफ कुछ भी लिखते बोलते हैं. हम भी कह सकते हैं कि फेसबुक ऐसे लोगों के प्रति नरम रुख रखता है.

यह भी पढ़ें- मशहूर शास्त्रीय गायक पंडित जसराज का निधन, अमेरिका के न्यूजर्सी में ली आखिरी सांस

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास अब कोई मुद्दा और जनाधार नहीं बचा है. इसलिए वो इस तरह की चीजों को मुद्दा बनाने का प्रयास करती है. उन्होंने एक ट्वीट में यह कहा कि

फेसबुक इंडिया के एमडी, अजीत मोहन, यूपीए सरकार में योजना आयोग के साथ काम कर चुके हैं. सिद्धार्थ मजूमदार ने अहमद पटेल के लिए काम किया है. अनखी दास का परिवार टीएमसी और मनीष खंडूरी के साथ गठबंधन में है. फेसबुक में समाचार साझेदारी के पूर्व प्रमुख, 2019 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े हैं!

यह भी पढ़ें- जेल जाते वक्त विधायक विजय मिश्र ने सीएम योगी को हटाने की चुनौती दी है

अमित मालवीय ने कहा कि शशि थरूर IT मामलों से जुड़े संसदीय समिति के अध्यक्ष हैं. वह कह रहे हैं कि इस मुद्दे पर फेसबुक के अधिकारियों को समिति के सामने तलब करेंगे. तो मैं शशि थरूर को एक बात कहना चाहता हूं कि वह कैंब्रिज एनालिटिका डेटा दुरुपयोग मामले में फंसे हैं. वह अब हम पर आरोप लगा रहे हैं. मतलब साफ है-चोर मचाए शोर.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Aug 2020, 10:52:13 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.