News Nation Logo
रामनगर-रानीखेत मार्ग स्थित लेमन ट्री रिसॉर्ट में फंसे करीब 200 लोगों को सुरक्षित निकाला गया Kalchanth में रूद्रनाथ ट्रेक मार्ग पर फंसे कोलकाता के 10 लोगों को रेस्क्यू कर गोपेश्वर पहुंचाया गया दिल्ली परिवहन विभाग का वैध पीयूसी प्रमाण पत्र न रखने वाले वाहनों के खिलाफ पेट्रोल पंपों पर अभियान पन्ना: देर रात तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवारों को रौंदा पन्ना: बाइक सवार दो लोगों की घटनास्थल पर दर्दनाक मौत, एक गंभीर घायल पन्ना: बनहरी गांव के बताए जा रहे हैं दोनों मृतक Police Commemoration Day के लिए आज राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर फुल ड्रेस रिहर्सल का आयोजन किया गया नैनीताल: मलबे, बॉल्डर और पेड़ो की चपेट में आए तीन घर नैनीताल के बिरला क्षेत्र के कुमाऊं लॉज में देर रात भारी भूस्खलन गृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा के 'सेवा ही संगठन' कार्यक्रम के तहत 'मोदी वैन' पहल को हरी झंडी दिखाई मैं PM नरेंद्र मोदी, अमित शाह, जे.पी. नड्डा और राजनाथ सिंह का आभार व्यक्त करता हूं: बाबुल सुप्रियो जिस पार्टी के लिए मैंने 7 साल मेहनत की, उसे छोड़ते वक्त दिल व्यथित था: बाबुल सुप्रियो बिहार: CBSE ने 10वीं और 12वीं कक्षा के टर्म-1 की डेटशीट जारी की युवाओं को रोजगार देने दिल्ली सरकार लांच करेगी रोजगार 2.0 एप सेना प्रमुख एमएम नरवणे जम्मू के दो दिवसीय दौरे पर, लेंगे सुरक्षा का जायजा बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे हमलों को लेकर देश में उबाल नैनीताल में बादल फटने से तबाही का आलम. रामनगर के रिसॉर्ट में 100 लोग फंसे उत्तराकंड के सीएम ने जलप्रलय वाले स्थानों का दौरा किया

साइकिलिंग केवल वज़न ही नहीं कम करेगी, इस बीमारी से भी दिलाएगी छुटकारा

वज़न कम करने के लिए साइकिलिंग को बेस्ट वर्कआउट माना जाता है. कोरोना के चलते लोगों में साइकिल चलाने की दिलचस्पी बहुत ज्यादा देखी गई है. लंबे समय तक जिम बंद रहने से लोगों ने साइकिल चलाकर खुद को फिट रखा है. साइकिल चलाना सेहत, दिल और दिमाग सभी के लिए भी

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 15 Aug 2021, 05:37:53 PM
Cycling

Cycling (Photo Credit: न्यूज़ नेशन)

नई दिल्ली:

वज़न कम करने के लिए साइकिलिंग को बेस्ट वर्कआउट माना जाता है. कोरोना के चलते लोगों में साइकिल चलाने की दिलचस्पी बहुत ज्यादा देखी गई है. लंबे समय तक जिम बंद रहने से लोगों ने साइकिल चलाकर खुद को फिट रखा है. साइकिल चलाना सेहत, दिल और दिमाग सभी के लिए भी जरूरी है. साइकिल चलाने से दिल और दीमाग दोनों मजबूत होते हैं. बता दें, पुराने समय में लोग साइकिल चलाना स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा मानते थे लेकिन आज कल के लोग साइकिल चलाने की बजाय कार में राइड पर जाना और बाइक्स पर घूमना ज्यादा पसंद करते हैं.  जिससे स्वास्थ्य को किसी तरह का कोई लाभ नहीं मिलता बल्कि साइकिल चलाने से केवल आप स्वस्थ ही नहीं बल्कि बीमारियों से भी मुक्त रहते हैं. 

यह भी पढ़े : उनके जीवन में नई रोशनी लाएगी दलित बंधु योजना:के. चंद्रशेखर राव

ऐसी दुनिया में जहां बहुत सारे फैंसी फिटनेस रूटीन हैं, लेकिन किसी एक को चुनना और उस पर टिके रहना बहुत मुश्किल होता है. हम एक फिटनेस रूटीन से दूसरे फिटनेस रूटीन पर फॉलो करते हैं या अक्सर पूरी प्रक्रिया के दौरान एक्सरसाइज़ करना ही छोड़ देते हैं. यदि आप भी अपने वर्कआउट रूटीन के बारे में अनिश्चित हैं, तो हम आपको साइकिल चलाने की सलाह देंगे. जैसा कि हम सभी जानते हैं कि साइकिल चलाने से कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं. साइकिल चलाने से दिल की बीमारी जैसे कि स्ट्रोक और दिल का दौरा नहीं पड़ता है. यह डिप्रेशन, मोटापा और कई तरह के कैंसर के खतरे को कम करने में भी फायदेमंद साबित होता है. अब साइकिल चलाने के फायदों की लंबी लिस्ट में एक और नया फायदा जोड़ा गया है. जामा इंटरनल मेडिसिन में पब्लिश की गई नई रिसर्च के मुताबिक, साइकिल चलाने से डायबीटीज़ के साइन्स को भी काफी कम किया जा सकता है. 

यह भी पढ़े : काबुल की सड़कों पर झंडे के साथ दिखे तालिबानी आतंकवादी

स्टडीज़ के लिए, रिसर्चर माथियास रीड-लार्सन ने डायबीटीज़ से पीड़ित 7,000 से अधिक अडल्ट्स के स्वास्थ्य डेटा की जांच की थी. जिसे यूरोपीय संभावित जांच से कैंसर और पोषण स्टडीज़ में इक्ट्ठ्ठा किया गया था. डेटा में 1992 से 2000 तक 10 पश्चिमी यूरोपीय देशों में प्रशासित चिकित्सा इतिहास, समाजशास्त्र और जीवन शैली की जानकारी के बारे में एक क्वेशनेयर था. जिसमें सभी पार्टिसिपेंट्स की उम्र लगभग 56 साल थी और स्टडीज़ के अंत तक उनमें से लगभग 1,700 की मौत हो गई थी. स्टडीज़ के आधार पर, रिसर्चरस की टीम ने ये निष्कर्ष निकाला कि पांच साल से अधिक समय तक रोजाना साइकिल चलाने से सभी कारणों से अचानक होने वाली मृत्यु के जोखिम को 35 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है.

यह भी पढ़े : तालिबान का नया फरमान- दूसरे देश के लोग जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं, लेकिन...

साइकिल चलाना एक एरोबिक एक्टिविटी है. साइकिल चलाते समय दिल, रक्त वाहिकाओं (Blood cells) और फेफड़ों (Lungs) इन सभी की एक्सरसाइज़ हो जाती है. शरीर में ऑक्सीजन की जरूरत बढ़ जाती है और शरीर का तापमान भी बढ़ता जाता है. साइक्लिंग की एक्सरसाइज के जरिए एक हफ्ते में कम से कम 2 हजार कैलोरी बर्न की जा सकती हैं. जितनी ज्यादा साइकिल चलाई जाएगी उतनी ही अधिक कैलोरी बर्न होंगी. यहां तक कि रोज़ साइकिल चलाने से तनाव और चिंता जैसी गंभीर समस्याओं को भी कम किया जा सकता है.

यह भी पढ़े : असद ने सीरिया के लिए नई प्राथमिकता के रूप में उत्पादन पर जोर दिया

First Published : 15 Aug 2021, 05:36:13 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो