News Nation Logo
अनन्या पांडे से सोमवार को फिर पूछताछ करेगी NCB अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ DRDO ने ओडिशा के चांदीपुर रेंज से हाई-स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का सफल परीक्षण किया कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

किसान आंदोलन में अपना नाम घसीटे जाने के बाद अडानी समूह ने दिया ये बड़ा बयान

विज्ञापन के माध्यम से अडानी समूह ने स्पष्ट किया है कि कंपनी के पास भंडारण की मात्रा तय करने और अनाज के मूल्य निर्धारण करने में कोई भूमिका नहीं है, क्योंकि वह केवल एफसीआई के लिए एक सेवा बुनियादी ढांचा प्रदाता कंपनी है.

IANS | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 19 Dec 2020, 03:40:57 PM
Adani AD

Adani AD (Photo Credit: IANS )

नई दिल्ली :

कृषि सुधार संबंधी कानूनों के खिलाफ किसान विरोध प्रदर्शनों में अपना नाम गूंजने के बीच अडाणी समूह (Adani Group) ने उत्तर भारतीय और पंजाब प्रकाशनों में विज्ञापन के जरिए अपनी सफाई पेश की है. अडानी समूह ने विज्ञापन में कहा है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि किसान कल्याण के लिए काम करने वाली कंपनी को निहित स्वार्थो द्वारा बदनाम किया जा रहा है. पंजाब प्रकाशनों में पूरे पृष्ठ के विज्ञापनों में अडानी समूह ने लोगों से इस दुष्प्रचार अभियान के खिलाफ आवाज उठाने को कहा है.

यह भी पढ़ें: ITR फाइल करने के लिए बचे हैं बस कुछ ही दिन, जल्दी करें नहीं तो हो जाएगी दिक्कत

भंडारण की मात्रा तय करने और अनाज के मूल्य निर्धारण करने में कोई भूमिका नहीं: अडानी समूह 
अडानी ने उनके खिलाफ चल रहे अभियान को दुष्प्रचार के साथ ही झूठा भी करार दिया, जिसमें चल रहे किसान आंदोलन के बीच यह कहा जा रहा है कि अडानी किसानों से सीधे तौर पर खरीद करता है और जमाखोरी करता है. यह भी आरोप लगाए जा रहे हैं कि अडानी कॉन्ट्रैक्ट फार्मिग के जरिए किसानों का शोषण कर रहे हैं. इसके अलावा अडानी द्वारा बड़े पैमाने पर कृषि भूमि का अधिग्रहण करने के बारे में भी खूब बाते हो रही हैं. इस बीच विज्ञापन के माध्यम से अडानी समूह ने स्पष्ट किया है कि कंपनी के पास भंडारण की मात्रा तय करने और अनाज के मूल्य निर्धारण करने में कोई भूमिका नहीं है, क्योंकि वह केवल एफसीआई के लिए एक सेवा बुनियादी ढांचा प्रदाता कंपनी है.

यह भी पढ़ें: RBI ने PMC Bank पर लगी पाबंदियां 31 मार्च 2021 तक बढ़ाई

किसानों से अनाज खरीदने और कॉन्ट्रैक्ट खेती में शामिल शामिल नहीं: अडानी समूह 
एफसीआई किसानों से खाद्यान्न खरीदता है और सार्वजनिक-निजी भागीदारी के माध्यम से निर्मित साइलो में इन्हें संग्रहित करता है. निजी कंपनियों को खाद्यान्न भंडार स्थान के निर्माण और भंडारण के लिए शुल्क का भुगतान किया जाता है, लेकिन इन जिंसों के स्वामित्व के साथ-साथ इसके विपणन और वितरण का अधिकार, एफसीआई के पास है. अडानी समूह ने कहा है कि वह किसानों से अनाज खरीदने में संलग्न नहीं है और न ही वह अनुबंध खेती में शामिल है. इसके अलावा यह बात भी स्पष्ट की गई है कि वह कृषि भूमि का अधिग्रहण भी नहीं करते हैं.

यह भी पढ़ें: सरकार का बड़ा फैसला, अमेरिका को 8,424 टन कच्ची चीनी निर्यात की दी अनुमति

अडानी समूह ने कहा है कि वह न तो किसानों से खाद्यान्न खरीदते हैं और न ही खाद्यान्न का मूल्य तय करते हैं। बंदरगाह से लेकर ऊर्जा कारोबार से जुड़ी कंपनी ने स्पष्ट किया है कि वह केवल भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के लिए अनाज भंडारण के साइलो विकसित करती है और इसे संचालित करती है. कंपनी ने स्पष्ट करते हुए कहा, अनाज के भंडारण और मूल्य निर्धारण की मात्रा तय करने में कंपनी की कोई भूमिका नहीं है, क्योंकि यह केवल एफसीआई के लिए एक सेवा और बुनियादी ढांचा प्रदाता कंपनी है.

First Published : 19 Dec 2020, 02:25:25 PM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.