News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

2021 में सिर्फ भारतीय अर्थव्यवस्था में होगी डबल डिजिट ग्रोथ, IMF ने जारी किया अनुमान

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund-IMF): कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में भारत पूरी दुनिया में इकलौती ऐसी अर्थव्यवस्था है जिसकी आर्थिक वृद्धि दर दहाई अंक में होने का अनुमान लगाया गया है.

Written By : धीरेंद्र कुमार | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 28 Jan 2021, 10:02:20 AM
International Monetary Fund-IMF-Indian Economy

International Monetary Fund-IMF-Indian Economy (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली :

आगामी वित्त वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था में काफी तेज रिकवरी का अनुमान है. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund-IMF) की ताजा वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट के मुताबिक 2021 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 11.5 फीसदी रहने का अनुमान है. कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में भारत पूरी दुनिया में इकलौती ऐसी अर्थव्यवस्था है जिसकी आर्थिक वृद्धि दर दहाई अंक में होने का अनुमान लगाया गया है.

यह भी पढ़ें: आयकरदाताओं के लिए बजट में टैक्स छूट को लेकर हो सकता है बड़ा ऐलान

कोरोना वायरस महामारी के कारण पिछले साल दुनिया की भयंकर मंदी के बाद भारत के मजबूत आर्थिक सुधार का यह एक मजबूत प्रमाण है.

अक्टूबर में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 8.8 फीसदी ग्रोथ रेट रहने का लगाया था अनुमान 
बता दें कि अक्टूबर की अपनी रिपोर्ट में आईएमएफ ने 2021 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर 8.8 फीसदी ग्रोथ रेट रहने का अनुमान जारी किया था. उस दौरान IMF ने कहा था कि चीन को पीछे छोड़ते हुए भारत तेजी से बढ़ने वाली उभरती अर्थव्यवस्था का दर्जा फिर से हासिल कर लेगी. बता दें कि 2019 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 4.2 फीसदी रही थी. 

यह भी पढ़ें: सरल पेंशन योजना क्या है, जानिए कब से हो रही है शुरू और क्या हैं इसके फायदे

चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ (-)8 फीसदी रहने का अनुमान
आईएमएफ ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ (-)8 फीसदी रहने का अनुमान जारी किया है. इसके अलावा अप्रैल 2022 में शुरू होने वाले वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ 6.8 फीसदी की रहने का अनुमान जारी किया है. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2021 में वैश्विक ग्रोथ 5.5 फीसदी रहने का अनुमान है. हालांकि आईएमएफ का कहना है कि वैश्विक ग्रोथ की स्थिति कोरोना वायरस महामारी और टीकाकरण के बाद आने वाले परिणामों पर निर्भर करेगा.

यह भी पढ़ें: LIC पॉलिसीधारकों को बड़ी राहत, बंद हो चुकी पॉलिसी फिर हो जाएगी शुरू

IMF ने वित्त वर्ष 2021 में चीन के लिए 8.1 फीसदी, अमेरिका के लिए 5.1 फीसदी, जापान के लिए 3.1 फीसदी, ब्रिटेन के लिए 4.5 फीसदी, रूस के लिए 3 फीसदी और सऊदी अरब के लिए 2.6 फीसदी जीडीपी ग्रोथ रहने का अनुमान जारी किया है. यहां सबसे गौर करने वाली बात है कि भारत ने अपने चिरप्रतिद्वंद्वी चीन को आर्थिक ग्रोथ के मामले में 3 फीसदी से ज्यादा पीछे छोड़ दिया है. 

First Published : 28 Jan 2021, 09:59:52 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.