News Nation Logo
Banner

कोविड प्रभाव : जुलाई में जीएसटी संग्रह 14 प्रतिशत घट कर 87422 करोड़ रुपये

वस्तु एवं सेवा कर (GST) के तहत सरकार का कर संग्रह जुलाई में एक लाख करोड़ रुपये के मनोवैज्ञानिक स्तर से काफी नीचे गिरकर 87,422 करोड़ रुपये रहा.

IANS | Updated on: 02 Aug 2020, 10:53:04 AM
GST

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

कोविड संक्रमण (COVID-19) के कारण पिछले कुछ महीनों से बाधित आर्थिक गतिविधियों का असर सरकार के कर संग्रह पर पड़ा है और वस्तु एवं सेवा कर (GST) के तहत सरकार का कर संग्रह जुलाई में एक लाख करोड़ रुपये के मनोवैज्ञानिक स्तर से काफी नीचे गिरकर 87,422 करोड़ रुपये रहा. जुलाई का संग्रह पिछले वर्ष के संग्रह का 84 प्रतिशत है और यह अप्रैल और मई के महीनों की तुलना में हालांकि सुधार है, क्योंकि कोविड-19 के कारण लागू लॉकडाउन और आर्थिक गतिविधियों के गंभीर रूप से बाधित होने के कारण उन दो महीनों में जीएसटी संग्रह अबतक के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया था.

यह भी पढ़ेंः भारत में कोविड-19 के मामले 17 लाख के पार, पिछले 24 घंटे में मिले करीब 55 हजार मरीज

अप्रैल-मई में गिरा
अप्रैल में जीएसटी संग्रह 32,294 करोड़ रुपये था, जो पिछले साल के इसी महीने के जीसटी संग्रह का मात्र 28 प्रतिशत था और मई का जीएसटी संग्रह 62,009 करोड़ रुपये था, जो पिछले वर्ष के इसी महीने के राजस्व संग्रह का 62 प्रतिशत था. सिर्फ जून में जीएसटी संग्रह 90,917 करोड़ रुपये पहुंच सका.

यह भी पढ़ेंः राम मंदिर भूमि पूजन से पहले अयोध्या अभेद्य किले में तब्दील, एक दिन पहले ही सीमाएं सील

छूट का लाभ भी उठा रहे कारोबारी
वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा, 'पिछले महीने जून का राजस्व मौजूदा महीने से अधिक था. हालांकि यह ध्यान देने योग्य है कि बड़ी संख्या में करदाताओं ने फरवरी, मार्च और अप्रैल 2020 के करों का भी भुगतान जून में किया. यह भी ध्यान दिया जा सकता है कि पांच करोड़ रुपये से कम के कारोबार वाले करदाता सितंबर 2020 तक रिटर्न फाइल करने में लगातार छूट की सुविधा का लाभ उठा रहे हैं.'

यह भी पढ़ेंः  कैबिनेट मंत्री कमला वरुण की कोरोना से मौत के चलते CM योगी ने अयोध्या दौरा किया निरस्त

जुलाई का लेखा-जोखा
आधिकारिक बयान में कहा गया है कि जुलाई में कुल 87,422 करोड़ रुपये के जीएसटी संग्रह में सीजीएसटी 16,147 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 21,418 करोड़ रुपये था. आईजीएसटी संग्रह 42,592 करोड़ रुपये (इसमें वस्तुओं के आयात पर संग्रहित 20,324 करोड़ रुपये भी शामिल है) था और सेस संग्रह 7,265 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर संग्रहित 807 करोड़ रुपये शामिल) था.

यह भी पढ़ेंः Sushant Case:अब सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर भी उठ रहे सवाल, कई जानकारियां छिपाने का आरोप

निपटारा भी हुआ
सरकार ने नियमित निपटान के रूप में आईजीएसटी से 18,838 करोड़ रुपये के एसजीएसटी और 23,320 करोड़ रुपये के सीजीएसटी का निपटारा किया है. जुलाई महीने में नियमित निपटारे के बाद केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को मिले कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए 39,467 करोड़ रुपये और एसजीएसटी के लिए 40,256 करोड़ रुपये हैं.

First Published : 02 Aug 2020, 10:53:04 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×