News Nation Logo

BREAKING

Banner

आसमान पर पहुंचे सब्जियों के दाम, जानिए क्यों बढ़ गई कीमतें

सब्जी कारोबारी बताते हैं कि सब्जियों की नई फसल की आवक जब तक शुरू नहीं होगी, तब तक कीमतों में नरमी आने की संभावना नहीं है.

IANS | Updated on: 01 Oct 2020, 06:58:56 AM
Tomatoes

Tomatoes (Photo Credit: IANS )

नई दिल्ली:

Vegetable News Update: आलू, टमाटर, प्याज के साथ-साथ हरी शाक-सब्जियों (Vegetable Price) के दाम में फिर इजाफा हो गया है. तमाम सब्जियों के दाम आसमान चढ़ गए हैं, जिससे आम उपभोक्ता परेशान हैं. खासतौर से आलू और प्याज की महंगाई ने उनकी परेशानी और बढ़ा दी है. सब्जी कारोबारी बताते हैं कि सब्जियों की नई फसल की आवक जब तक शुरू नहीं होगी, तब तक कीमतों में नरमी आने की संभावना नहीं है. लौकी, भिंडी, खीरा, करेला, गोभी समेत तमाम सब्जियों के दाम में बीते सप्ताह के मुकाबले 10 रुपये से 20 रुपये किलो की बढ़ोतरी हुई है.

यह भी पढ़ें: काम की खबर: असेसमेंट ईयर 2019-20 के लिए ITR फाइल करने की समयसीमा बढ़ी

नोएडा निवासी प्रीति सिंह ने कहा कि बाजार में ऐसी कोई सब्जी नहीं है जो 50 रुपये किलो से कम हो. उन्होंने कहा कि आलू, टमाटर और प्याज की महंगाई ने मुश्किलें और बढ़ा दी हैं. ग्रेटर नोएडा के सब्जी विक्रेता पप्पू कुमार ने कहा बताया कि आलू और टमाटर स्टॉक से आ रहा है और सब्जी मंडियों में जितनी मांग है उससे कम आवक हो रही है. आजादपुर मंडी से दिल्ली-एनसीआर में फुटकर सब्जी विक्रेताओं को प्याज की सप्लाई करने वाले कपिल सिंह ने भी बताया कि मंडी में प्याज की आवक कम हो रही है जिसके कारण दाम बढ़ा हुआ है.

यह भी पढ़ें: टैक्सपेयर्स के लिए बड़ी राहत, फेसलेस इनकम टैक्स अपील सिस्टम शुरू

आजादपुर मंडी एपीएमसी की रेट लिस्ट के अनुसार, बुधवार को मंडी में आलू का थोक भाव 12 रुपये से 51 रुपये किलो था. कारोबारी बताते हैं कि यहां 51 रुपये किलो थोक में मिलने वाला आलू खुदरा में 60 से 80 रुपये किलो तक बिकता है. आजादपुर मंडी में प्याज का थोक भाव 12.50 रुपये से 36.25 रुपये प्रति किलो था. वहीं, टमाटर का थोक भाव 10 रुपये से 43.50 रुपये प्रति किलो था. चैंबर्स ऑफ आजादपुर फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट एम.आर. कृपलानी बताते हैं कि सब्जियों की खपत के मुकाबले आपूर्ति कम होने से कीमतों में इजाफा हुआ है, जबकि फलों की आवक बढ़ने से कीमतों में नरमी आई है.

यह भी पढ़ें: छोटे किसानों को सस्ते कर्ज उपलब्ध कराने के लिए Axis Bank ने उठाया ये बड़ा कदम

कृपलानी के मुताबिक, सब्जियों की नई फसल की आवक जब तक जोर नहीं पकड़ेगी तब तक कीमतों में नरमी नहीं आएगी. कारोबारी बताते हैं कि सब्जियों की नई फसल की आवक हालांकि अक्टूबर में शुरू हो जाएगी लेकिन नवंबर से पहले आवक जोर पकड़ने लगेगी. आजादपुर मंडी में पिछले साल 30 सितंबर को आलू की आवक जहां 2,543.2 टन था, वहां इस साल 30 सितंबर को आलू की आवक 678.4 टन दर्ज की गई है.

दिल्ली-एनसीआर में 30 सितंबर को सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रति किलो)

आलू 40-50, प्याज 50-60, टमाटर 70.-80, फूलगोभी-150, बंदगोभी 60-70, लौकी/घीया-50, तोरई-50, भिंडी-60, खीरा 50-60, कद्दू-50, बैंगन-50, शिमला मिर्च-100-120, पालक-60, करेला-80, परवल 80, कच्चा पपीता-50, कच्चा केला-50, टिंडा-100, कुंदरु-60, मटर-200, धनिया पत्ता-450, हरी मिर्च-120.

यह भी पढ़ें: अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं तो यह खबर जरूर पढ़ लीजिए

दिल्ली-एनसीआर में 23 सितंबर को सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रति किलो)

आलू 40-50, फूलगोभी-120, बंदगोभी-50, टमाटर 60-70, प्याज 50-60, लौकी/घीया-40, भिंडी-50, खीरा-40-50, कद्दू-40, बैंगन-40, शिमला मिर्च-100, पालक-60, तोरई-40, करेला-60-70, परवल 70-80, लोबिया-80.

First Published : 01 Oct 2020, 06:58:56 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो