News Nation Logo
Banner

US Presidential Election 2020: अमेरिका में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों की दूसरी बहस आधिकारिक रूप से रद्द

US Presidential Election 2020: राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों के बीच बहस संबंधी गैर दलीय आयोग ने शुक्रवार को पुष्टि की कि 15 अक्टूबर को होने वाली बहस रद्द की जाएगी.

Bhasha | Updated on: 10 Oct 2020, 01:10:10 PM
Donald Trump

डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) (Photo Credit: newsnation)

वाशिंगटन:

US Presidential Election 2020: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) और डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) के बीच राष्ट्रपति पद के चुनाव से पहले होने वाली दूसरी बहस आधिकारिक रूप से रद्द हो गई है. राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों के बीच बहस संबंधी गैर दलीय आयोग ने शुक्रवार को पुष्टि की कि 15 अक्टूबर को होने वाली बहस रद्द की जाएगी. इससे पहले, आयोग ने घोषणा की थी कि ट्रम्प के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के कारण बहस ‘‘डिजिटल माध्यम’’ से होगी. इस घोषणा के एक दिन बाद बहस रद्द कर दी गई.

यह भी पढ़ें: चीन ने भारत की उत्तरी सीमा पर तैनात किए 60,000 सैनिक

टेनेसी के नाशविले में 22 अक्टूबर को होगी तीसरी बहस 
ट्रम्प ने डिजिटल माध्यम से बहस करने से इनकार कर दिया था. इसके बाद बाइडेन ने उस दिन एबीसी न्यूज के साथ टाउन हाल कार्यक्रम तय किया था. बाद में राष्ट्रपति के चिकित्सक ने कहा था कि ट्रम्प को शनिवार से सार्वजनिक समारोहों में हिस्सा लेने की अनुमति होगी. इसके पश्चात, ट्रम्प की टीम ने निर्धारित समय के अनुसार ही आमने-सामने की बहस कराने की अपील की थी, लेकिन आयोग ने स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं का हवाला देते हुए कहा था कि वह आमने-सामने के बजाए डिजिटल माध्यम से बहस कराने का अपना फैसला नहीं बदलेगा. दोनों उम्मीदवारों के बीच तीसरी बहस टेनेसी के नाशविले में 22 अक्टूबर को होगी.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में गायक की गोली मारकर हत्या

अमेरिका में चीन के लिए जासूसी करने के मामले में सिंगापुर के व्यक्ति को सजा

सिंगापुर के एक व्यक्ति को अमेरिकी अदालत ने चीन को बहुमूल्य लेकिन उपलब्ध (जो गोपनीय की श्रेणी में न हो) सैन्य और राजनीतिक सूचना देने के मामले में 14 महीने कैद की सजा सुनाई है. अदालत ने माना कि उसने यह सूचना देकर अमेरिकियों को धोखा दिया. जून वेई येओ ने चीनी खुफिया एजेंटे के निर्देशन में उस अभियान का हिस्सा था जिसने रिपोर्ट लिखने के लिए अमेरिका के असंदिग्ध सरकारी कर्मचारियों की भर्ती की थी. ट्रम्प प्रशासन का आरोप है कि चीन अमेरिका के प्रमुख अनुसंधान सहित गोपनीय जानकारी की चोरी करने का प्रयास अपने आर्थिक बढ़त के लिए कर रहा है. येओे की भेजी रिपोर्टों को इसी में शामिल किया जा रहा है.

First Published : 10 Oct 2020, 01:07:00 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो