logo-image

Ukraine Russia War: युद्ध में रूस ने खो दिए अपने लगभग 90% सैनिक, खुफिया रिपोर्ट में बड़ा खुलासा

रूस ने फरवरी 2022 में 360,000 कर्मियों के साथ यूक्रेन पर पूर्ण पैमाने पर आक्रमण शुरू किया. तब से, 315,000 रूसी सैनिक, या कुल सैनिकों का लगभग 87%, मारे गए या घायल हुए हैं. 

Updated on: 14 Dec 2023, 06:06 AM

नई दिल्ली :

यूक्रेन के साथ युद्ध में रूस के तकरीबन 315,000 सैनिक मारे गए और घायल हुए हैं, जोकि रूस के पास मौजूद कर्मियों का लगभग 90% है. इसका आकलन डिस क्लेरिफाइड अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट द्वारा किया गया है. इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि, यूक्रेन के साथ युद्ध ने रूस की सैन्य आधुनिकीकरण को तकरीबन 18 साल पीछे धकेल दिया है. हालांकि इसपर रूसी अधिकारियों का कहना है कि, पश्चिमी मीडिया और रिपोर्टों द्वारा युद्ध में मरने वालों की संख्या के बारे में काफी बढ़ा-चढ़ाकर बताया गया है, वहीं यूक्रेनी नुकसान को हमेशा से कम करके आंका जाता है. 

गौरतलब है कि, रिपोर्ट में आकलन किया गया है कि रूस ने फरवरी 2022 में 360,000 कर्मियों के साथ यूक्रेन पर पूर्ण पैमाने पर आक्रमण शुरू किया. तब से, 315,000 रूसी सैनिक, या कुल सैनिकों का लगभग 87%, मारे गए या घायल हुए हैं. 

ये भी पढ़ें: Iraq: उत्तरी इराक यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में लगी भीषण आग, 14 छात्रों की मौत, डेढ़ दर्जन घायल

रूस ने यूक्रेन में तैनाती के लिए भर्ती मानकों को ढीला किया...

एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि, रूसी सेना की इस कदर बड़ी आबादी के नुकसान के कारण ही, रूस ने यूक्रेन में तैनाती के लिए भर्ती मानकों को ढीला कर दिया है. इस डिस क्लेरिफाइड अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट के आकलन में कहा गया है कि, नुकसान के पैमाने ने रूस को अपनी लड़ने की क्षमता को बनाए रखने के लिए असाधारण उपाय करने के लिए मजबूर किया है. रूस ने 2022 के अंत में 300,000 कर्मियों की आंशिक लामबंदी की घोषणा की, और दोषियों और वृद्ध नागरिकों की भर्ती की अनुमति देने के लिए मानकों में ढील दी है. 

ये भी पढ़ें: Coronavirus: यहां तेजी से फैल रहा कोरोना, कहीं हम पर तो नहीं मंडरा रहा वायरस का खतरा?

मौत के आंकड़ो पर एक नजर..

वहीं इस रिपोर्ट में बताया गया है कि, रूसी सेना ने 3,100 टैंकों के साथ युद्ध शुरू किया था, उनमें से 2,200 खो दिए और उसे 1970 के दशक में निर्मित T62 टैंकों के साथ उस बल को "बैकफ़िल" करना पड़ा, जिससे युद्ध के मैदान पर केवल 1,300 टैंक बचे.

इसके अलावा यूक्रेन-रूस युद्ध के बारे में बताते हुए एक यूक्रेनी पत्रिका ने लिखा कि, युद्ध में करीब 24,500 लड़ाकू और गैर-लड़ाकू मौतें हुईं हैं. हालांकि संभव है कि वास्तविक आंकड़े इससे कई ज्यादा हो.