News Nation Logo
मौसम खुल चुका है और चारधाम यात्रा शुरू हो चुकी है: उत्तराखंड के DGP अशोक कुमार उड़ान योजना के तहत बीते कुछ सालों में 900 से अधिक नए रूट्स को स्वीकृति दी जा चुकी है: पीएम मोदी कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है: पीएम मोदी भारत विश्व भर के बौद्ध समाज की श्रद्धा, आस्था और प्रेरणा का केंद्र है: कुशीनगर में पीएम मोदी 50 से अधिक नए या ऐसे एयरपोर्ट जो पहले सेवा में नहीं थे, उन्हें चालू किया जा चुका है: पीएम मोदी CBI-CVS कांफ्रेंस में बोले पीएम मोदी-भ्रष्टाचार सिस्टम का हिस्सा नहीं हो सकता है लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज होगी अहम सुनवाई. पंजाब में कांग्रेस का बढ़ा दलित प्रेम. राहुल गांधी आज दिखाएंगे शोभा यात्रा को हरी झंडी आज शाम उत्तराखंड जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह, बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का लेंगे जायजा क्रूज ड्रग्स केस में आर्यन खान को आज मिलेगी बेल या रहेंगे जेल में ही

फिर बोले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, इस्लाम पर किया बड़ा एलान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस्लाम को लेकर एक नई बात बोली है. इमरान का कहना है कि समाज को नैतिकता का स्तर बढ़ाना होगा. जिसके लिए उन्होंने रहमतुल-इल-अलामीन प्रशासन की स्थापना की है.

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 11 Oct 2021, 06:51:16 PM
pakistan prime minister imran khan new talks on islam

pakistan prime minister imran khan new talks on islam (Photo Credit: News Nation)

दुनिया :

पकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. एक बार फिर उनका एक बयान सामने आया है. दरअसल, इमरान खान ने रविवार को इस्लाम को लेकर एक एलान किया है. इस एलान के मुताबिक, उन्होंने रहमतुल-इल-अलामीन अथॉरिटी की स्थापना की है. इस अथॉरिटी का काम इस्लाम की सच्ची छवि को दुनिया के सामने रखना होगा और दुनिया भर में पैगंबर की शिक्षाओं का प्रचार प्रसार करना होगा. इमरान के मुताबिक, ऐसा करने से समाज में नैतिकता का स्तर और बढ़ेगा. इतना ही नहीं, इमरान ने अपने इस एलान में पाकिस्तान के कल्चर पर पश्चिमी सभ्यता के असर और चीन की एंटी करप्शन पॉलिसी को लेकर भी बात की. 

यह भी पढ़ें: अमेरिका के डेविड कार्ड, जोशुआ एंग्रिस्ट और गुइडो इम्बेंस को अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार 

इमरान ने अशरा-ए-रहमतुल-इल-अलामीन कॉफ्रेंस के दौरान अपनी बात रखते हुए कहा कि इस प्रशासन में कई स्कॉलर्स भी शामिल होंगे जो लोगों को इस्लाम के सच्चे मायने समझाएंगे. इसके अलावा, स्कॉलर्स का एक काम ये भी होगा कि पैगंबर मोहम्मद की पवित्र शिक्षाओं को बच्चों और युवाओं तक पहुंचाने के लिए और उनकी ज़िन्दगी में उतारने के लिए रिसर्च करें. साथ ही साथ, स्कॉलर्स को ये फैसला लेने का भी हक़ होगा कि बच्चों को स्कूल में क्या पढ़ाया जाए. गौर करने वाली ये है कि इमरान ने स्कूलों में दूसरे धर्मों की पढ़ाई कराने की भी बात कही है. इसके अलावा, इमरान के मुताबिक ये प्रशासन यूनिवर्सिटीज में अलग-अलग रिसर्च भी कराएगा जिससे लोगों में पाकिस्तानी समाज पर वेस्टर्न कल्चर के फायदों और नुकसानों के बारे में जागरुकता बढ़ेगी.

यह भी पढ़ें: रूस: अपनी प्रस्तुति देते वक्त अभिनेता की गई जान, दर्शकों को लगा नाटक का सीन 

इमरान ने आगे बात करते हुए ये भी कहा कि, 'जब आप अपने देश में वेस्टर्न कल्चर लेकर आते हैं तो ये जरूरी है कि आप नफे-नुकसान को लेकर भी चर्चा करें. मैं मानता हूं कि पश्चिमी समाज में नैतिकता हमसे बेहतर है लेकिन ये भी सच है कि पश्चिमी सभ्यता हमारे फैमिली सिस्टम को प्रभावित कर रही है. और हमने इसे लेकर कोई रिसर्च नहीं की है. ये रिसर्च पहली बार पाकिस्तान में की जा रही है.'

इमरान खान द्वारा बनाया गया ये प्रशासन मीडिया और सोशल मीडिया से जुड़े मुद्दों से निपटने का काम भी करेगा. इमरान का मानना है कि जिस देश के नैतिकता के पैमाने कमजोर होते हैं वो देश तरक्की की राह पर कभी आगे नहीं बढ़ सकता है. इसके साथ ही, इमरान ने समाज को भ्रष्टाचार से लड़ने और उसे एक जुट होकर खत्म करने की बात भी कही.

यह भी पढ़ें: न्यूजीलैंड ने शिक्षकों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए कोविड टीकाकरण अनिवार्य किया

इमरान ने यूएन इंटरनेशनल फाइनेंशियल अकाउंटबिलिटी, ट्रांसपेरेंसी एंड इंटेग्रिटी पैनल की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि ज्यादातर गरीब देशों के गरीब होने के पीछे का कारण हैं वो लीडर्स जो अपने फायदे के लिए पैसों को बाहर भेज देते हैं. इमरान चीन की तारीफ करते हुए बोले कि चीन एक बेहद ही शक्तिशाली देश है जिसकी वजह है उसके यहां भ्रष्टाचार करने वाले लोगों को दी गई कड़ी सज़ा. इसी बीच इमरान ने पूर्व पीएम नवाज शरीफ पर भी निशाना साधा और कहा कि, देश को लूटकर भागना और फिर ऐसे लोगों का लंदन में स्वागत होना देश के पिछड़े होने का मुख्य कारण है. बता दें कि, इमरान ने ये बात नवाज शरीफ के पनामा पेपर्स मामले में पकड़े जाने को लेकर कही है. 

First Published : 11 Oct 2021, 06:51:16 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.