News Nation Logo
Banner

पाकिस्तानी चैनलों पर गैंगरेप की खबरें दिखाने से रोक, वजह हैरान कर देगी

पेमरा ने पाकिस्तानी चैनलों पर गैंगरेप की खबर नहीं दिखाने के लिए निर्देश जारी किया है. वह सियालकोट मोटरवे की घटना के बारे में आतंकवाद-रोधी कोर्ट, लाहौर के आदेशों का पालन करें.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 04 Oct 2020, 07:07:40 AM
Pakistani News Channels

पाकिस्तानी चैनलों पर गैंगरेप की न्यूज दिखाने पर रोक (Photo Credit: फाइल फोटो)

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण (पेमरा) ने पिछले महीने यहां के पंजाब प्रांत में हुए एक बर्बर सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बारे में दिखाए जाने को लेकर यहां के सभी टीवी चैनलों पर प्रतिबंध लगा दिया है. पुलिस के अनुरोध पर एक ट्रायल कोर्ट द्वारा यह आदेश पारित किया गया है. शुक्रवार को पेमरा के जनरल मैनेजर (ऑपरेशंस-ब्रॉडकास्ट मीडिया) मुहम्मद ताहिर द्वारा जारी एक निर्देश के हवाले से डॉन न्यूज ने बताया, सभी उपग्रह टीवी चैनल (समाचार और करंट अफेयर्स) को यह निर्देश दिया जाता है कि वे सियालकोट मोटरवे की घटना के बारे में आतंकवाद-रोधी न्यायालय, लाहौर के आदेशों का पालन करें और आने वाले समय में तत्काल मामले के संबंध में किसी भी सामग्री को प्रसारित किए जाने से बचें.

यह भी पढ़ें : महागठबंधन में सीटों का बंटवारा, आरजेडी को 144 और कांग्रेस को इतनी

जांच अधिकारी (आईओ) जुल्फिकार चीमा ने एटीसी के समक्ष एक आवेदन दायर किया था, जिसमें घटना के मीडिया कवरेज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई थी. उन्होंने कहा कि यह घटना एक जघन्य अपराध है और मीडिया मामले को बड़ी ही लापरवाही के साथ दिखा रही है. चीमा ने अदालत को आगे बताया कि घटना के मीडिया कवरेज से प्रमुख संदिग्ध की गिरफ्तारी में बाधा पैदा हो रही है.

यह भी पढ़ें : हाथरस केस: पीड़ित परिवार से बोलीं प्रियंका- अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे

अपने निर्णय में पीठासीन न्यायाधीश अरशद हुसैन भुट्टा ने आईओ की दलील को स्वीकार किया और कहा कि मीडिया कवरेज के चलते पीड़िता और उसके परिवार को भी अपमान का सामना करना पड़ सकता है.

First Published : 04 Oct 2020, 07:07:00 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो