News Nation Logo
Banner

पाकिस्तान सेना पर नवाज-बिलावल का हमला, खतरे में इमरान सरकार

दो प्रमुख विपक्षी पार्टियों ने इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी को सत्ता पर काबिज कराने के लिए सेना पर 2018 के चुनाव में धांधली का आरोप लगा मोर्चा खोल दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 11 Oct 2020, 10:46:03 AM
Imran Khan

इमरान खान पानी पी-पी कर कोस रहे नवाज-बिलावल को. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

कराची. :

पाकिस्तान की सेना की गोद में झूलते हुए वजीर-ए-आजम की कुर्सी तक पहुंचे इमरान खान (Imran Khan) पर अब यही समीकरण भारी पड़ने लगा है. एक तो सेना पहले से ही उनसे कई मसलों पर नाराज चल रही है. दूसरे, अब दो प्रमुख विपक्षी पार्टियों ने इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी को सत्ता पर काबिज कराने के लिए सेना पर 2018 के चुनाव में धांधली का आरोप लगा मोर्चा खोल दिया है. इसके पहले पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) पर देश के राजनीतिक मामलों में दखल देने का ही आरोप लगता आया था. ऐसा पहली बार हो रहा है कि प्रमुख विपक्षी पार्टियों- पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) और पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (PML-N) ने सीधे तौर पर सेना की आलोचना की है.

यह भी पढ़ेंः फ्रांस में दो छोटे विमान टकराए, पांच लोगों की मौत

सेना ने चुनाव में धांधली की
पूर्व प्रधानमंत्री और पीएमएल-एन प्रमुख नवाज शरीफ जो पिछले साल नवंबर से लंदन में हैं और भ्रष्टाचार के कई मुकदमों का सामना कर रहे हैं ने पहला हमला 'पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट' के उद्घाटन बैठक को संबोधित करते हुए किया. पिछले महीने इसका गठन विपक्षी पार्टियों ने प्रधानमंत्री खान को सत्ता से बेदखल करने के लिए किया है. शरीफ ने सेना पर प्रधानमंत्री इमरान खान को सत्ता में लाने के लिए 2018 के आम चुनाव में धांधली करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि वर्दी पहन कर राजनीति में हस्तक्षेप देश के संविधान के तहत देशद्रोह के बराबर है.

यह भी पढ़ेंः बिहार चुनाव : सोनिया, राहुल, प्रियंका, शत्रुघ्न कांग्रेस के 30 स्टार प्रचारकों में

बिलावट भुट्टो ने भी खोला मोर्चा
शरीफ के बाद पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने भी सेना पर 2018 के चुनाव में धांधली करने का आरोप लगाया. बिलावल ने चेतावनी दी कि आगामी गिलगित-बल्टिस्तान के असेंबली चुनाव में किसी तरह के हस्तक्षेप करने पर उनकी पार्टी इस्लामाबाद का घेराव और धरना सहित कड़ी प्रतिक्रिया देगी. डान अखबार ने बिलावल को उद्धृत करते हए लिखा, 'इस तरह की चीजें यहां तक कि जनरल जिया और जनरल मुशर्रफ की तानाशाही के दौरान भी नहीं देखी गई.'  उन्होंने कहा, 'मुझे आश्चर्य हो रहा है कि कैसे मतदान केंद्र के भीतर एक सैनिक और बाहर दूसरा तैनात कर सकते हैं. वह बहुत अजीब था. चाहे आपने (सैन्य प्रतिष्ठान) कुछ गलत किया हो या नहीं, आप पर आरोप लगेंगे और यह नहीं होना चाहिए.' 

यह भी पढ़ेंः  ISRO के मानव अंतरिक्ष उड़ान में होगा डबल बैकअप

इमरान ने शरीफ पर लगाए उलटे आरोप
नवाज शरीफ के आरोपों से तिलमिलाए इमरान खान ने कहा कि शरीफ सेना और खुफिया सेवा का अपमान कर 'बहुत खतरनाक खेल खेल रहे हैं.' उन्होंने चुनाव में धांधली के आरोपों को आधारहरीन करार देते हुए खारिज कर दिया. उल्लेखनीय है कि शरीफ तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने और हर बार कार्यकाल पूरा नहीं कर सके. पहली बार 1993 में राष्ट्रपति ने उन्हें पदच्युत किया. इसके बाद 1993 में सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ ने उनका तख्ता पलट किया. तीसरी बार 2017 में अदालत ने भ्रष्टाचार के आरोपों में पदच्युत किया जिसके बाद पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने 2018 में सत्ता संभाली.

First Published : 11 Oct 2020, 10:46:03 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो