News Nation Logo
Banner

नए साल के पहले दिन UN सुरक्षा परिषद में नई पारी का आगाज करेगा भारत

17 जून को हुए चुनाव में यूएन का अस्थाई सदस्य चुना गया था. यूएन के 192 सदस्य देशों में से 184 ने भारत की दावेदारी को अपना वोट दिया था.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 01 Jan 2021, 07:30:58 AM
India UN

31 दिसंबर 2021 तक रहेगा भारत सुरक्षा परिषद का सदस्य. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

संयुक्त राष्ट्र:

कोरोना महामारी की भयानक यादें छोड़ गए 2020 के बाद आए नए साल यानी 2021 के पहले दिन का आगाज भारत के बढ़ते दबदबे के साथ हो रहा है. नए साल के पहले दिन भारत वैश्विक पटल के सबसे शक्तिशाली मंच सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य बतौर जिम्मेदारी शुरू करेगा. कोरोना संकट से निपटते हुए चीन की आक्रामक चुनौतियों को डटकर मुकाबला करने वाले भारत देश के लिए यह बेहद गौरव का क्षण होगा, जब वह आठवीं बार अस्थायी सदस्यता का आगाज करेगा. भारत का यह कार्यकाल 31 दिसंबर 2021 को समाप्त होगा. 

यह भी पढ़ेंः अंतरिक्ष में मानव, मिलेगी 5जी सेवा... जानें साल 2021 से क्या हैं उम्मीदें

वैश्विक मंचों पर बढ़ रहा दबदबा
गौरतलब है कि भारत समेत आयरलैंड, नॉर्वे और मैक्सिको भी अस्थायी सदस्यता के लिए निर्वाचित हुए हैं. पिछले कई सालों से भारत की वैश्विक मंच पर दबदबा लगातार बढ़ रहा है. आतंकवाद सहित विभिन्न वैश्विक समस्याओं पर भारत की आवाज को दुनिया ध्यान देकर सुनने लगी है. संयुक्त राष्ट्र में अस्थायी सदस्य के तौर पर मौजूदा कार्यकाल से भारत की कूटनीतिक ताकत बढ़नी तय है. भूलना नहीं चाहिए कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में बतौर अस्थायी सदस्य भारत का दो साल का कार्यकाल ऐसे समय शुरू हो रहा है जब वैश्विक मंच पर अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा, शांति स्थापना समेत कई चुनौतियां मुंह बाए खड़ी हैं. साथ ही दुनियाभर में कोरोना महामारी के कारण अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं में व्यापक सुधारों की मांग तेज हो रही है.

यह भी पढ़ेंः हो जाइए तैयार! पीएम नरेंद्र मोदी नए साल में लेने वाले हैं और कठोर फैसले

भारत बड़े बहुमत से बना स्थाई सदस्य
भारत बहुमत के साथ 17 जून को हुए चुनाव में यूएन का अस्थाई सदस्य चुना गया था. यूएन के 192 सदस्य देशों में से 184 ने भारत की दावेदारी को अपना वोट दिया था. इतना ही नहीं, करीब एक दशक बाद सुरक्षा परिषद में भारत की यह क्लीन स्लेट एंट्री थी क्योंकि उसके मुकाबले कोई दावेदार ही नहीं था. अगले दो साल यानी 2021 और 2022 में सुरक्षा परिषद की ताकतवर मेज पर बतौर अस्थाई सदस्य मौजूद होगा.

First Published : 01 Jan 2021, 07:30:58 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.