News Nation Logo
1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी NCB दफ्तर में अनन्या पांडे से पूछताछ जारी, ड्रग्स चैट में सामने आया था नाम अनंतनाग में गैर कश्मीरी की हत्या, शरीर पर कई जगह चोट के निशान गुजरात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर प्रदेश कांग्रेस के नेता राहुल गांधी से मिले ड्रग पैडलर को सामने बैठाकर पूछताछ कर सकती है NCB ड्रग्स चैट मामले में अनन्या पांडे से होनी है पूछताछ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग आग की लपटों से घिरी बहुमंजिला इमारत में 100 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक राष्ट्रपति कोविन्द अपनी तीन दिवसीय बिहार यात्रा के अंतिम दिन गुरुद्वारा पटना साहिब, महावीर मंदिर गए छत्तीसगढ़ः राजनांदगांव में आईटीबीपी के 21 जवानों को फूड प्वाइजनिंग, अस्पताल में भर्ती कराया गया

US सैन्य अफसर बोले- अफगानिस्तान में 2500 सैनिकों की तैनाती की जरूरत थी, लेकिन बाइडेन ने...

अफगानिस्तान से सैनिकों को वापस बुलाने को लेकर अमेरिका के शीर्ष सैन्य अफसर ने कांग्रेस (संसद) में पहली गवाही में 20 बरस की जंग को रणनीतिक विफलता बताया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 29 Sep 2021, 11:19:27 PM
US Army

अमेरिकी सैनिक (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अफगानिस्तान से सैनिकों को वापस बुलाने को लेकर अमेरिका के शीर्ष सैन्य अफसर ने कांग्रेस (संसद) में पहली गवाही में 20 बरस की जंग को रणनीतिक विफलता बताया है. उन्होंने कहा कि उनका मानना है कि तालिबानी कब्जे को रोकने के लिए अमेरिका को कुछ हजार सैनिक अफगानिस्तान पर तैनात रखने चाहिए थे. हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) को उन्होंने क्या सलाह दी थी? लेकिन कहा कि ऐसा जरूरी नहीं है कि राष्ट्रपति उनकी सलाह मानें ही. जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के प्रमुख जनरल मार्क मिली ने इसकी जानकारी देने से मना कर दिया है कि तब उन्होंने राष्ट्रपति बाइडेन को क्या सलाह दी थी जब वह अफगानिस्तान से सैनिकों को वापस बुलाने या न बुलाने पर विचार कर रहे थे.

यह भी पढ़ें : अमेरिकी सैनिकों की संपूर्ण वापसी के बाद अफगानिस्तान में क्या होगा ?

सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति से उन्होंने कहा कि यह उनकी निजी राय है कि काबुल में सरकार को गिरने और तालिबान के शासन को वापस आने से रोकने को अफगानिस्तान में कम से कम 2500 सैनिकों को तैनात रखने की जरूरत थी.

मार्क मिली ने उस युद्ध को रणनीतिक विफलता बताया, जिसमें 2461 अमेरिकी सैनिकों की जान गई है. 15 अगस्त को अफगानिस्तान की राजधानी पर तालिबान के कब्जे को लेकर उन्होंने कहा कि काबुल में दुश्मन का शासन है. उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका की सबसे बड़ी नाकामी शायद यह रही कि अफगानिस्तान के बलों को अमेरिकी सैनिकों और प्रौद्योगिकी पर अधिक निर्भर रखा गया.

यह भी पढ़ें : अमेरिकी सैनिकों के अफगानिस्तान छोड़ने पर तालिबानियों में खुशी की लहर, किया ये काम

मध्य कमान के प्रमुख और अमेरिकी जंग के अंतिम महीनों की देखरेख करने वाले जनरल फ्रैंक मैकेंजी ने कहा कि मिली के मूल्यांकन से वह सहमत हैं. उन्होंने भी यह बताने से मना कर दिया कि उन्होंने बाइडन को क्या सलाह दी थी?

First Published : 29 Sep 2021, 11:19:27 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो