News Nation Logo

जीसस ही असली गॉड, राहुल-पादरी के सवाल जवाब पर मची रार

Written By : इफ्तेखार अहमद | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 10 Sep 2022, 01:51:52 PM
Rahul

राहुल गांधी ने कन्याकुमारी में की विवादास्पद पादरी से मुलाकात. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

कन्याकुमारी में राहुल गांधी ने की विवादास्पद पादरी से मुलाकात 

बीजेपी ने वीडियो क्लिप जारी कर कांग्रेस पर तीखा हमला बोला

पिछले साल भी मद्रास हाई कोर्ट ने लगाई थी पादरी को लताड़

कन्याकुमारी:  

ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस की 150 दिनों की भारत जोड़ो यात्रा भारतीय जनता पार्टी को लोकसभा चुनाव से पहले हिंदू मतदाताओं के एकमुश्त ध्रुवीकरण का बड़ा मौका दे देगी. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की कन्याकुमारी में विवादित पादरी जॉर्ज पोन्नैया से मुलाकात के दौरान हुई बातचीत का एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इसमें राहुल गांधी पादरी से सवाल करते हैं. जवाब में पादरी जॉर्ज कहते पाए जाते हैं कि जीसस (Jesus) ही एकमात्र वास्तविक भगवान हैं, शक्ति नहीं. पादरी के इस विवादास्पद बयान ने बीजेपी को कांग्रेस पर हमलावर होने का मौका उपलब्ध करा दिया है. जवाब में कांग्रेस ने भी पलटवार किया है.

राहुल के सवाल पादरी का विवादास्पद जवाब
गौरतलब है कि जॉर्ज पोन्नैया को पिछले साल पीएम नरेंद्र मोदी समेत अमित शाह और धरती माता के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का केस दर्ज हुआ था. इसके बाद उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी और मद्रास हाई कोर्ट ने हेट स्पीच देने के खिलाफ कड़ी फटकार लगाई थी. ऐसे में राहुल गांधी आज इन्हीं विवादास्पद पादरी से मुलाकात करने कन्याकुमारी के चर्च जा पहुंचे. बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने इस मुलाकात का वीडियो क्लिप ट्वीट किया है. इसमें राहुल गांधी पादरी जॉर्ज पोन्नैया से सवाल पूछते हैं, 'क्या जीसस क्राइस्ट भगवान का रूप हैं? क्या यह सही है?' इसके जवाब में पादरी जॉर्ज पोन्नैया कहते हैं, 'जीसस क्राइस्ट ही असली भगवान हैं. शक्ति देवी या कोई अन्य भगवान नहीं हैं.' जाहिर है पादरी ने विवादास्पद बयान देकर बर्र के छत्ते में हाथ दे दिया है. 

यह भी पढ़ेंः सेंटर स्टेट साइंस कॉन्क्लेव का उद्धाटनः PM बोले, विकास में साइंस ऊर्जा की तरह

बीजेपी ने बोला तीखा हमला
इस वीडियो क्लिप को शेयर करते हुए बीजेपी नेता और प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने राहुल गांधी पर तीखा हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट में लिखा है, 'यह कांग्रेस का नफरत जोड़ो अभियान है. राहुल गांधी ने आज विवादास्पद पादरी जॉर्ज पोन्नैया को भारत जोड़ो यात्रा का पोस्टर ब्वॉय बना दिया है, जो पहले भी हेट स्पीच दे हिंदू देवी-देवताओं और भारता माता का अपमान कर चुका है. वास्तव में कांग्रेस का भारत जोड़ो अभियान भारत तोड़ो अभियान है.' गौरतलब है कि विवादास्पद पादरी जॉर्ज ने इसके पहले कहा था कि ईसाई जूते इसलिए पहनते हैं ताकि भारत मात्रा से उन्हें संक्रमण नहीं हो.

यह भी पढ़ेंः इंडो-नेपाल बॉर्डर पर बादल फटने से तबाही, पिथौरागढ़-धारचूला में बर्बादी

पिछले साल भी दर्ज हुआ हेट स्पीच का केस
बीते साल भी विवादास्पद पादरी के अनर्गल बयानों पर मद्रास हाई कोर्ट ने जमकर खिंचाई की थी. हेट स्पीच के खिलाफ अपनी गिरफ्तारी की चुनौती देती याचिका पर मद्रास उच्च न्यायालय ने कहा था कि पादरी एक तरफ हिंदू देवी-देवताओं को रख रहे हैं औऱ दूसरी तरफ ईसाई और मुसलमानों को. वह जाहिर तौर पर एक धर्म के लोगों को दूसरे के समक्ष खड़ा कर रहे हैं, जिसकी कतई कोई जरूरत नहीं है. उच्च न्यायालय ने स्पष्ट तौर पर पादरी जॉर्ज को धर्म के आधार पर भेदभाव का दोषी माना था. अब राहुल गांधी ने विवादास्पद पादरी से मुलाकात कर बेतुका सवाल पूछ एक और विवाद को जन्म दे दिया है. 

First Published : 10 Sep 2022, 01:50:45 PM

For all the Latest Viral News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.