News Nation Logo

पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट (Post Office Recurring Deposit) में निवेश से मिलता है गारंटीड रिटर्न, जानें और फायदे

5-Year Recurring Deposit Account (5-वर्षीय डाकघर आवर्ती जमा खाता) को सिर्फ 5 साल के लिए ही खुलवाया जा सकता है. एक बार 5 साल की अवधि पूरी होने के बाद इसे दोबारा 5 साल के लिए बढ़ा सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 26 Feb 2021, 12:50:26 PM
Post Office Recurring Deposit-RD: पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट

Post Office Recurring Deposit-RD: पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट (Photo Credit: newsnation)

highlights

  • 5-वर्षीय डाकघर आवर्ती जमा खाता) को सिर्फ 5 साल के लिए ही खुलवाया जा सकता है 
  • एक बार 5 साल की अवधि पूरी होने के बाद इसे दोबारा 5 साल के लिए बढ़ा सकते हैं 

नई दिल्ली:

Post Office Recurring Deposit-RD: पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट में निवेशक हर महीने थोड़ा-थोड़ा करके पैसा जमा कर सकता है और पैसा जमा करने का ये सिलसिला 5 साल तक चलता है. इन 5 साल के दौरान ब्याज दर में बदलाव नहीं होता है और निवेशक ने जिस दर पर अकाउंट खुलवाया होता है वही ब्याज उसे पूरे पांच साल मिलता है. 5-Year Recurring Deposit Account (5-वर्षीय डाकघर आवर्ती जमा खाता) को सिर्फ 5 साल के लिए ही खुलवाया जा सकता है. एक बार 5 साल की अवधि पूरी होने के बाद इसे दोबारा 5 साल के लिए बढ़ा सकते हैं. कुल मिलाकर 10 साल तक Post Office RD Account को जारी रखा जा सकता है. निवेशक अपने पति, पत्नी, संतान, अभिभावक या परिचित के साथ संयुक्त रूप से इस अकाउंट को खोल सकता है. पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट के लिए कितने भी खाते खोले जा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: Reliance Jio के इन शानदार प्लान्स में मिल रहे हैं 200GB से ज्यादा इंटरनेट डेटा

कैसे खोल सकते हैं अकाउंट
Indiapost की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट नकद या चेक द्वारा खोला जा सकता है और चेक की जमा की तारीख चेक की मंजूरी की तारीख होगी. मासिक जमा के लिए न्यूनतम राशि 100 रुपये और उससे अधिक न्यूनतम में 10 रुपये के गुणांक में कर सकते हैं. यदि कैलेंडर माह की 15 तारीख तक खाता खोला जाता है, तो बाद में माह के 15वें दिन तक जमा किया जाएगा. अगर खाता एक कैलेंडर माह के 16 वें दिन और अंतिम कार्यदिवस के बीच खोला जाता है तो बाद में माह के के अंतिम कार्य दिवस तक जमा किया जाएगा.

किस्त में देरी पर ये है जुर्माने का नियम
यदि बाद में जमा एक माह के लिए निर्धारित दिन तक नहीं किया जाता है, तो प्रत्येक बकाया माह के लिए एक डिफॉल्ट शुल्क लिया जाता है जो 1 रुपया 100 रुपये मूल्यवर्ग खाते के लिए शुल्क से होगा (अन्य मूल्यवर्ग के लिए आनुपातिक राशि) का शुल्क लिया जाएगा. यदि किसी आरडी खाते में मासिक बकाया है, तो जमाकर्ता को पहले डिफॉल्ट शुल्क के साथ तय मासिक जमा का भुगतान करना होगा और फिर चालू माह के जमा का भुगतान करना होगा. नियमित बकाया के बाद खाता बंद हो जाता है और इसे 4 बकाया से दो महीने के भीतर पुनर्जीवित किया जा सकता है, लेकिन यदि इस अवधि के भीतर खाते को पुनर्जीवित नहीं किया जाता है, तो इस तरह के खाते में कोई और जमा नहीं किया जा सकता है और खाता बंद हो जाता है. यदि मासिक जमा में चार से अधिक बकाया नहीं हैं तो खाताधारक अपने विकल्प पर, खाते की परिपक्वता अवधि को बकाया माह तक बढ़ा सकता है और विस्तारित अवधि के दौरान बकाया किस्तों को जमा कर सकता है.

यह भी पढ़ें: यात्री गाड़ियों के किराये में बढ़ोतरी को लेकर भारतीय रेलवे ने दी सफाई, जानिए क्या है मकसद?

यदि आरडी खाता बंद नहीं किया जाता है, तो किसी खाते में 5 वर्ष तक अग्रिम जमा किया जा सकता है. कम से कम 6 किश्तों की अग्रिम जमा पर छूट (जमा माह सहित), 100 रुपये मूल्यवर्ग पर 10 रुपये 6 महीने के लिए, 40 रुपये की छूट 12 महीने के लिए होगी. अग्रिम जमा खाता खोलने के समय या उसके बाद किसी भी समय किया जा सकता है.

कर्ज की सुविधा
12 किस्तों को जमा करने और खाते को 1 वर्ष तक चालू रखने के बाद बंद नहीं किया गया जमाकर्ता खाते में शेष ऋण का 50 फीसदी तक ऋण सुविधा प्राप्त कर सकता है. ऋण एकमुश्त या समान मासिक किस्तों में चुकाया जा सकता है. ऋण पर ब्याज आरडी खाते पर लागू ब्याज दर +2 फीसदी की दर के रूप में लागू होगा. ब्याज की गणना भुगतान की तिथि से वापसी जमा की तिथि तक की जाएगी. यदि परिपक्वता तक ऋण नहीं चुकाया जाता है, तो आरडी खाते के परिपक्वता मूल्य से ऋण और ब्याज काट लिया जाएगा. संबंधित डाकघर में पासबुक के साथ ऋण आवेदन पत्र जमा करके ऋण लिया जा सकता है.

समय से पहले बंद होना
संबंधित डाकघर में निर्धारित आवेदन पत्र जमा करके खाता खोलने की तारीख से 3 साल बाद आरडी खाता समय से पहले बंद किया जा सकता है. यदि खाता परिपक्वता से एक दिन पूर्व भी बंद किया जाता है तो डाकघर बचत खाता ब्याज दर लागू होगी. समय से पहले खाता बंद करने की अनुमति नहीं होगी, जब तक कि अग्रिम जमा नहीं किया गया हो.

यह भी पढ़ें:  पेट्रोल-डीजल के बाद LPG सिलेंडर में लगी आग, 3 महीने में बढ़े 200 रुपये

परिपक्वता
खोलने की तिथि से 5 वर्ष (60 मासिक जमा) बाद अकाउंट मैच्योर हो जाता है. संबंधित डाकघर में आवेदन देकर खाते को आगे 5 वर्षों के लिए बढ़ाया जा सकता है. विस्तार के दौरान लागू ब्याज दर वह ब्याज दर होगी जिस पर मूल रूप से खाता खोला गया था. एक्सटेंशन की अवधि के दौरान विस्तारित खाते को किसी भी समय बंद किया जा सकता है. पूर्ण वर्षों के लिए, आरडी ब्याज दर लागू होगी और एक वर्ष से कम अवधि के लिए, पीओ बचत खाता ब्याज दर लागू होगी. आरडी खाते को परिपक्वता की तारीख से 5 साल तक बिना जमा के भी रखा जा सकता है. दावे की मंजूरी के बाद, नामांकित / कानूनी उत्तराधिकारी संबंधित डाकघर में आवेदन जमा करके परिपक्वता तक आरडी खाता जारी रख सकते हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 Feb 2021, 12:48:51 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.