News Nation Logo
Banner

Indian Railway: अयोध्या रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, जानिए रेलवे कितना कर रहा है खर्च

Indian Railway: रेलवे के मुताबिक अयोध्या के नये स्टेशन के पहले चरण का निर्माण जून, 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा. रेलवे ने बताया कि स्टेशन दिखने में राम जन्मभूमि मंदिर जैसा होगा. यात्रियों के लिए अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध होंगी.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 03 Aug 2020, 02:11:25 PM
Indian Railway-IRCTC

Indian Railway-IRCTC (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Indian Railway-IRCTC: अयोध्या में भगवान राम के मंदिर (Ram Mandir) के भूमि पूजन की तैयारियां जोर शोर से चल रही हैं. राम मंदिर के साथ ही पूरे क्षेत्र के विकास के लिए भी कई योजनाएं इस समय चल रही हैं. इसी कड़ी में भारतीय रेलवे (Railway) ने भी अयोध्या के रेलवे स्टेशन के लिए बड़ी योजना बनाई है. दरअसल, रेलवे के मुताबिक अयोध्या के नये स्टेशन के पहले चरण का निर्माण जून, 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा. रेलवे ने बताया कि स्टेशन दिखने में राम जन्मभूमि मंदिर जैसा होगा और यहां आने वाले यात्रियों के लिए अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध होंगी.

यह भी पढ़ें: तीन फीसदी महंगा हुआ हवाई ईंधन, रसोई गैस सिलेंडर के दाम में कोई बदलाव नहीं

स्टेशन के निर्माण पर करीब 104 करोड़ रुपये का खर्च आएगा
उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने बताया कि पहले चरण में प्लेटफॉर्म संख्या 1, 2/3 का काम, मौजूदा बरामदा, सीढ़ियों और पैसेज आदि का काम तथा परिसर निर्माण कार्य पूरा किया जाएगा. चौधरी ने बताया कि इस स्टेशन के निर्माण को 2017-18 में मंजूरी मिली थी और इसे बनाने में करीब 104 करोड़ रुपये की लागत आएगी. उन्होंने कहा कि नये अयोध्या स्टेशन के पहले चरण का काम जून, 2021 तक पूरा हो जाएगा. उत्तर रेलवे द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, महत्व को ध्यान में रखते हुए रेलवे अयोध्या स्टेशन पर अत्याधुनिक सुविधाएं, यात्रियों के लिए बेहतर सुविधाएं, स्वच्छता, सुन्दरता और उच्च गुणवत्ता वाली तमाम अन्य अपेक्षित सुविधाएं मुहैया कराने की दिशा में बढ़ रहा है.

यह भी पढ़ें: रेल यात्री कृपया ध्यान दें, भारतीय रेलवे दे सकता है और बुलेट ट्रेन का तोहफा

5 अगस्त को है राम मंदिर का भूमिपूजन समारोह
बता दें कि अयोध्या में राममंदिर निर्माण के लिए होने जा रहा भूमिपूजन समारोह 5 अगस्त यानि बुधवार दोपहर के आसपास होगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी समारोह में भाग लेने की उम्मीद है. इस अवसर को यादगार बनाने के लिए तीन अगस्त से पांच अगस्त तक अयोध्या को रोशनी से सजाया जाएगा और सभी निवासियों को इस अवधि के दौरान अपने घरों में दीया जलाने के लिए कहा गया है. इस दौरान मथुरा, काशी, प्रयागराज, नैमिषारण्य, गोरखपुर और चित्रकूट सहित अन्य धार्मिक शहरों में 'अखंड रामायण पाठ' आयोजित किया जाएगा. इस खास अवसर के लिए कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था की जा रही है और अयोध्या की सीमाओं को सील कर दिया गया है.

First Published : 03 Aug 2020, 08:50:46 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो