News Nation Logo

Amphan: उड़ीसा की स्थिति सामान्य की ओर, बंगाल में भारी तबाही की आशंका, 72 लोगों की मौत: NDRF

चक्रवाती तूफान अल्फान ने पश्चिम बंगाल में भयंकर तबाही मचाई है. अब तक 72 लोगों की जान जा चुकी है. एनडीआरएफ की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि पश्चिम बंगाल में 2 अतिरिक्त टीम चैन्नई और पुणे से पहुंची थी. पेड़ काटने, बिजली, फोन के खम्मों को हटा

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 21 May 2020, 05:21:53 PM
ndrf

ndrf चीफ एस एस प्रधान (Photo Credit: ट्विटर ANI)

कोलकाता:

चक्रवाती तूफान अम्फान (Amphan) ने पश्चिम बंगाल में भयंकर तबाही मचाई है. अब तक 72 लोगों की जान जा चुकी है. एनडीआरएफ (NDRF) की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि पश्चिम बंगाल में 2 अतिरिक्त टीम चैन्नई और पुणे से पहुंची थी. पेड़ काटने, बिजली, फोन के खम्मों को हटाने का काम किया जा रहा है. रात में भी ndrf काम कर रही है. आज सुबह यानि गुरुवार को चक्रवात के बाद कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में उड़ीसा और पश्चिम बंगाल के मुख्यसचिवों की बैठक हुई. उनसे उनकी जरूरतें जानी गई हैं. उड़ीसा में ज्यादा जरूत नहीं है, स्थिति जल्द सामान्य हो सकती है.

यह भी पढ़ें- बंगाल में 'अम्फान' से अब तक 72 लोगों की मौत, ममता बनर्जी ने 2.5 लाख रुपये मृतकों के परिजनों को देने की घोषणा की

पश्चिम बंगाल ने 4 टीमें, 21 टीमों के अलावा ndrf की टीम मांगी

गृह मंत्रालय की टीम आगे नुकसान का जायज़ा लेगी‍. पश्चिम बंगाल ने 4 टीमें, 21 टीमों के अलावा ndrf की टीम मांगी है. यह सभी टीम देर शाम तक पहुंच जाएगी. पश्चिम बंगाल के प्रशासन के अंतर्गत काम करेगी. कोलकाता में भी काम किया जाएगा. उड़ीसा में 90 प्रतिशत फोन और बिजली बाहाल हो चुकी है. पश्चिम बंगाल में 5 लाख लोग सुरक्षित स्थानों पर हैं और अभी वहीं रहेगें. सड़क और घरों को भारी नुकसान हुआ है. एनडीआरएफ का ज्यादा काम अब शूरू हुआ है. हम राज्य सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं. पश्चिम बंगाल प्रशासन को 4 के बाद भी हम अतिरिक्त टीम दें सकते हैं.

यह भी पढ़ें- वसुंधरा राजे और दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल, बीजेपी नेताओं ने जताई नाराजगी

हवा की रफ्तार 155-165km/h

Imd DG मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि जैसी ही अम्फन ने सुंदरवन क्षेत्र में तटरेखा को पार किया. हवा की रफ्तार 155-165km/h तक थी. कोलकाता और हुगली पर प्रभाव पड़ा है. इस्ट और वेस्ट कोर्ट के डॉपलर रैडार ने चक्रवात पर नज़र रखी. drpo के रैडार का भी प्रयोग किया गया है. पूर्वानुमान के अनुसार चली हवा और हुई बारिशय कोलकाता में 7:20 बजे सबसे ज्यादा असर था. 5-9बजे तक रहा पूरा असर.

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 21 May 2020, 05:21:53 PM

Related Tags:

Cyclone Amphan NDRF West Bengal