News Nation Logo

बंगाल में हिंसा पर ममता बनर्जी और राज्यपाल में ठनी! शपथ के तुरंत बाद दोनों में हुई बहस

शपथ ग्रहण समारोह के बाद ही राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी में ठन गई. राजभवन में दोनों के बीच तल्ख तेवर देखने को मिले

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 05 May 2021, 02:18:04 PM
Jagdeep Dhankhar and Mamata Banerjee

बंगाल में हिंसा पर ममता और राज्यपाल में ठनी! शपथ के बाद दोनों में बहस (Photo Credit: ANI)

highlights

  • बंगाल में हिंसा पर CM और राज्यपाल में ठनी
  • शपथ के बाद जगदीप धनखड़ ने दी नसीहत
  • राज्यपाल के बयान पर ममता ने दिया जवाब

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की शानदार जीत के बाद ममता बनर्जी ने आज फिर राज्य के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली है. कोलकाता के राजभवन में 'सिंहासन कक्ष' में आयोजित एक समारोह में ममता बनर्जी को राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई. इसी के साथ ममता बनर्जी लगातार तीसरी बार राज्य की मुख्यमंत्री बन गई हैं. हालांकि इस शपथ ग्रहण समारोह के बाद ही राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी में ठन गई. राजभवन में दोनों के बीच तल्ख तेवर देखने को मिले. राज्यपाल ने शपथ दिलाने के बाद मुख्यमंत्री को नसीहत तक दे डाली तो ममता बनर्जी ने भी इस पर जवाब दिया.

यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी के CM पद की शपथ लेने पर PM नरेंद्र मोदी ने दी बधाई, कही ये बात 

शपथ लेने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा की है कि राज्य में कोविड की स्थिति को संभालना और चुनाव के बाद की हिंसा और राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति से निपटना उनकी प्राथमिकता होगी. ममता बनर्जी ने कहा, 'मैं इस अवसर पर सभी राजनीतिक दलों के सभी लोगों और कार्यकतार्ओं से शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए अपील करना चाहती हूं. बंगाल की अपनी संस्कृति है और हमें यह नहीं भूलना चाहिए. कुछ छिटपुट घटनाएं हैं. मुझे जानकारी मिली है लेकिन प्रशासन पिछले तीन महीनों से मेरे हाथ में नहीं था. मैं सभी को आवश्यक कार्रवाई करने और स्थिति को दृढ़ता से संभालने का आश्वासन देती हूं, लेकिन इससे पहले मैं सभी से शांतिपूर्ण तरीके से रहने की अपील करना चाहूंगी.'

ममता बनर्जी के शपथ लेने के बाद पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उन्हें बधाई दी. राज्यपाल ने कहा, 'मैं तीसरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बधाई देता हूं. आशा है कि शासन संविधान और कानून के नियम के अनुसार चलेगा. हमारी प्राथमिकता इस संवेदनहीन हिंसा का अंत करना है. उम्मीद है कि मुख्यमंत्री कानून के शासन को बहाल करने के लिए तत्काल कदम उठाएंगी.'

यह भी पढ़ें: बंगाल में हिंसा के डर से भागकर असम पहुंचे 300-400 बीजेपी कार्यकर्ता

राज्यपाल ने कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री तुरंत ही राज्य में कानून का राज लागू करेंगी, मुख्य रूप से महिलाओं और बच्चों को जो नुकसान पहुंचा है, उनकी मदद की जाएगी. मैं नई सरकार से उम्मीद करता हूं कि वह संघीय ढांचे का सम्मान करेंगी और राज्य के लिए काम करेंगी. राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री, मेरी छोटी बहन ममता बनर्जी इस पर एक्शन लेंगी, क्योंकि लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री बनना आसान नहीं होता है. मुझे उम्मीद है कि आप नए तरीके से शासन करेंगी.

इसके बाद माइक थामते ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, 'मैं आज से ही अपना काम शुरू करूंगी. मैं नब्बना जाउंगी और राज्य में कोविड की स्थिति पर एक उच्च स्तरीय बैठक करूंगी. हमें स्थिति और कई उपायों की समीक्षा करने की आवश्यकता है. तमाम उपायों के बारे में शाम को घोषणा होगी, हमें उम्मीद है कि हम स्थिति को नियंत्रित करने में सक्षम होंगे जैसा हमने पहले किया था.' ममता ने कहा कि मेरे शपथ लेने से पहले तक राज्य में कानून व्यवस्था का दारोमदार चुनाव आयोग के पास था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 05 May 2021, 02:18:04 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.