News Nation Logo
Banner

बंगाल में गाय और कोयला तस्करी मामले में तीन जिलों में CBI की छापेमारी

कोलकाता के रासबिहारी और चेतला में उसके दो घर हैं, जहां सुबह के समय सीबीआई की टीम पहुंची. इसके अलावा लेकटाउन में भी उसका तीसरा घर है. जहां जांच एजेंसी की टीम ने तलाशी अभियान चलाया.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 31 Dec 2020, 12:49:31 PM
CBI raids in three districts in West Bengal

गाय और कोयला तस्करी मामले में तीन जिलों में CBI की छापेमारी (Photo Credit: न्यूज नेशन)

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल से सटी बांग्लादेश सीमा पार गायों की तस्करी की जांच कर रही केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की टीम ने गुरुवार सुबह से ही सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस से जुड़े एक कारोबारी के कई ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी है. इसके अलावा जांच अधिकारियों की टीम कोयला तस्करी के मामले में भी तलाशी अभियान चला रही है. जांच एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि विनय मिश्रा नाम के एक कारोबारी के कोलकाता स्थित तीन घरों पर छापेमारी चल रही है. कोलकाता के रासबिहारी और चेतला में उसके दो घर हैं, जहां सुबह के समय सीबीआई की टीम पहुंची. इसके अलावा लेकटाउन में भी उसका तीसरा घर है. जहां जांच एजेंसी की टीम ने तलाशी अभियान चलाया.

यह भी पढ़ें : राम मंदिर चंदा रैली पर पथराव के बाद बीजेपी-कांग्रेस आमने-सामने

विनय मिश्रा राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस की युवा इकाई के महासचिव हैं. पिछले कई दिनों फरार विनय मिश्रा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है. जांच एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि गौ तस्करी मामले में गिरफ्तार बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार और इनामुल हक से पूछताछ के बाद विनय मिश्रा के बारे में पता चला था. इनामुल हक के पास से एक डायरी भी बरामद हुई है जिसमें मिश्रा का नाम लिखा गया है.

यह भी पढ़ें : जीतन राम मांझी ने अरुणाचल की घटना पर BJP को दी नसीहत, ऐसी गलती फिर न हो

पता चला है कि विनय मिश्रा का संबंध सत्तारूढ़ पार्टी के बड़े नेताओं से है और पूरे राज्य में गौ तस्करी के कारोबार को बेरोकटोक जारी रखने के लिए कई प्रभावशाली नेताओं की जेब में करोड़ों रुपये डाले गए हैं. इसमें विनय मिश्रा की भूमिका सबसे बड़ी रही है. सीबीआई को उसकी तलाश है. जांच एजेंसियों को संदेह था कि राज्य पुलिस इस मामले में जांच में सहयोग नहीं करेगी. इसलिए छापेमारी करने के लिए निकली सीबीआई की टीम ने अपने साथ सीआरपीएफ की टुकड़ी रखी है. बताया गया है कि विनय मिश्रा के तीनों घरों से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए गए हैं.

हावड़ा-हुगली में कोयला तस्करों के घर रेड
इसके अलावा सीबीआई की टीम ने कोयला तस्करी के आरोपित व्यवसायी नीरज सिंह के कोन्नगर और हावड़ा के सलकिया स्थित आवास पर भी छापेमारी की. नीरज के अलावा दो अन्य कारोबारियों के ठिकाने पर भी तलाशी अभियान चलाए गए हैं. 

यह भी पढ़ें : केरल में विधानसभा का विशेष सत्र, कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित

दरअसल कोयला तस्करी का सरगना अनूप माझी उर्फ लाला है. नीरज सिंह लाला के सहयोगी रहे हैं. सीबीआई की गिरफ्त से लाला फिलहाल फरार है इसलिए उसके करीबी कारोबारियों के घर भी तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. पता चला है कि नीरज ने कोयला तस्करी के बाद हवाला के जरिए ब्लैक मनी को व्हाइट करने में भूमिका निभाई थी. इसलिए सीबीआई इन जगहों पर छापेमारी कर रही है.

खबर है कि नीरज सिंह के घर से भी कुछ दस्तावेज बरामद किए गए हैं. हालांकि कोलकाता, हावड़ा और हुगली तीनों ही जिलों में हुई छापेमारी में आरोपितों को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है. सीबीआई के पहुंचने से पहले ही वे फरार हो गए.

First Published : 31 Dec 2020, 12:44:44 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.