News Nation Logo
Banner

तीन तलाक के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली सायरा बानो BJP में हुई शामिल

Triple Talaq के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में लंबी लड़ाई लड़ने वाली सायरा बानो ने रविवार को कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए भाजपा के प्रगतिशील दृष्टिकोण ने उन्हें पार्टी में शामिल होने के लिए प्रेरित किया.

Bhasha | Updated on: 12 Oct 2020, 12:02:17 PM
bjp

BJP (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

देहरादून:

तीन तलाक (Triple Talaq) के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में लंबी लड़ाई लड़ने वाली सायरा बानो ने रविवार को कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए बीजेपी के प्रगतिशील दृष्टिकोण ने उन्हें पार्टी में शामिल होने के लिए प्रेरित किया. उत्तराखंड बीजेपी (BJP) अध्‍यक्ष बंशीधर भगत की मौजूदगी में शनिवार को पार्टी में शामिल हुई बानो ने कहा, “मूल रूप से मुस्लिम महिलाओं के लिए बीजेपी के प्रगतिशील दृष्टिकोण और तीन तलाक के खिलाफ उसके काम करने की प्रतिबद्धता तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समावेशी विकास के सपने ने मुझे पार्टी में आने के लिए प्रेरित किया.”

और पढ़ें: उत्तराखंड : सड़क दुर्घटना में दो भाजपा नेताओं की मौत

उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा से वंचित मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ने के लिए वह बीजेपी में शामिल हुईं हैं और उन्हें अन्याय से छुटकारा दिलाना चाहती हैं. बानो ने कहा कि वह बीजेपी के बारे में गलत धारणाओं को तोड़ने की कोशिश करेंगी कि वह अल्पसंख्यक विरोधी है. बानो ने कहा, "मैं अल्पसंख्यकों के प्रति पार्टी के निष्पक्ष इरादों में यकीन करती हूं. पार्टी के अल्पसंख्यकों के खिलाफ होने की गलत धारणा को टूटना चाहिए.”

उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले के काशीपुर की निवासी बानो का शनिवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भगत द्वारा पार्टी के वरिष्ठ महासचिव अजय कुमार और उपाध्यक्ष देवेंद्र भसीन सहित वरिष्ठ पार्टी नेताओं की उपस्थिति में बीजेपी में स्वागत किया गया. वह 2016 में उच्चतम न्यायालय में तीन तलाक की प्रथा की संवैधानिकता को चुनौती देने वाली पहली महिला थीं जिन्हें उनके पति ने स्पीड पोस्ट के माध्यम से तलाक दिया था.

और पढ़ें: मुंबई में ग्रिड फेल, कोलाबा-बांद्रा-ठाणे समेत कई इलाकों में बत्ती गुल

यह पूछे जाने पर कि क्या वह चुनाव लड़ेंगी, उन्होंने कहा कि उन्हें पार्टी के टिकट का कोई लालच नहीं है लेकिन पार्टी नेतृत्व द्वारा सौंपी गई किसी भी जिम्मेदारी को स्वीकार करने के लिए वह तैयार हैं. बानो ने कहा, "मैं टिकट के लिए बीजेपी में नहीं आई हूं लेकिन मैं पार्टी द्वारा सौंपी जाने वाली किसी भी जिम्मेदारी को स्वीकार करने के लिए तैयार हूं . मेरा एकमात्र लक्ष्य मुस्लिम महिलाओं के उत्थान और सशक्तिकरण के लिए लड़ना है जो उच्च शिक्षा से दूर रखे जाने जैसे अन्याय को झेल रही हैं. इस संबंध में प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष भगत ने उम्मीद जताई कि बानो उसी संकल्प के साथ पार्टी की विचारधारा के लिए भी लड़ेंगी जिसके साथ उन्होंने तीन तलाक के खिलाफ अपनी कानूनी लड़ाई लड़ी और जीती . 

First Published : 12 Oct 2020, 11:27:24 AM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो