News Nation Logo
Banner

अमेठी में लगे लापता के पोस्टर, स्मृति ईरानी ने दिया ये जवाब

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट्स की एक श्रृंखला में अपने निर्वाचन क्षेत्र अमेठी से उनकी 'अनुपस्थिति' पर सवाल उठाने के लिए कांग्रेस पर पलटवार किया है. स्मृति ईरानी के 'लापता' बताने वाले इस पोस्टर को सोमवार अमेठी में देखा गया.

IANS | Updated on: 02 Jun 2020, 01:06:05 PM
Smriti Irani

स्मृति ईरानी। (Photo Credit: फाइल फोटो)

अमेठी:

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट्स की एक श्रृंखला में अपने निर्वाचन क्षेत्र अमेठी से उनकी 'अनुपस्थिति' पर सवाल उठाने के लिए कांग्रेस पर पलटवार किया है. स्मृति ईरानी के 'लापता' बताने वाले इस पोस्टर को सोमवार अमेठी में देखा गया. कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह द्वारा अपने ट्विटर हैंडल से स्मृति की अनुपस्थिति को लेकर सवाल उठाए गए.

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, "अमेठी में कोरोना ने पहली बार तब कदम रखा, जब आपके नेताओं ने लॉकडाउन के नियम तोड़े. अब आप चाहते हैं कि मैं लोगों को अपने घरों से बाहर निकलने के लिए प्रोत्साहित करूं ताकि आप ट्विटर-ट्विटर खेल सकें? अमेठी शायद आपको प्यारी न होगी, लेकिन मुझे है. लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ करना बंद करें."

यह भी पढ़ें- 'इलेक्ट्रॉनिक और मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग स्कीम से भारत में 20 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा'

एक अन्य ट्वीट में केंद्रीय मंत्री ने लिखा, "सभी नियमों को ध्यान में रखते हुए अब तक 22,150 प्रवासी मजदूर बस से और 8322 ट्रेन से अमेठी में लौट आए हैं. मैं एक-एक परिवार, एक-एक व्यक्ति का नाम बता सकती हूं. क्या सोनिया जी रायबरेली के लिए यही विवरण दे सकती हैं?"

उनके खिलाफ लगाए गए लापता पोस्टर पर बात करते हुए स्मृति ने ट्वीट किया, "अगर आपने पोस्टर लगाए हैं, तो कम से कम अपना नाम भी दे देतें. इतना क्यों शर्माना? क्या ऐसा इसलिए है क्योंकि आप जानते हैं कि जनता शायद उन्हें कभी माफ नहीं करेगी जिन्होंने शर्मनाक ढंग से उस वाक्ये का हवाला दिया है, जहां मैं एक स्थानीय नेता के दाह संस्कार में शामिल हुई थी?"

यह भी पढ़ें- जान की कीमत होती है, अमेरिका में हो रहे प्रदर्शन से सबक ले सरकार : मायावती

उन्होंने आगे कहा कि वह लगातार जिला अधिकारियों के संपर्क में रही हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए प्रयास किया है कि हर संबंधित व्यक्ति को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ मिल सकें.

उन्होंने पूछा, "कृपया हमें बताएं कि कितनी बार सोनिया जी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लिए इस तरह के प्रयास किए हैं?"

स्मृति ने आगे यह भी कहा, "मैं आठ महीने में दस बार अमेठी गई हूं और 14 दिन अमेठी में बिताए हैं. सोनिया जी कितनी दफा गई हैं अपने निर्वाचन क्षेत्र में?"

स्मृति ईरानी के खिलाफ इस लापता पोस्टर को कांग्रेस के विभिन्न नेताओं द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर व्यापक रूप से साझा किया गया, हालांकि उन्होंने इस तथ्य को स्वीकारने से इंकार कर दिया कि पोस्टर पार्टी के नेताओं द्वारा ही लगाए गए हैं.

यह भी पढ़ें- हिंसा, लूट, अराजकता, अव्यवस्था बर्दाश्त नहीं की जाएगी : व्हाइट हाउस

पोस्टर में बताया गया कि बीजेपी सांसद ने 2019 का चुनाव जीतने के बाद केवल दो ही बार महज कुछ घंटों के लिए जिले का दौरा किया है.

इस ब्लैक एंड व्हाइट पोस्टर में स्मृति की तस्वीर के साथ आगे यह भी लिखा है, "हमने आपको ट्विटर के माध्यम से अंताक्षरी खेलते हुए देखा है. हमने आपके माध्यम से एकात व्यक्ति को लंच देते हुए देखा है, लेकिन अमेठी के सांसद होने के नाते से आज इस विपरीत समय में अमेठी की मासूम जनता अपनी आवश्यकताओं और परेशानियों के लिए आपको ढूंढ़ रही है, बिगत कई महीनों की परेशानियों के बीच में यूं ही अमेठी की जनता को निराश्रित छोड़ देना यह दर्शाता है कि शायद अमेठी आपके लिए महज टूर हब है. क्या अब आप अमेठी में सिर्फ कंधा ही देने आयेंगी?"

ऑल इंडिया महिला कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस पोस्टर को शेयर किया गया है.

First Published : 02 Jun 2020, 01:06:05 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.