News Nation Logo

यूपी में डबल इंजन नहीं, डबल दुर्गति की सरकार : अखिलेश

अखिलेश यादव ने कहा, बीजेपी राज में महिलाओं के खिलाफ अपराध थम नहीं रहे हैं. चाहे गोरखपुर मंडल हो या अन्य मंडल सब में अपराधों के आंकड़ों में एक-दूसरे को पछाड़ने की होड़ लगी है. पिछले दो सालों की अपेक्षा इस साल आठ महीने में ही महिलाओं के प्रति अपराध की

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 06 Sep 2020, 07:08:46 AM
Akhilesh Yadav

अखिलेश यादव (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:  

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 'डबल इंजन की नहीं, डबल दुर्गति' की सरकार है. अखिलेश यादव ने यहां शनिवार को अपना बयान जारी कहा कि उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार के नाम पर विकास के बड़े-बड़े सपने दिखाए गए थे, बीजेपी ने बिना कुछ काम किए साढ़े तीन साल बिता दिए. अब तो सभी यह मानने लगे हैं कि उत्तर प्रदेश में डबल इंजन नहीं डबल दुर्गति की सरकार है.

यह भी पढ़ें : UP B.Ed Entrance Exam के रिजल्ट जारी, जानिए कब होगी काउंसिलिंग

अखिलेश यादव ने कहा कि इस सरकार के गठन के समय मुख्यमंत्री ने दावा किया था कि अपराधी या तो जेल में होंगे या फिर प्रदेश के बाहर हो जाएंगे. लगता है, मुख्यमंत्री ने भी भारतीय जनता पार्टी की पंरपरा को निभाते हुए अपने वादों को जुमला मानकर, कोई सख्त कदम उठाने के बजाय आंख मूंदकर बैठ गए हैं. सूबे हो रही आपराधिक घटनाएं दिखाई नहीं दे रही है. प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है. सीएम फिर भी कहते हैं कानून व्यवस्था दुरुस्त है.

यह भी पढ़ें : कांग्रेस के कंधे पर रखकर बंदूक चला रहा है चीन, बीजेपी का आरोप

महिलाओं के खिलाफ अपराध बढ़ा
समाजवादी पार्टी के मुखिया ने कहा कि बीजेपी राज में महिलाओं के खिलाफ अपराध थम नहीं रहे हैं. चाहे गोरखपुर मंडल हो या अन्य मंडल सब में अपराधों के आंकड़ों में एक-दूसरे को पछाड़ने की होड़ लगी है. पिछले दो सालों की अपेक्षा इस साल आठ महीने में ही महिलाओं के प्रति अपराध की घटनाएं बढ़ गई हैं. महिलाओं, बच्चियों से दुष्कर्म की घटनाएं 8 महीने में पिछले साल के बराबर घटी है. महिलाओं के खिलाफ लगातार हो रही वारदातों के बाद भी प्रदेश सरकार मौन है, आंखें बंद करके बैठी है.

यह भी पढ़ें : रेलवे में होनी है 1.40 लाख पदों पर भर्ती, 15 दिसंबर से हो सकता है एग्जाम, पढ़ें पूरी खबर

पीड़ित को सरकार 25 लाख की मदद दे
सपा अध्यक्ष ने कहा कि रायबरेली, बलिया के बाद श्रावस्ती के गिलौला थाने में आठ दिन ननके दर्जी को हिरासत में रखकर थर्ड डिग्री टार्चर किया गया. जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई. इस घटना के पीड़ित परिजनों से मिलने और संवेदना जताने जा रहे समाजवादी पार्टी के एमएलसी डॉ़ राजपाल कश्यप और श्रावस्ती के जिलाध्यक्ष को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार को समाजवादी पार्टी एक लाख रुपये की मदद देगी. भारतीय जनता पार्टी की सरकार कम से कम 25 लाख रुपये की मदद दे.

First Published : 06 Sep 2020, 07:08:46 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.