News Nation Logo

योगी सरकार ने हेल्थ फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कोविड के दौर में किया ये बड़ा ऐलान

कोविड चिकित्सालय में MBBS इंटर्न को ₹500 प्रतिदिन, MSC नर्सिंग को ₹400 प्रतिदिन, BSC नर्सिंग को ₹300 प्रतिदिन MBBS अंतिम वर्ष और GNM के छात्र छात्राओं को ₹300 प्रतिदिन मानदेय पर तैनाती के निर्देश.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 06 May 2021, 11:16:13 PM
Important decision of Yogi Government

हेल्थ फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कोविड के दौर में किया बड़ा ऐलान (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • हेल्थ फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कोविड के दौर में बड़ा ऐलान
  • यूपी सरकार ने प्रोत्साहन राशि और मानदेय को लेकर जारी किया आदेश
  • चिकित्सक, नर्स, पैरामेडिकल और सफाई कर्मियों को मिलेगी 25% अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि

 

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने हेल्थ फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कोविड के दौर में बड़ा ऐलान. यूपी सरकार ने प्रोत्साहन राशि और मानदेय को लेकर जारी किया आदेश. कोविड चिकित्सालय में तैनात चिकित्सक, नर्स, पैरामेडिकल और सफाई कर्मियों को मिलेगी 25% अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि. नियमित और आउटसोर्सिंग दोनों कर्मियों को मूल वेतन का 25% अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि के रूप में देने के निर्देश. कोविड चिकित्सालय में डॉक्टर और पैरामेडिकल की कमी पर सरकार का निर्देश. कोविड चिकित्सालय में MBBS इंटर्न को ₹500 प्रतिदिन, MSC नर्सिंग को ₹400 प्रतिदिन, BSC नर्सिंग को ₹300 प्रतिदिन MBBS अंतिम वर्ष और GNM के छात्र छात्राओं को ₹300 प्रतिदिन मानदेय पर तैनाती के निर्देश. कोविड चिकित्सालय में स्वास्थ्य कर्मियों की कमी दूर करने के लिए निजी क्षेत्र और सेवानिवृत्त स्वास्थ्य कर्मियों को मानदेय के आधार पर तैनाती के निर्देश.

यह भी पढ़ें : टेकऑफ करते ही विमान का पहिया हुआ अलग, बीच आसमान में अटकीं सांसें, यूं बची जान

सेवानिवृत्त और निजी कर्मियों को भी 25% अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि देने के निर्देश. कोविड जांच लैब में तैनात कर्मियों को 10% अतिरिक्त धनराशि प्रोत्साहन रूप के रूप में देने के निर्देश. 10 बेड पर एक डॉक्टर, 7 बेड पर एक नर्स, 15 बेड पर एक वार्ड ब्वाय और 15 बेड पर एक सफाई कर्मी तैनाती के निर्देश. 1 मई से 31 जुलाई 2021 तक लागू रहेगी नई व्यवस्था.

यह भी पढ़ें :दिल्ली: एम्बुलेंस की नाजायज वसूली पर रोक, अधिकतम किराया किया फिक्स

बता दें कि सीएम योगी का ऑक्सीजन सप्लाई के लिए एक और बड़ा निर्णय, क्रायोजेनिक टैंकर्स के लिए जारी होगा ग्लोबल टेंडर. कोविड वैक्सीन के ग्लोबल टेंडर के बाद, ऑक्सीजन सप्लाई के टैंकर के खरीद के लिए भी ग्लोबल टेंडर. कोविड के इस दौर में ऑक्सीजन की आपूर्ति को सुचारू रखने के लिए यूपी सरकार क्रायोजेनिक टैंकरों की खरीद के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करेगी.

यह भी पढ़ें :दिल्ली से चलने वाली 29 ट्रेनें रद्द, कोरोना की वजह से रेलवे ने लिया फैसला

सीएम योगी ने जल्द ग्लोबल टेंडर जारी करने के दिये आदेश. ऑक्सीजन सप्लाई के लिए टैंकरों की संख्या और बढ़ाये जाने की आवश्यकता है. क्रायोजेनिक टैंकरों के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए. ऑक्सीजन सप्लाई के किये टैंकरों के ग्लोबल टेंडर से ऑक्सीजन सप्लाई में आएगी और तेजी. वर्तमान समय में औद्योगिक समूहों की तरफ से उपलब्ध कराए गए ऑक्सीजन के सप्लाई के लिए 89 टैंकर क्रियाशील हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 May 2021, 11:16:13 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.