News Nation Logo

कोरोनाः एक्शन में सीएम योगी, गावों में टेस्टिंग बढ़ाने का दिया निर्देश

सीएम योगी अब ना सिर्फ अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें करके उनको निर्देश दे रहे हैं, बल्कि फील्ड पर उतरकर जमीनी हकीकत भी चेक कर रहे हैं. सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) ने कल ही मुरादाबाद और बरेली का दौरा करके वहां की स्थिति का जायजा लिया था.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 09 May 2021, 07:57:15 PM
CM Yogi Adityanath

CM Yogi Adityanath (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • अब 18 जिलों में लगेगी 18+ को वैक्सीन
  • गावों में स्क्रीनिंग-टेस्टिंग बढ़ाने का निर्देश
  • तीसरी लहर से बचने के लिए शुरू किया काम

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में कोरोना (Coronavirus) से मचे हाहाकार पर अब सीएम योगी (CM Yogi) फील्ड पर उतर आए हैं. सीएम योगी अब ना सिर्फ अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें करके उनको निर्देश दे रहे हैं, बल्कि फील्ड पर उतरकर जमीनी हकीकत भी चेक कर रहे हैं. सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) ने कल ही मुरादाबाद और बरेली का दौरा करके वहां की स्थिति का जायजा लिया था. उन्होंने कहा कि कोरोना (COVID-19) संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के आशाजनक परिणाम आ रहे हैं. कोविड संक्रमण से बचाव एवं उपचार की व्यवस्थाओं को और प्रभावी बनाए जाने पर बल देते हुए उन्होंने सभी संबंधित विभागों को अपने कार्यों में और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं.

ये भी पढ़ें- मेदांता अस्पताल में आजम खान और उनके बेटे के लिए बेड आरक्षित, दोनों कोरोना पॉजिटिव

अधिकारियों के साथ की उच्च स्तरीय बैठक

प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री ने आज वर्चुअल माध्यम के जरिए एक उच्चस्तरीय बैठक की. बैठक में अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को ताजा हालातों से अवगत कराया गया. इसके साथ ही कोविड से निपटने के लिए क्या प्रयास किए जा रहे हैं, इसे भी बताया. अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24 घण्टों में 2 लाख 29 हजार 186 टेस्ट किए गए हैं. पिछले 24 घण्टों में 23,333 नए मामले मिले हैं जबकि 34,636 व्यक्तियों को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है. वर्तमान में प्रदेश में कोविड के एक्टिव केसेज की संख्या 02 लाख 33 हजार 981 है. यह 30 अप्रैल 2021 को सर्वाधिक एक्टिव मामलों की संख्या से लगभग 77 हजार कम है.

17 मई तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

बैठक में सीएम योगी ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू को 17 मई 2021 की सुबह 7 बजे तक बढ़ाने का फैसला लिया. इस अवधि में चिकित्सा सबंधी कार्य, वैक्सीनेशन, औद्योगिक गतिविधियों सहित आवश्यक और अनिवार्य सेवाएं यथावत जारी रहेंगी. उन्होंने कहा कि सभी माध्यमिक, उच्च एवं प्राविधिक शिक्षण संस्थानों को 20 मई, 2021 तक बन्द रखा जाए. इस अवधि में ऑनलाइन कक्षाएं भी स्थगित रहेंगी. ज्ञातव्य है प्राथमिक स्तर की शिक्षण संस्थाओं को पहले ही 20 मई 2021 तक के लिए बन्द कर दिया गया है.

अब 18 जिलों में लगेगी 18+ को वैक्सीन

10 मई से प्रदेश के 11 अन्य जनपदों में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग का वैक्सीनेशन प्रारम्भ हो रहा है. इसके लिए सुचारु व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के निर्देश देते हुए सीएम योगी ने कहा कि पर्याप्त संख्या में वैक्सीनेशन सेण्टर स्थापित किये जाएं. वैक्सीनेशन में वेस्टेज को न्यूनतम करने के लिए प्रभावी प्रयास किये जायें. उन्होंने कहा कि देश में सर्वाधिक संख्या में वैक्सीन का इस्तेमाल प्रदेश में ही किया जाना है. इसको देखते हुए वैक्सीन की सुचारू उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए गहन प्रयास किये जाएं.

गावों में टेस्टिंग बढ़ाने का निर्देश

सीएम योगी ने गांवों में विशेष स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग अभियान को और तेजी से चलाने का आदेश दिया. इसके लिए प्रत्येक दशा में सभी जनपदों में पर्याप्त संख्या में RRT का गठन किया जाए. मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि ग्रामीण इलाकों में स्क्रीनिंग के दौरान निगरानी समितियों द्वारा सभी लक्षणयुक्त तथा संक्रमण की दृष्टि से संदिग्ध लोगों को मेडिकल किट उपलब्ध करायी जाए. अभियान के दौरान RRT द्वारा पूरी सक्रियता से एण्टीजन टेस्ट किये जायें.

ये भी पढ़ें- यूपीः लखनऊ पहुंच रही डेढ़ लाख और वैक्सीन की डोज, वैक्सीनेशन में आएगी तेजी

दोगुनी होगी कोविड बेड की संख्या

विशेषज्ञों द्वारा कोविड की तीसरी लहर की चेतावनी को देखते हुए मुख्यमंत्री ने कोविड बेड की संख्या को दो गुना किये जाने के निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि प्रत्येक जनपद में बच्चों के इलाज के लिए पीडियाट्रिक ICU (पीकू) की स्थापना का कार्य अभी से प्रारम्भ किया जाए. छोटे जनपदों में 25  बेड और बड़े जनपदों एवं मण्डल मुख्यालयों में 100 बेड तक का पीकू स्थापित किया जाए. साथ ही, पीडियाट्रीशियन की ट्रेनिंग का कार्य भी साथ ही साथ चलाया जाए. उन्होंने कहा कि सभी कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में मानव संसाधन की उपलब्धता के लिए भर्ती प्रक्रिया को तेज किया जाए.

स्पॉट रजिस्ट्रेशन नहीं होगा

मुख्यमंत्री ने वैक्सीनेशन सेण्टर पर भीड़ को नियंत्रित रखने के लिए पूर्व पंजीकृत लोगों का ही वैक्सीनेशन किए जाए जाने का आदेश दिया. सीएम ने स्पष्ट कहा कि स्पॉट रजिस्ट्रेशन किसी भी दशा में नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन सेण्टर पर उन्हीं लोगों को बुलाया जाए, जिनका वैक्सीनेशन किया जाना है. टीकाकरण केंद्र पर बुलाए जाने वाले लोगों के आने का निश्चितता भी निर्धारित तिथि से एक-दो दिन पूर्व फोन के माध्यम से  किया जाए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 May 2021, 07:57:15 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.