News Nation Logo

प्रिंसिपल ने मदरसे में आधुनिक शिक्षा की वकालत की तो मिली धमकी

Avinash Singh | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 11 Sep 2022, 09:43:46 PM
madrassa

प्रिंसिपल ने मदरसे में आधुनिक शिक्षा की वकालत की तो मिली धमकी (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:  

उत्तर प्रदेश में मदरसों के सर्वे का काम शुरू हो चुका है. इसी बीच आजमगढ़ के मदरसा अरबिया कासिमुल उलूम मंगरावा के प्रिंसिपल ने एक सनसनीखेज आरोप लगाया है. मदरसे के प्रिंसिपल मुफ्ती अब्दुल कादिर का कहना है कि जब उन्होंने अपने मदरसे में दीनी तालीम के साथ दुनियावी तालीम (आधुनिक शिक्षा) की बात कही तो उन्हें रुढ़िवादी मौलानाओं का विरोध झेलना पड़ा. न सिर्फ मौलाना बल्कि उनके मदरसा प्रबंधन को मदरसे में आधुनिक शिक्षा की बात सही नहीं लगी. इस पर प्रबंधन ने भी उन्हें तरह-तरह से प्रताड़ित किया, उन्हें धमकियां दी गई. मजबूरन वो पिछले महीने से ही छुट्टी पर हैं. 

यह भी पढ़ें : सोनाली फोगाट हत्याकांड : महापंचायत में उठी CBI जांच की मांग, दी ये चेतावनी

हालांकि, इस संबंध में अब्दुल कादिर ने आजमगढ़ में संबंधित थाने पर शिकायत की है. अब्दुल कादिर जिस मदरसा के प्रिंसिपल हैं वो मदरसा सरकार द्वारा अनुदानित है. अब्दुल कादिर का आरोप है कि उनके मदरसे का प्रबंधन भारी भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है. अब्दुल कादिर का कहना है कि योगी सरकार की सर्वे की नीति मदरसों के उद्धार के लिए बहुत जरूरी है.

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल में BJP की रैली पर बमबारी, TMC पर लगाया आरोप

गौरतलब है कि योगी सरकार मदरसों का सर्वे करा रही है. सरकार की मंशा है कि मदरसों के बच्चों को अभी अच्छी सुविधा और आधुनिक शिक्षा मिले. तमाम मुस्लिम संगठन सरकार के इस फैसले के खिलाफ है, लेकिन मदरसों में पढ़ने वाले तमाम मौलाना सरकार के साथ भी खड़े हैं.

First Published : 11 Sep 2022, 09:42:15 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.