News Nation Logo

राम मंदिर निर्माण में नई मुश्किल, सरयू की धारा ने बढ़ाई टेंशन

प्रधानमंत्री के पूर्व मुख्य सचिव नृपेंद्र मिश्रा की अगुआई में बनी निर्माण समिति ने मंगलवार को मीटिंग की. इस मीटिंग में तय किया गया है कि नींव के नीचे सरयू नदी की धारा मिलने की वजह से मंदिर के लिए पहले से तैयार मॉडल ठीक नहीं है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 30 Dec 2020, 12:39:20 PM
Ayodhya Ram temple

राम मंदिर निर्माण में नई मुश्किल, सरयू की धारा ने बढ़ाई टेंशन (Photo Credit: न्यूज नेशन )

अयोध्या:

राम मंदिर निर्माण में अब नई दिक्कत सामने आ रही है, जिसकी वजह से हर कोई परेशान हैं. दरअसल, राम मंदिर की नींव के नीचे सरयू नदी की धार मिली है, जिसकी वजह से निर्माण काम में दिक्कतें आ सकती हैं. सूत्रों के अनुसार, मंदिर की नींव के नीचे नदी की धार मिलने से राम मंदिर ट्रस्ट परेशान हो गया है. इस मामले को लेकर निर्माण कमेटी ने मंगलवार को दिल्ली के तीन मूर्ति पर बैठक भी की है. साथ ही मंदिर ट्रस्ट निर्माण के लिए इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से मदद करने का आग्रह किया है.  

यह भी पढ़ें : मथुरा में RSS ऑफिस पर पथराव, दो स्वयंसेवक घायल

बता दें कि प्रधानमंत्री के पूर्व मुख्य सचिव नृपेंद्र मिश्रा की अगुआई में बनी निर्माण समिति ने मंगलवार को मीटिंग की. इस मीटिंग में तय किया गया है कि नींव के नीचे सरयू नदी की धारा मिलने की वजह से मंदिर के लिए पहले से तैयार मॉडल ठीक नहीं है. ट्रस्ट ने आईआईटी से मंदिर की मजबूत नींव के निर्माण के लिए मदद मांगी है. 

यह भी पढ़ें : यूपी बोर्ड के प्री बोर्ड एग्जाम 15 जनवरी से होंगे, जानें कब है अंतिम तिथि

गौरतलब है कि मंदिर का निर्माण 2023 में पूरा होना है. सूत्रों ने बताया कि फिलहाल समिति दो तरीकों पर गौर कर रही है. पहला राफ्ट को सहायता देने के लिए वाइब्रो पत्थर का इस्तेमाल और दूसरा इंजीनियरिंग मिश्रण मिलाकर मिट्टी की क्वालिटी और पकड़ को बेहतर बनाया जाए.

First Published : 30 Dec 2020, 12:34:46 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.