News Nation Logo
Banner

तमिलनाडु में साइक्लोन को लेकर अलर्ट, बस-ट्रेन सेवाएं निलंबित

मौसम विभाग ने इस दौरान हवा 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे या फिर 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने की संभावना भी जताई है. चेन्नई, कडलूर, नागपट्टिनम, एन्नोर, कट्टुपल्ली, पुदुचेरी और कराईकल बंदरगाहों पर खासतौर पर सावधानी बरतने को भी कहा गया है.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 24 Nov 2020, 11:13:27 AM
Cyclone Nirvana

तमिलनाडु में साइक्लोन को लेकर अलर्ट (Photo Credit: IANS)

चेन्नई:

भारत के दक्षिण-पश्चिम में और बंगाल की खाड़ी से सटे दक्षिण-पूर्व में कम दबाव वाला क्षेत्र एक डिप्रेशन में बदल गया है. क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने सोमवार को यह जानकारी दी. यह डिप्रेशन फिलहाल पुदुचेरी से लगभग 550 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व और चेन्नई से 590 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में स्थित है. मौसम विभाग ने कहा, "इसके अगले 24 घंटों के दौरान एक चक्रवाती तूफान (निवार) में तब्दील होने की संभावना है. इसके 25 नवंबर की दोपहर के आसपास उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और कराईकल और ममल्लापुरम के बीच तमिलनाडु और पुदुचेरी के तटों को पार करने की संभावना है."

यह भी पढ़ें : बढ़ी ठंड, न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार

मौसम विभाग ने इस दौरान हवा 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे या फिर 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने की संभावना भी जताई है. चेन्नई, कडलूर, नागपट्टिनम, एन्नोर, कट्टुपल्ली, पुदुचेरी और कराईकल बंदरगाहों पर खासतौर पर सावधानी बरतने को भी कहा गया है.

यह भी पढ़ें : दिल्ली में प्रदूषण ने फिर बढ़ाई टेंशन, AQI लेवल 400 के करीब

मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को तमिलनाडु के जिले नागापट्टिनम, तंजावुर, तिरुवरुर, अरियालुर, मयिलादुथुराई, चेन्नई, तिरुवल्लुर, चेंगलपट्टू, कांचीपुरम, तिरुचिरापल्ली, पेरम्बलुर, पुदुकोट्टई, कुड्डलोर, विल्लुपुरम, वेल्लोर, रानीपेट, तिरुवन्नमलाई और कल्लाकुरिची और पुदुचेरी के कराईकल, तटीय आंध्र प्रदेश एवं रायलसीमा में भारी बारिश होने की संभावना है.

यह भी पढ़ें : क्या अमित शाह सो रहे थे जो 30 हजार रोहिंग्या रजिस्टर्ड हो गए- ओवैसी

इस बीच तमिलनाडु के राजस्व मंत्री आर. बी. उदयकुमार ने मीडिया को बताया कि चक्रवात से निपटने के लिए आवश्यक प्रबंध किए गए हैं. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की छह टीमों को कुड्डलोर भेजा गया है. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) ने चक्रवात ‘निवार’ (Nivar) के मद्देनजर राहत और बचाव कार्य शुरू करने के लिए 30 दलों को तैयार किया है. एनडीआरएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 12 दलों की पूर्व तैनाती कर दी गयी है, वहीं 18 अन्य इन राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में तैनाती के लिए तैयार हैं.

First Published : 24 Nov 2020, 10:44:50 AM

For all the Latest States News, South India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.